पंजीठ चौकी के सिपाहियों पर जेल भेजने की धमकी का आरोप

Kairana News
स्कूटर एजेंसी के स्वामी ने लगाया मारपीट का आरोप

किसान-मजदूर भारतीय संगठन के ब्लॉक उपाध्यक्ष ने कोतवाली प्रभारी को डाक से भेजा शिकायती-पत्र | Kairana News

कैराना (सच कहूँ न्यूज)। किसान मजदूर भारतीय संगठन के ब्लॉक उपाध्यक्ष ने पंजीठ चौकी पर तैनात दो सिपाहियों पर दुर्भावना के चलते जेल भेजने की धमकी देने का आरोप लगाया है। पीड़ित ने कोतवाली प्रभारी को डाक द्वारा शिकायती-पत्र भेजकर मामले में कार्यवाही किये जाने की मांग की है। कोतवाली क्षेत्र के गांव रामड़ा निवासी अफसर पुत्र यासीन किसान मजदूर भारतीय संगठन में ब्लॉक कैराना के उपाध्यक्ष पद पर कार्यरत है। विगत 05 दिसंबर 2023 को वह शाम करीब साढ़े छह बजे अपने खेत से गांव वापिस जा रहा था। Kairana News

इसी दौरान पंजीठ पुलिस चौकी पर तैनात दो सिपाहियों ने गांव के निकट कुछ लोगो को चेकिंग के नाम पर रोक रखा था। उक्त सिपाहियों ने उसे भी रोक लिया। इसके बाद उनमें से एक सिपाही ने उसकी जेब से मोबाइल निकाल लिया तथा उसे चैक करने लगा। आरोप है कि उसके मोबाइल में किसान मजदूर भारतीय संगठन के फोटो देखकर दोनों सिपाही भड़क उठे। उन्होंने उसे जेल भेजने की धमकी दी तथा तमंचा देने को कहा। उसने कहा कि वह उसकी तलाशी ले सकते है, उसके पास कोई तमंचा नही है। इस पर दोनों सिपाहियों ने उसकी तलाशी ली, लेकिन उन्हें कोई तमंचा नही मिला। इसके बाद दोनों सिपाही उसके साथ में अभद्रता व गाली-गलौच करते हुए झूठे मामले में जेल भेजने की धमकी देने लगे।

बताया कि इसी दौरान कुछ लोग मौके पर आ गए, जिस पर सिपाही उसे तथा किसान मजदूर भारतीय संगठन से जुड़े उसके साथियों को भविष्य में जेल भेजने की धमकी देते हुए वहां से चले गए। पीड़ित ने कोतवाली प्रभारी से मामले की जांच कराकर आरोपी सिपाहियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही किये जाने की मांग की है। वहीं, कोतवाली प्रभारी वीरेंद्र सिंह कसाना का कहना है कि संगठन से जुड़े कुछ लोग उनके पास आये थे। पुलिस चेकिंग से जुड़ी उनकी कुछ समस्याएं थी, जिसे सुना गया है। मामले से जुड़ा कोई शिकायती-पत्र उन्हें नही मिला है। Kairana News

यह भी पढ़ें:– ‘वादकारियों के लिए वरदान साबित हो रही लोक अदालत’