विजिलेंस की जानकारी लीक होने पर सीएम सख्त

Vigilance Raid sachkahoon

हर जिले में बनेगा अब पांच अधिकारियों का विटनेस पैनल

चंडीगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। हरियाणा विजिलेंस ब्यूरो द्वारा छापेमारी की जानकारी कई बार लीक हो जाने को लेकर विजिलेंस के आला-अफसरों ने आने वाले वक्त के लिए इसका तोड़ निकाल लिया है। कईं मामलों में सूचना लीक हो जाने के बाद विजिलेंस की छापेमारी फेल हो जाने को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने भी चिंता जाहिर की है। अब आने वाले दिनों के लिए हर जिले में एक पैनल तैयार किया जाएगा, जिसके संबंध में सभी जिलों में उपायुक्तों को दिशा निर्देश जारी कर दिए गए हैं। पैनल में पांच अफसरों को गवाह के तौर पर पैनल में रखा जाएगा ताकि छापेमारी के वक्त किसी तरह की कोई भी दिक्कत नहीं हो। पिछले एक माह के दौरान चार मामलों में जानकारी वक्त से पहले ही लीक हो जाने की घटना हुई हैं। हरियाणा सरकार के मुख्य सचिव संजीव कौशल द्वारा हाल के घटनाक्रम को देखते हुए आदेश जारी कर दिए गए हैं। पत्र में साफ कर दिया गया है कि विजिलेंस टीम की छापेमारी के लिए गवाह की नियुक्ति के लिए जिला स्तर पर विभिन्न विभागों के पांच बढ़िया छवि वाले राजपत्रित अफसरों का एक पैनल तैयार किया जाएगा। सभी जिलों में उपायुक्त ही यह पैनल तैयार करने का काम करेंगे।

यह भी पढ़ें:– शाह सतनाम जी छात्र महाविद्यालय में एनसीसी भर्ती का आयोजन

हर तीन माह के अंदर होगा बदलाव

जिला स्तर पर बनने वाले पांच सदस्यों वाले पैनल में तीन माह के बाद में बदलाव कर दिया जाएगा। मुख्य सचिव की ओर से भेजे गए पत्र में कहा गया है जिला उपायुक्त हर तीसरे माह में पैनल को संशोधित करेंगे इतना ही नहीं सरकार द्वारा जिला उपायुक्तों के अधिकारों पर भी कैंची चलाई है। सतर्कता ब्यूरो को 5 अफसरों का पैनल मिल जाने के बाद में अब एसपी ज्यादा आत्म निर्भरता के साथ में काम कर सकेंगे।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here