Rajasthan Crime News: गोगामेड़ी हत्याकांड पर आया बड़ा अपडेट

Rajasthan Crime News
Rajasthan Crime News: गोगामेड़ी हत्याकांड पर आया बड़ा अपडेट

जयपुर (सच कहूँ न्यूज)। Rajasthan Crime News: राजस्थान की राजधानी जयपुर में हुए राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी (Sukhdev Singh) हत्याकांड के दोनों शूटरों को गिरफ्तार कर लिया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस ने इस मामले के मुख्य आरोपी रोहित राठौड़ और नितिन फौजी को चंडीगढ़ से पकड़ा हैं। दोनों आरोपियों को जयपुर लाया गया है और पूछताछ की जा रही हैं। इस मामले में गठित एसआईटी के बाद राजस्थान पुलिस ने इस मामले में आरोपियों को 72 घंटों में पकड़ने का आश्वासन दिया था और शीघ्र पकड़ भी लिया। आरोपियों को पकड़ने में राजस्थान पुलिस की दिल्ली और चंडीगढ़ पुलिस ने मदद की। घटना के बाद दोनों आरोपी बस से डीडवाना पहुंचे और फिर टैक्सी के जरिए सुजानगढ़ पहुंचकर बस पकड़कर हिसार पहुंचे और इसके बाद चंडीगढ़ में छिपे हुए थे।

क्या है मामला | Rajasthan Crime News

उल्लेखनीय इन दोनों आरोपियों की जयपुर में मदद करने वाले आरोपी रामवीर जाट को शनिवार को हरियाणा के महेंद्रगढ़ से गिरफ्तार किया गया था। उल्लेखनीय है कि गत पांच दिसंबर को गोगामेड़ी की उनके घर में दाखिल होकर गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस हत्याकांड में बदमाशों के साथ आया नवीन शेखावत भी मारा गया जबकि तीन अन्य घायल हो गए।

राजस्थान की अन्य खबरें | Rajasthan Crime News

मासूम बालिका से दरिंदगी का 24 घंटे में खुलासा, आरोपी गिरफ्तार

राजस्थान में दौसा शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र में पुलिस ने शादी समारोह के दौरान छह वर्ष की मासूम को अकेला पाकर दरिंदगी की घटना को अंजाम देने वाले आरोपी को 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया। जिला पुलिस अधीक्षक वन्दिता राणा ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी अनिल कुमार मीना (28) गांव बाढ़ रसूलपुरा थाना आंधी जिला जयपुर हाल मधुर विहार कॉलोनी सैंथल रोड थाना कोतवाली का रहने वाला है। उन्होंंने बताया कि गत 7 दिसंबर को थाना क्षेत्र में एक मैरिज गार्डन में शादी का कार्यक्रम था। वर वधु दोनों पक्ष के लोग कार्यक्रम में व्यस्त थे। परिवादी की तीन छोटी बच्चियों को नींद आने की वजह से उन्होंने उन्हें हॉल में सुला दिया। रात करीब 11.00 बजे बच्चियों की मां एवं दादी उन्हें लेने गई। दोनों ने एक-एक बच्ची को गोद में ले लिया। बाहर उनकी गाड़ी खड़ी थी, तीसरी बड़ी बच्ची को साथ ले जाने के लिए शादी में मौजूद लोगों से सहायता पाने के लिए इधर-उधर देख रही थी, तभी आरोपी ने कहा कि आप चलो मैं बच्ची को लाता हूं।

क्या है मामला

अंदर जाकर बच्ची को अकेला पाकर आरोपी ने उसके साथ दुराचार किया। बच्ची के चिल्लाने पर उसे चुप करा बाहर पिकअप गाड़ी में इंतजार कर रही मां एवं दादी को बच्ची को सुपुर्द कर होटल मैनेजर और अन्य से बात करते हुए घूमते हुए पैदल-पैदल अपने घर चला गया। आरोपी द्वारा इस घटना को बड़े ही शातिराना तरीके से अंजाम दिया गया।
पुलिस द्वारा गठित एसआईटी द्वारा वर-वधु पक्ष के करीब 300 लोगों तथा होटल के कर्मचारी, कैटरिंग का काम करने वाले लोगों, आसपास के पड़ोसी और सन्दिग्ध करीब 200 लोगों से पूछताछ की गई। घटनाएं स्थल के आसपास एवं शहर के करीब 150 सीसीटीवी कैमरों की रिकॉर्डिंग, शादी समारोह में आए फोटोग्राफर एवं वीडियोग्राफर से पूछताछ कर करीब 800-900 फोटोग्राफ तथा चार घंटे की वीडियो ग्राफी का गहनता से विश्लेषण किया गया। पुलिस टीम ने प्राप्त तथ्यों एवं साक्ष्यों का संकलन कर संदिग्ध अनिल कुमार को डिटेन कर गहनता से पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया। जिसे बापर्दा गिरफ्तार किया गया है।

कोटा में दसवीं की छात्रा ने की आत्महत्या | Rajasthan Crime News

राजस्थान में कोटा के कुन्हाड़ी थाना क्षेत्र में एक 15 वर्षीय स्कूली छात्रा ने फांसी का फंदा लगाकर लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस सूत्रों ने बताया कि क्षेत्र के बापू नगर आवासीय कॉलोनी में रहने वाली छात्रा निकिता कोली (15) एक निजी विद्यालय में दसवीं कक्षा में पढ़ती है। शुक्रवार की दोपहर वह स्कूल से घर लौटने के बाद मकान के अपने कमरे में चली गई और उसे अंदर से बंद कर लिया। काफी देर तक नहीं निकलने के पर घर वालों के खटखटाने पर भी दरवाजा नहीं खोला तो बाद में सूचना मिलने पर मौके पहुंचे अन्य लोगों ने दरवाजा तोड़कर भीतर प्रवेश किया जहां छात्रा निकिता फांसी के फंदे से लटकी मिली। मृतक छात्रा के शव को शनिवार को पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने परिजनों के हवाले कर दिया है। अभी आत्महत्या के कारणों का खुलासा नहीं हुआ है। पुलिस को छात्रा के पास से सूसाइड़ नोट भी नहीं मिला है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।