Breaking News

धोलीपाल-रोड़ांवाली में निजी बसों का चक्काजाम

  • किराया न देने पर विद्यार्थियों से मारपीट का आरोप
  • धोलीपाल में डीटीओ ने सीज की निजी बसें

HanumanGarh, SachKahoon News: विद्यार्थियों से मनमानीपूर्वक जबरन किराया वसूलने व किराया नहीं देने पर मारपीट करने के आरोप में बुधवार को धोलीपाल व रोड़ांवाली के ग्रामीणों का आक्रोश भड़क उठा। आक्रोशित ग्रामीणों ने दोनों गांवों के बस स्टैंड पर निजी बसों के चक्के थाम दिए तथा विरोध-प्रदर्शन किया। इस दौरान किसी भी निजी बस को वहां से नहीं गुजरने दिया। निजी बसों की सवारियां अन्य वाहनों में सवार होकर गन्तव्य को रवाना हुई।
ग्रामीणों ने विद्यार्थियों को निजी बसों में किराए में छूट देने की मांग की। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर निजी बस आॅपरेटरों की यही मनमानी जारी रही तो वे वीरवार से अनिश्चितकाल के लिए निजी बसों के पहिए जाम कर देंगे। धोलीपाल में सुबह करीब नौ बजे शुरू हुए विरोध-प्रदर्शन में शामिल ग्रामीणों का आरोप था कि निजी बस आॅपरेटर गांव के विद्यार्थियों से मनमाने व अनुचित तरीके से किराया वसूल रहे हैं। जब इसका विरोध किया जाता है तो विद्यार्थियों से अभद्र व्यवहार किया जाता है। किराया न देने वाले छात्रों के साथ गाली-गलौच व मारपीट की जाती है। बकायदा इसके लिए सतीपुरा बाइपास पर एक दर्जन से अधिक गुर्गे खड़े रहते हैं। बस से उतारकर छात्रों से मारपीट की जाती है। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि सोमवार व मंगलवार को दो दिन विद्यार्थियों से किराया न देने पर मारपीट की गई। जंक्शन स्थित एक कॉलेज में पढ़ने जा रहे गांव के छात्र प्रवीण भादू, वकील सिंह, अभिषेक तरड़ आदि को निजी बस के चालक-परिचालक ने सतीपुरा बाइपास पर उतार दिया तथा वहां खड़े गुर्गांे ने मारपीट की। विरोध-प्रदर्शन की सूचना मिलने पर सदर थाने के सहायक उप निरीक्षक कैलाशचन्द्र मय पुलिस टीम मौके पर पहुंचे तथा आक्रोशित ग्रामीणों से समझाइश की।

तहसीलदार से वार्ता में बनी बात
दोपहर करीब साढ़े 12 बजे तहसीलदार सुभाषचन्द्र मौके पर पहुंचे। उन्होंने ग्रामीणों से वार्ता की। वार्ता में तहसीलदार ने निजी बस आॅपरेटरों को बुलाकर किराए के संबंध में बातचीत करने का आश्वासन दिया। साथ ही कहा कि मारपीट व अभद्र व्यवहार के संबंध में विद्यार्थी उन्हें लिखित में दें। थाने में मामला दर्ज करवाया जाएगा।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top