भवानीपुर विधानसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव पर देश भर की टिकी नजर

0
66
Political, Democratic System, Government, Mamata Banerjee

बंगाल उपचुनाव: तैनात होंगी केंद्रीय बलों की 52 कंपनियां

कोलकाता (एजेंसी)। पश्चिम बंगाल के भवानीपुर, शमशेरगंज और जांगीपुर विधानसभा सीट पर 30 सितंबर को होने वाले उपचुनावों में केंद्रीय अर्द्धसैनिक बलों की करीब 52 कंपनियां तैनात की जायेंगी। केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की महिला इकाई के एक सेक्शन ने दक्षिण कोलकाता के संवेदनशील भवानीपुर इलाके में रूट मार्च किया। भवानीपुर विधानसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव पर राज्य की ही नहीं बल्कि देश भर की नजर टिकी है, क्योंकि इस सीट से मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी चुनाव लड़ रही हैं। इससे पहले मार्च-अप्रैल चुनाव के दौरान नंदीग्राम सीट से वह भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार शुवेन्दु अधिकारी से हार गयी थीं।

ममता को सीएम पद बरकरार रखने के लिए यह चुनाव जीतना जरूरी

बनर्जी को मुख्यमंत्री पद बरकरार रखने के लिए भी उपचुनाव को जीतना जरूरी होगा। इस कारण भी सुश्री बनर्जी के लिए यह उपचुनाव प्रतिष्ठा का प्रश्न बन गया है। पूर्व में दो बार इस सीट पर चुनाव जीत चुकीं सुश्री बनर्जी का इस बार सामना भाजपा उम्मीदवार और अधिवक्ता प्रियंका टिबरेवाल और माकपा के श्रीजीव विस्वास से है। तीनों उम्मीदवार तथा साथ ही उनके चुनाव प्रबंधक पिछले एक हफ्ते से अपने-अपने तरीके से मतदाताओं को रिझाने में लगे हुए हैं।

15 कंपनियां पहले ही पहुंची

सूत्रों ने कहा कि चुनावी कार्यों के लिए केंद्रीय सशस्त्र बलों की 15 कंपनियां पहले ही पहुंच चुकी हैं। बाकी 37 कंपनियां आने वाले दिनों में आएंगी। इनमें करीब 52 कंपनियों में से सीआरपीएफ की 19, सीमा सुरक्षा बल की 15, केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल और भारत-तिब्बत सीमा पुलिस की पांच-पांच और सशस्त्र सीमा बल की आठ कंपनियां शामिल हैं।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।