मुख्य लोको निरीक्षक हमला मामला : षड्यंत्र रचकर हमला करवाने का आरोप!

Hanumangarh News
मुख्य लोको निरीक्षक हमला मामला : षड्यंत्र रचकर हमला करवाने का आरोप!

मुख्य लोको निरीक्षक के पर्चा बयान के आधार पर मुकदमा दर्ज

Railway Chief Loco Inspector Attacked Case : हनुमानगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। रेलवे विभाग में मुख्य लोको निरीक्षक के पद पर तैनात अधिकारी पर हमला कर गंभीर रूप से चोटें मारने की घटना के संबंध में जंक्शन पुलिस थाना में मुकदमा दर्ज हुआ है। यह मुकदमा राजकीय जिला चिकित्सालय में भर्ती मुख्य लोको निरीक्षक के पर्चा बयान के आधार पर दर्ज किया गया है। मुख्य लोको निरीक्षक ने अपने अधीनस्थ पदस्थापित कुछ कर्मचारियों पर हमला करवाने का आरोप लगाया है। पुलिस आरोपों की जांच में जुटी है। Hanumangarh News

जानकारी के अनुसार टाउन के राजकीय जिला चिकित्सालय में भर्ती सत्येन्द्र कुमार (44) पुत्र दलीप कुमार चन्द्रवंशी निवासी बी-3, वार्ड 14, सैक्टर नम्बर 12, महाप्रज्ञा कॉलोनी, जंक्शन ने पुलिस को दिए पर्चा बयान में बताया कि वह रेलवे विभाग में मुख्य लोको निरीक्षक के पद पर हनुमानगढ़ जंक्शन रेलवे स्टेशन लोको लॉबी इंजार्च है। वह सोमवार सुबह करीब सवा नौ बजे ड्यूटी के लिए घर से अपना बैग जिसमें लैपटॉप, मोबाइल फोन, कागजात व 35 हजार रुपए थे, लेकर पैदल ही रवाना हुआ था। उसके घर से निकलते ही लोको पायलट (सवारी) विजय कुमार मिल गया। वह उसके साथ पैदल रेलवे स्टेशन की तरफ आ रहा था।

बाइक पर पांच-छह लकड़ों ने मुंह ढक रखा था | Hanumangarh News

अण्डर ब्रिज के नीचे तीन बाइक पर पांच-छह लडक़े मिले। इन सभी ने मुंह ढक रखा था जो उसे देखते ही अपने मुंह पर बंधे कपड़े ठीक करने लगे। वह व विजय वहां से आगे निकल गए। विजय रामदेव मंदिर में चला गया। वह थोड़ा आगे एआईएन-2 ऑफिस के सामने पहुंचा तो इन तीनों बाइक वालों ने पीछा कर उसे घेर लिया व कहा कि तूं प्रकाश स्वामी, सुरेश पारीक, रामकेश मीणा, अमर सिंह, मोहन लाल सैनी आदि को परेशान करता है। यह कहते हुए इन्होंने लाठी-डण्डों, गंडासी, बर्छा आदि से हमला कर दिया। मारपीट से उसके दोनों पैर व सिर पर चोट आई। इन लोगों ने उसका बैग छीन लिया। वह चिल्लाया तो पुल की तरफ से विक्रम सिंह व अन्य राहगीर व कर्मचारी आदि भागकर आ गए। इनको देखकर यह लोग बाइक पर लोको साइड में भाग गए।

मारपीट के दौरान ये लोग आपस में एक व्यक्ति को पंकज नाम से पुकार रहे थे। ये लोग तीन बाइक पर थे। इनमें एक बाइक का नम्बर आरजे 31 एसडी 1147 व दूसरी का नम्बर आरजे 31 एसयू 1266 था। तीसरी बाइक का नम्बर वह देख नहीं पाया। सत्येन्द्र कुमार ने आरोप लगाया कि उस पर प्रकाश स्वामी, सुरेश पारीक, रामकेश मीणा, अमर सिंह, मोहन लाल सैनी आदि ने षड्यंत्र रचकर अज्ञात लोगों से हमला करवाया है। प्रकाश स्वामी, सुरेश पारीक, रामकेश मीणा, अमरसिंह वर्तमान में उसके अधीनस्थ पदस्थापित कर्मचारी हैं जो ड्यूटी में अपनी मनमर्जी चलाना चाहते हैं। मोहन लाल रिटायर्ड कर्मचारी है जो इनको बहकाता रहता है। पुलिस ने पर्चा बयान के आधार पर संबंधित धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच एसआई गजेन्द्र शर्मा को सौंपी है। Hanumangarh News

Guhla Cheeka : डेरा प्रेमियों के जज्बे को देखकर ग्राम पंचायत ने डेरा अनुयायियों को भेंट की ये स्पेशल…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here