यूआईटी, कोटा के एईएन के तीन ठिकानों पर एसीबी के छापे

Jaipur News

आय से अधिक संपत्ति के मामले में बड़े खुलासे | Jaipur News

जयपुर (सच कहूं न्यूज)। एसीबी की इन्टेलिजेंस इकाई की विशेष अनुसंधान इकाई (एस.आई.डब्ल्यू.) एवं विभिन्न टीमों ने कोटा के नगर विकास न्यास में प्रतिनियुक्ति पर तैनात सहायक अभियंता कमल मीणा के कोटा में स्थित 3 विभिन्न ठिकानों पर तलाशी अभियान चलाया। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (Anti Corruption Bureau) के अतिरिक्त महानिदेशक हेमन्त प्रियदर्शी (कार्यवाहक महानिदेशक) ने बताया कि ब्यूरो मुख्यालय द्वारा कमल मीणा के विरूद्ध शिकायत का सत्यापन कर आय से अधिक परिसम्पत्तियां अर्जित करने का मामला बनना पाये जाने पर प्रकरण दर्ज किया गया। आरोपी कमल मीणा का मूल विभाग राजस्थान राज्य कृषि विपणन बोर्ड है। Jaipur News

29 आवासीय व कृषि भूखंडों के दस्तावेज बरामद | Anti Corruption Bureau

प्रकरण दर्ज करने के बाद अनुसंधान अधिकारी ललित शर्मा विशेष अनुसंधान इकाई, जयपुर के नेतृत्व में ब्यूरो की एस.आई.डब्ल्यू जयपुर इकाई तथा इन्टेलिजेंस यूनिट के सहयोग से अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रेरणा शेखावत एसीबी कोटा ग्रामीण, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेश आर्य ए.सी.बी. टोंक, उप अधीक्षक पुलिस नीरज भारद्वाज एसीबी जयपुर ग्रामीण, पुलिस निरीक्षक रघुवीर शरण एसीबी एस.आई.यू. जयपुर एवं उनकी टीमों ने बुधवार अलसुबह उनके कोटा स्थित 3 विभिन्न ठिकानों पर तलाशी की कार्रवाई की। ब्यूरो की प्रथम सूचना रिपोर्ट के प्राथमिक आकलन एवं अब तक मिले दस्तावेजों के अनुसार कमल मीणा एवं उनकी पत्नी द्वारा अनेक परिसम्पत्तियां अर्जित करने की सूचना है, जो उनकी वैध आय से आनुपातिक रूप से कहीं अधिक है।

37 तोले सोने के जेवरात व डेढ किलो चांदी जब्त | Jaipur News

आरोपी सहायक अभियंता ने अपनी अवैध आय को कोटा, जयपुर, केशोरायपाटन, बूंदी में आवासीय/व्यावसायिक/भूखण्डों फ्लेटों एवं म्यूचअल फण्ड, इन्श्योरेन्स आदि में निवेश करना ज्ञात हुआ है। आरोपी एवं उसके परिजनों के नाम से विभिन्न स्थानों पर स्थित करीब 29 आवासीय एवं कृषि भूखण्डों के दस्तावेज बरामद हुए हैं। इनकी बाजार कीमत करोड़ों रुपयों की मानी जा रही है। आरोपी के घर एवं बैंक लॉकरों से भी करीब 37 तोला स्वर्ण आभूषण, 1 किलो 500 ग्राम चांदी एवं नगदी बरामद हुई है। एसीबी उप महानिरीक्षक डॉ. रवि के निर्देशन में ए.सी.बी. की विभिन्न टीमों द्वारा आरोपी के ठिकानों पर तलाशी अभियान जारी है। Jaipur News

यह भी पढ़ें:– विदेशी प्रतिनिधी दल ने जयपुर मेट्रो का किया दौरा