शिक्षक पर्यवेक्षकों को सर्वेक्षण कार्य से छूट दिए जाने की मांग

कैराना। (सच कहूँ न्यूज) राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर-प्रदेश तथा यूनाइटेड टीचर्स एसोसिएशन उत्तर-प्रदेश के पदाधिकारियों ने जिला निर्वाचन अधिकारी को संबोधित दो अलग-अलग ज्ञापन-पत्र देकर नगर निकायों हेतु किये जा रहे अन्य पिछड़ा वर्ग के सर्वेक्षण कार्य में लगाए गए शिक्षक पर्यवेक्षकों को विद्यालय समय में छूट दिए जाने की मांग की है।शुक्रवार को राष्ट्रीय शैक्षिक महासंघ उत्तर-प्रदेश तथा यूनाइटेड टीचर्स एसोसिएशन उत्तर-प्रदेश के पदाधिकारी संयुक्त रूप से कलेक्ट्रेट पर स्थित जिला निर्वाचन अधिकारी जसजीत कौर के कार्यालय पर पहुंचे।

जहां पर उन्होंने जिला निर्वाचन अधिकारी को संबोधित दो अलग-अलग ज्ञापन-पत्र उनके कार्यालय में सौंपे। ज्ञापन-पत्रों में बताया गया कि वर्तमान समय में प्रदेश सरकार द्वारा नगर निकायों में अन्य पिछड़ा वर्ग की जनगणना हेतु सर्वेक्षण कार्य कराया जा रहा है। आम जनमानस का लोकतांत्रिक व्यवस्था में विश्वास कायम रखने हेतु सर्वेक्षण कार्य को पूर्णतः त्रुटिरहित कराए जाने के लिए जनपद के प्रत्येक खंड विकास क्षेत्र में शिक्षक पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की गई है। यह कार्य बीएलओ ड्यूटी से पूर्णतः भिन्न एवं महत्वपूर्ण है। वर्तमान में विद्यालय संचालन का समय प्रातः दस बजे से सांय तीन बजे तक निर्धारित है। विद्यालय समय के पश्चात सर्वेक्षण कार्य हेतु ग्रामीण क्षेत्र से नगरीय क्षेत्रों में पहुंचने के लिए प्रत्येक शिक्षक पर्यवेक्षक को करीब 25-30 मिनट का समय लगता है।

इसके बाद घर-घर पहुंचकर सर्वेक्षण कार्य पूर्ण करा पाना अत्यंत कठिन प्रतीत हो रहा है, जिसके सम्बन्ध में पूर्व में सम्बंधित उच्चाधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है। परंतु अभी तक कोई संतोषजनक कार्यवाही नही हुई। ज्ञापन-पत्रों में विषय की गम्भीरता एवं समय की बाध्यता को देखते हुए शिक्षक पर्यवेक्षकों को शिक्षण कार्य से मुक्त करके सर्वेक्षण कार्य के दायित्व का पूर्ण निर्वहन कराने की मांग की गई है। ज्ञापन-पत्रों पर नितिन कुमार, रोहित राणा, आदित्य, शालिनी, प्रवीण, राजीव, परविंद्र, नीलम, अंजू, विकास, सूर्यकांत, अनुज, मुकेश, सुनील, कुलदीप, विशाल आदि के हस्ताक्षर अंकित है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here