सीएम भगवंत मान और केजरीवाल ने ‘श्री गुरु अमरदास पावर प्लांट’ लोगों को किया समर्पित

Punjab News
सीएम भगवंत मान और केजरीवाल ने ‘श्री गुरु अमरदास पावर प्लांट’ लोगों को किया समर्पित

राज्य सरकार ने 1080 करोड़ की लागत से निजी कंपनी जी.वी.के. पावर से खरीदा प्लांट

गोइंदवाल साहिब/तरनतारन (सच कहूँ/अश्वनी चावला)। पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान (Bhagwant Mann) और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने रविवार को श्री गुरु अमरदास थर्मल प्लांट को लोगों को समर्पित करके नया इतिहास रचा है। पंजाब सरकार ने प्राईवेट कंपनी जी.वी.के. पावर की मल्कीयत वाला यह गोइन्दवाल पावर प्लांट 1080 करोड़ रुपए की लागत से खरीद कर इतिहास रचा है। यह पहली दफा है जब सरकार ने कोई प्राईवेट पावर प्लांट खरीद कर उल्टा दौर शुरु किया है, जबकि पिछले समय में राज्य सरकारें अपने चहेतों को कम कीमतों पर सरकारी संस्थान बेचने की आदी रही हैं। Punjab News

किसी राज्य सरकार द्वारा पावर प्लांट का यह सबसे कम कीमत पर किया समझौता है क्योंकि 600 मेगावाट की क्षमता वाले कोरबा वेस्ट, झाबुआ पावर और लैंको अमरकंटक जैसे पावर प्लांट क्रमवार 1804 करोड़ रुपए, 1910 करोड़ और 1818 करोड़ रुपए में खरीदे गए थे। पंजाब सरकार ने 540 मेगावाट की क्षमता वाला पावर प्लांट दो करोड़ रुपए प्रति मेगावाट के हिसाब से खरीदा है। यह किसी पावर प्लांट के लिए अब तक की सबसे कम कीमत है, जब कि अब तक हुई खरीदों के मुताबिक कीमत तीन करोड़ रुपए प्रति मेगावाट रही है। इस प्लांट का नाम बदल कर तीसरे गुरु साहिब के नाम पर श्री गुरु अमरदास थर्मल पावर प्लांट रखा गया है।

इस थर्मल प्लांट की क्षमता 61 प्रतिशत थी, जब कि इसमें से केवल 34 प्रतिशत तक का ही प्रयोग होता था, परन्तु अब इस प्लांट की क्षमता को 75 से 80 प्रतिशत तक किया जाएगा, जिससे राज्य में बिजली पैदावार में वृद्धि होगी। पछवाड़ा कोयला खदान का कोयला केवल सरकारी बिजली प्लांटों के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इस कारण अब इस प्लांट की खरीद से यह कोयला यहाँ बिजली उत्पादन के लिए इस्तेमाल किया जा सकेगा, जिससे राज्य के हरेक क्षेत्र को बिजली मुहैया होगी। Punjab News

साल 2016-2023 के दरमियान राज्य सरकार ने पावर प्लांटों से 7.08 रुपए प्रति औसतन यूनिट के मुताबिक 7902 करोड़ रुपए अदा करके 11,165 मिलियन यूनिट बिजली खरीदी थी। जबकि पछवाड़ा कोयला खदान से कोयले की सप्लाई शुरु होने से बिजली की कीमत प्रति यूनिट 4.50 रुपए प्रति यूनिट होगी, जिससे सालाना 300-350 करोड़ रुपए की बचत होगी और यह पैसा लोगों की भलाई पर खर्चा जाएगा। यह प्लांट सरकार के हाथों में आने से राज्य में अब तीन सरकारी और दो प्राईवेट थर्मल प्लांट कार्यशील होंगे।

पंजाब के इतिहास में आज का दिन बेहद खास: मुख्यमंत्री मान | Punjab News

मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान ने कहा कि आम लोगों को भारतीय राजनीति केंद्र में लाने का सेहरा अरविन्द केजरीवाल को जाता है। उन्होंने कहा कि अरविन्द केजरीवाल ने फूट डालने वाली राजनीति को नकार कर मानक राजनीति की शुरुआत करके राजनीति में सराहनीय बदलाव लाया है। भगवंत सिंह मान ने कहा कि यह बड़े गर्व और संतुष्टी की बात है कि बड़ी संख्या में लोग इस ऐतिहासिक मौके के गवाह बने हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि रैली में लोगों का भरपूर समर्थन राज्य सरकार की जनहितैषी और विकास समर्थकीय नीतियों में उनके भरोसे को दिखाता है। सीएम ने दोहराया कि रिवायती पार्टियाँ उनसे ईर्ष्या करती हैं क्योंकि वह एक आम परिवार से सम्बन्धित हैं और लोगों की भलाई सुनिश्चित बनाने के लिए अथक मेहनत कर रहे हैं।

‘आप’ से डर रही भाजपा हमें निशाना बना रही: केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि पिछले 75 सालों में पहली बार राज्य सरकार ने प्राईवेट पावर प्लांट खरीदा है। उन्होंने कहा कि यह प्लांट राज्य सरकार द्वारा सस्ते भाव पर खरीदा गया है। अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि राज्य सरकार ने 5500 करोड़ रुपए का यह प्लांट केवल 1100 करोड़ रुपए की कीमत पर खरीदा है। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार ‘आप’ को बदनाम करने के लिए हर समय चालें चल रही है क्योंकि वह डरती है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार विरोधी पक्ष खासकर ‘आप’ को तोड़ने के लिए केंद्रीय एजेंसियों का प्रयोग कर रही है। अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि जब तक जनता ‘आप’ पार्टी के साथ है और ईश्वर का आशीर्वाद है तो हमें किसी का डर नहीं। Punjab News

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि लोगों को ऐसे दोगले नेताओं को उपयुक्त जवाब देना चाहिए। उन्होंने कहा कि लोगों को यह जवाब देना चाहिए कि उनको मुफ़्त बिजली देने वाले चोर नहीं, बल्कि चोर वह हैं, जो महँगी बिजली देकर लोगों को लूटते हैं। अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि देश की तरक्की का अंतिम लक्ष्य लोगों के सहयोग के साथ ही हासिल किया जाएगा।

यह भी पढ़ें:– Farmers Protest: प्रस्तावित धरना-प्रदर्शन के मद्देनजर अनूपगढ़ जिले में धारा 144

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here