गम हो या ख़ुशी, मानवता की सेवा ही सर्वोपरि!

Hanumangarh News
गम हो या ख़ुशी, मानवता की सेवा ही सर्वोपरि!

नामचर्चा में जरूरतमंद परिवारों को राशन वितरित | Hanumangarh News

मसीतांवाली हेड (सच कहूँ न्यूज/जगजीत सिंह।)। हनुमानगढ़ ब्लॉक के गांव नोरंगदेसर में प्रेमी मुख्तयार सिंह इन्सां 4 फरवरी को सांसारिक यात्रा पूरी करते हुए मालिक के चरणों में सचखंड जा विराजे थे। उनकी अंतिम अरदास की नाम चर्चा रविवार को गांव नोरंगदेसर में रखी गई। Hanumangarh News

नामचर्चा की शुरुआत ब्लॉक प्रेमी सेवक राजेंद्र इन्सां ने पवित्र नारा बोलकर की। विनती का शब्द दर्शन इन्सां ने व ग्रंथ की व्याख्या गुरप्रीत इन्सां ने की। सचखण्डवासी मुख्तयार सिंह इन्सां ने परमपिता शाह सतनाम जी महाराज से सन् 1978 में नाम की अनमोल दात प्राप्त की। उनकी आयु 74 साल की थी। उनके दोनों पुत्र गुरसेम्बर इन्सां, जगदेव सिंह इन्सां, चरणप्रीत कौर, दामाद सुखमंदर इन्सां सभी सेवा समिति के सेवादार हैं। Hanumangarh News

उन्होंने अपने पूरे परिवार को सेवा, सिमरन, परमार्थ में लगाए रखा। वे हरदम मानवता भलाई कार्यों में आगे रहते थे। उनके परिवार ने तीन अति जरूरतमंद परिवारों को राशन वितरित किया। नाम चर्चा में राजपाल, संतोख, भोला सिंह, दलौर सिंह, मनप्रीत, जगजीत सिंह, कमाउ इन्सां, देशराज, 85 मेंबर गुरसेवक सिंह, 85 मेंबर मनोज इन्सां, 85 मेबर हरि सिंह, डेरा सच्चा सौदा से मैनेजमेंट कमेटी, सेवा समिति के सेवादार, रावतसर, हनुमानगढ़, सहजीपुरा सहित अन्य ब्लॉकों से काफी संख्या में साध-संगत, रिश्तेदार व ग्रामीण पहुंचे। Hanumangarh News

उल्लेखनीय है कि डेरा सच्चा सौदा के सेवादार हमेशा मानवता की सेवा में अग्रणी रहते हैं। फिर चाहे गम हो या खुशी, उनके लिए जीवन एक सार ही चलता है। हर मौके पर वो मानवता की सेवा को ही सर्वोपरि रखते हैं। Hanumangarh News

मुख्यमंत्री ने दी युवाओं को सौगात! कनिष्ठ सहायक के 3,552 पदों पर होगी भर्ती

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here