राजकीय महाविद्यालय में 6 वर्ष बाद दीक्षांत समारोह हुआ, फिर भी विद्यार्थियों के हाथ लगी मायूसी

Dushyant Chautala
राजकीय महाविद्यालय में 6 वर्ष बाद दीक्षांत समारोह हुआ, फिर भी विद्यार्थियों के हाथ लगी मायूसी

उप मुख्यमंत्री ने 1968 विद्यार्थियों को उपाधि देकर किया सम्मानित

हिसार (सच कहूँ/संदीप सिंहमार)। Dushyant Chautala: राजगढ़ रोड़ स्थित राजकीय महाविद्यालय हिसार में 6 साल के लंबे इंतजार के बाद हुए दीक्षांत समारोह में भी विद्यार्थियों को मायूसी ही मिली। दरअसल इस दीक्षांत समारोह में 2018 से लेकर 2023 तक के पासआउट स्नातक व स्नातकोत्तर विद्यार्थियों को रजिस्ट्रेशन का मौका दिया गया था, लेकिन उम्मीद से ज्यादा रजिस्ट्रेशन होने की वजह से कॉलेज प्रशासन की तरफ से एक कट ऑफ लिस्ट जारी कर दी गई। इस कट ऑफ लिस्ट में रजिस्ट्रेशन करने वाले सभी विद्यार्थी शामिल नहीं हो सके।

दीक्षांत समारोह में बतौर मुख्य अतिथि समारोह को संबोधित करते हुए हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने कहा कि अध्यापक राष्ट्र निर्माता होता है जो अपने ज्ञान से बच्चों के उज्जवल भविष्य का निर्माण करता है,राजकीय महाविद्यालय हिसार का समस्त स्टाफ राष्ट्र निर्माण की इस भूमिका में अपनी अहम योगदान निभा रहा है। उप-मुख्यमंत्री ने महाविद्यालय के 10 विषयों के स्नातकोत्तर, स्नातक में कला, वाणिज्य तथा विज्ञान संकाय के 1968 विद्यार्थियों को उपाधियां देकर सम्मानित किया। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ दीपमाला लोहान ने महाविद्यालय की वार्षिक प्रतिवेदन रिपोर्ट प्रस्तुत की।

उन्होंने उप मुख्यमंत्री (Dushyant Chautala) के सामने महाविद्यालय में छात्राओं के लिए 200 कमरों के छात्रावास का निर्माण तथा छात्र संख्या के अनुसार अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त पुस्तकालय का निर्माण करवाने की मांग रखी। उन्होंने कहा कि राजकीय महाविद्यालय हिसार में प्रदेशभर से सबसे ज्यादा छात्र दाखिले के लिए आवेदन करते हैं, जिनमें छात्राओं की संख्या ज्यादा होती है। इसलिए छात्राओं के हॉस्टल की आवश्यकता है। इस अवसर पर प्रदेश सरकार के राज्य मंत्री अनूप धानक, खादी बोर्ड के अध्यक्ष राजेंद्र लितानी, डॉ राजपाल सहित समस्त स्टाफ सदस्य उपस्थित थे।

यह भी पढ़ें:– युवती को ले जाने वाला आरोपी दोषी करार, फैसला सुरक्षित

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here