Rajasthan CM: राजस्थान सीएम को लेकर भाजपा अध्यक्ष का बड़ा बयान

Rajasthan CM
राजस्थान सीएम को लेकर भाजपा अध्यक्ष का बड़ा बयान

जयपुर (सच कहूँ न्यूज)। Rajasthan CM: राजस्थान में भाजपा की शानदार जीत के बाद अब सीएम के ऐलान पर सभी की निगाहें टिकी हुई है। सभी इंतजार कर रहे हैं कि आखिर राजस्थान का अगला सीएम कौन होगा। इस रेस में कई नाम शामिल हैं। वहीं इस बीच भाजपा प्रदेशाअध्यक्ष सीपी जोशी ने मुख्यमंत्री के नाम को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि सीएम को लेकर फैसला पार्टी की विधायक दल की बैठक के बाद होगा। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सीपी जोशी ने वीरवार को कहा कि सीएम को लेकर कोई भी फैसला पार्टी की विधायक दल की बैठक के बाद किया जाएगा। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि विधायक अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्रों में हैं और बैठक तय होते ही जयपुर आ जायेंगे। उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा कि पर्यवेक्षकों की नियुक्ति के बाद विधायक दल की बैठक बुलाई जाएगी, जिसके बाद आगे प्रक्रिया पूरी होगी। Rajasthan CM

वसुंधरा राजे: वसुंधरा राजे का नाम राजस्थान के इतिहास में बीजेपी की सबसे कद्दावर नेता के रूप में माना जाता है। उनके सियासी ग्राफ को देखा जाए तो पूरे प्रदेश में अव्वल माना जाता है। वैसे तो वसुंधरा राजे सीएम की दौड़ में सबसे आगे नजर आती है, लेकिन फिलहाल के चुनावों को देखते हुए जिस प्रकार से उन्हें नजर अंदाज किया गया उसको देखकर कुछ संशय लग रहा है वहीं दूसरी तरफ शीर्ष नेतृत्व के साथ उनके रिश्ते भी कुछ खास अच्छे नहीं रहे हैं। ऐसे में भाजपा आलाकमान क्या फिर से वसुंधरा राजे को मुख्यमंत्री बनाएगा, इस पर संशय बना हुआ है, लेकिन वसुंधरा गुट के सभी नेताओं ने जिस तरह से जीत दर्ज की है, उसको देखते हुए उन्हें नजर अंदाज करना मुश्किल भी लग रहा है।

बाबा बालकनाथ: यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की ही तरह माने जाने वाले राजस्थान के बीजेपी सांसद महंत बालकनाथ को भी सीएम की दौड़ में ऊपर माना जा रहा है। बाबा बालकनाथ की यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ से तुलना की जा रही है और उन्हें राजस्थान का योगी बताया जा रहा है। ओबीसी वर्ग से संबंध रखने वाले महंत बालकनाथ मस्तनाथ मठ के आठवें महंत हैं। भाजपा ने बालकनाथ को तिजारा विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में उतारा था। महंत बालकनाथ को वसुंधरा के बाद बतौर सीएम पसंद किया जा रहा है। Rajasthan CM

दीया कुमारी: जयपुर राजघराने से संबंध रखने वालीं दीया कुमारी फिलहाल राजसमंद से बीजेपी सांसद हैं। बीजेपी आलाकमान ने इन्हें जयपुर की विद्याधरनगर सीट से प्रत्याशी बनाया था, जिसे पूर्व सीएम वसुंधरा राजे के करीबी नरपत सिंह राजवी के टिकट काटे जाने के बाद सुनिश्चित किया गया था, जिसने राजस्थान चुनावों में सबसे बड़ी जीत दर्ज की। इसी वजह से दीया कुमारी को वसुंधरा राजे का विकल्प भी माना जा रहा है। लेकिन चुनाव से पहले हुए सर्वे में दीया कुमारी को सिर्फ 3 फीसदी लोगों ने सीएम पद के तौर पर अपनी पसंद बताया था। Rajasthan CM

यह भी पढ़ें:– तीन राज्यों में भाजपा की जीत पर पीएम मोदी ने दिया बड़ा बयान