Face mask: 10 मिनट में वायरस का पता लगा लेगा ये फेस मास्क

Face mask

बीजिंग (एजेंसी)। चीन के शोधकर्ताओं के एक समूह ने संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने के 10 मिनट के भीतर वायरल की पहचान करने वाला Face mask बनाया है। चीनी शोधकर्ताओं ने गुरुवार को यह जानकारी दी। ‘मैटर पत्रिका’ में इस सप्ताह प्रकाशित अध्ययन के अनुसार, अत्यधिक संवेदनशील फेस मास्क 0.3 माइक्रोलीटर और गैसीय नमूनों के ट्रेस-लेवल तरल नमूनों को 0.1 फीमेलोग्राम प्रति मिलीलीटर की अल्ट्रा-लो सांद्रता पर मापने में सक्षम है। शोधकर्ताओं ने कहा कि उनकी टीम ने एक ऐसा फेस मास्क तैयार किया है, जो हवा में श्वसन रोगाणु की 10 मिनट में पहचान करके, व्यक्ति को सतर्क करेगा।

यह भी पढ़ें:– कुवैत में चमकेगी जिला पंचकूला की बेटियों की तलवार

सामान्य श्वसन वायरस का पता लगा सकता है

उन्होंने कहा कि श्वसन रोगाणु जो कोविड -19 और इन्फ्लूएंजा का कारण बनते हैं, संक्रमित व्यक्ति से बात करने, खांसने और छींकने पर निकलने वाली छोटी बूंदों के संपर्क में आने से यह अन्य व्यक्तियों में फैल जाता है। टोंगजिन विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं द्वारा डिजाइन किया गया बायोइलेक्ट्रॉनिक मास्क हवा में बूंदों, एरोसोल में इन्फ्लूएंजा और कोरोनावायरस सहित सामान्य श्वसन वायरस का पता लगा सकता है, और फिर पहनने वालों को अपने मोबाइल उपकरणों के माध्यम से सचेत कर सकता है।

सेंसर के डिजाइन को आसानी से बदल सकते हैं | Face mask

तोंगजी में अध्ययन के संबंधित लेखक और शंघाई टोंगजी विश्वविद्यालय में एक भौतिक वैज्ञानिक यिन फेंग कहते हैं कि टीम ने तीन प्रकार के सिंथेटिक अणुओं को ले जाने वाला एक छोटा सेंसर तैयार किया जो एक साथ सार्स-कोविड-2, एच5एन1 और एच1एन1 पर सतह प्रोटीन को पहचान सकता है। उन्होंने कहा कि यदि भविष्य में कोई नया श्वसन संक्रमण दिखाई देता है, तो वे इसके लिए सेंसर के डिजाइन को आसानी से बदल सकते हैं।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here