ब्लाइंड मर्डर का खुलासा : सन्दिग्ध अवस्था में मिला था युवक का शव!

Pratapgarh News

प्रतापगढ़। थाना सालमगढ़ इलाके के रायपुर-झरमरी रोड पर 2 दिन पहले सन्दिग्ध अवस्था में मिली युवक की लाश के ब्लाइंड मामले का पुलिस ने खुलासा कर आरोपी अनिल उर्फ हनीफ मीणा पुत्र ऊंकार लाल निवासी झरमरी थाना सालमगढ़ को गिरफ्तार किया है। Pratapgarh News

एसपी अमित कुमार ने बताया कि 6 दिसंबर को सीएचसी दलोट पर उठैल निवासी भैरूलाल मीणा ने रिपोर्ट दी कि उसका बेटा जगदीश उर्फ जगू मीणा (37) बीती शाम घरेलू सामान लेने बाहर गया था। दूसरे दिन सुबह रायपुर-झरमरी रोड पर सन्दिग्ध अवस्था में उसकी लाश पड़ी मिली। अज्ञात के विरुद्ध हत्या की रिपोर्ट पर मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की गई।

घटना की गंभीरता को मध्य नजर रखते हुए एसपी अमित कुमार द्वारा घटना के खुलासे के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक भागचंद मीणा व सीओ श्योराज मल मीणा के नेतृत्व में एसएचओ रमेश चंद हारी एवं साइबर सेल से 12 सदस्यों की एक विशेष टीम गठित की गई। कठिन टीम द्वारा आसूचना तंत्र को सक्रिय कर घटना के विभिन्न कारणों को लेकर जांच की। साइबर सेल और एमओबी टीमों द्वारा घटनास्थल से तकनीक साक्ष्य उठा उनका विश्लेषण किया गया।

सन्दिग्ध अनिल उर्फ हनीफ मीणा को डिटेन कर पूछताछ की तो उसने बताया कि 5 दिसंबर की रात करीब 1 से 2 बजे के बीच वह अपने एक साथी के साथ शराब पी ढाबे से खाना खाकर घर लौट रहा था। रास्ते में झरमरी रोड पर उन्हें एक व्यक्ति मिला। जिसने बाइक के टायर का पट्टा लगा उनकी बाइक को रुकवाया और गाली गलौज करने लगा।

जान से मारने की धमकी देकर वह व्यक्ति कहने लगा कि उसके पास पिस्तौल है और सिक्स राउंड ठोक देगा। बाइक से नीचे उतरकर उन्होंने उसी के हाथ से टायर का पट्टा लेकर पट्टे और लात घूंसे से मारपीट की, जिससे वह रोड पर गिर गया और उसकी मौत हो गई। उसके बाद वह उसे रोड के किनारे बनी नाली में डालकर घर जाकर सो गए। घटना स्वीकार किए जाने से आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। Pratapgarh News

यह भी पढ़ें:– CP Joshi : कांग्रेस की मोहब्बत की दुकान उगल रही है लूट का सामान