जानें, डेरा सच्चा सौदा में चल रहे मानवता भलाई कार्यों की लिस्ट

सर्वधर्म सद्भाव, प्रेम और भाइचारे के साथ इन्सानियत की अलख जगा रहा डेरा सच्चा सौदा

सिरसा। दु:ख, मुसीबतों और बीमारियों से लाचार चेहरों पर मुस्कान खिलाने में ये माहिर है। बस किसी जरूरतमंद की पुकार इनके कानों तक पहुंची नहीं और दौड़ पड़ते हैं मदद को। चाहे बात किसी गंभीर बीमारी से जूझते मरीज के लिए खून की जरूरत हो, किसी भूखे को भोजन की दरकार हो, गरीबी के चलते बेटी के हाथ पीले करने में असमर्थ खाली हाथ पिता की हो या फिर सड़क पर बदहाल फिरते किसी मंदबुद्धि लाचार की हो। इन्हें इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि वो किस धर्म-जात का है या फिर इनका जानकार या कोई अंजान। इनके दिमाग में तो पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां के यही शब्द गूंजते हैं, ‘मुश्किल में फंसे लोगों की मदद करना ही सच्ची इन्सानियत है।’ जी, हाँ हम बात कर रहे हैं डेरा सच्चा सौदा के करोड़ा अनुयायियों की।

डेरा सच्चा सौदा कोई नया धर्म, मजहब, फिरका, संप्रदाय या कोई नई लहर नहीं है, यह एक आध्यात्मिक केन्द्र है, जिसमें सतगुरु मुर्शिद के हुक्म में रहते हुए परमात्मा की बंदगी की जाए, रूहानियत के सच्चे रहबर बेपरवाह शाह मस्ताना जी महाराज ने धर्म में आई जटिलताओं, कुरीतियों बाह्य कर्मकांडों से बचाने एवं आत्मा के कल्याण के लिए रूहानी कॉलेज डेरा सच्चा सौदा की स्थापना कर मानवता पर महान उपकार किया।

पूज्य गुरु संत डॉ गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां जी ने डेरा सच्चा सौदा में रूहानियत के साथ-साथ मानवता व समाज भलाई के 138 कार्य निर्धारित कर उन्हें गति प्रदान की। | Dera Sacha Sauda All Welfare Works List | 

1. शुभदेवी:- वेश्यावृत्ति में फंसी युवतियों को गुरू जी बेटी बनाते हैं ईलाज करवाकर, शादी करके मुख्य धारा में लाते हैं।
2. सुखदुआ:-किन्नरों (हिजड़ों) को सुखदुआ समाज का नाम देकर उनको अपनाना व समाज की मुख्य धारा में लाना।
3. नवजागृति:- (बैक टू नेचर):-समलैंगिक लोगों का इलाज करवाना व उन्हें जायज रिश्ते अपनाने की नसीहत देना।
4. शाही बेटियां:- भू्रण हत्या व लिंग भेद पर रोक लगाना। इसी उद्देश्य से पूज्य गुरूजी ने ऐसी लड़कियां जिनको गर्भ में मार देना था, अपनाया व माँ-बाप की जगह खुद का नाम दिया।
5. शाही आसरा:- अनाथ- बेसहारा लड़कों को अपनाना, उन्हें शिक्षा देकर आत्म निर्भर बनाना।
6. निरोग पथ:- कुष्ठ रोगियों को आश्रय देकर उनका इलाज करवाना, उन्हे आत्मनिर्भर बनाना।
7. दीपदान:- निसंतान दंपत्तियों को बच्चे गोद दिलवाना।
8. साथी:- विकलांगों को कृत्रिम अंग व व्हील चेयर देना।
9. इंसानियत:- दुर्घटनाग्रस्त व्यक्तियों को अस्पताल पहुंचाकर यथा संभव सहायता करना।
10. न्यू लाइफ:- गरीब मरीजों का मुफ्त इलाज करवाना।
11. ट्रयू लाइफ:- आवारा, मानसिक एवं शारीरिक विकलांगों की यथा संभव सहायता करना।
12. ट्रयू ब्लड पंप:- नियमित रूप से खूनदान करना।
13. अमर सेवा:- चिकित्सा व शोध कार्यों के लिए मरणोंपरांत शरीरदान।
14. ज्योति दान:- मरणोंपरांत नेत्रदान।
15. नन्हा फरिश्ता:- आधुनिक चिकित्सा सुविधाओं से सुसज्जित शाह सतनाम जी मोबाइल अस्पताल द्वारा नि:शुल्क चिकित्सा शिविर लगाना।
16. दिव्य ज्योति:- आंखों के नि:शुल्क कैंप लगाकर मरीजों के आप्रेशन, दवा व खानपान का मुफ्त प्रबंध करना ।
17. जन कल्याण:- जन कल्याण परमार्थी शिविर लगाकर विशेषज्ञ डाक्टरों द्वारा मरीजों का फ्री ईलाज करवाना।
18. ट्रयू हैप्पी:- हृदय रोगों की मुफ्त जांच व रोकथाम के उपाय बताना।
19. आयुर्वेद संजीवनी:- आयुर्वेदिक नुस्खों व योग पद्धति द्वारा बीमारियों का इलाज करवाना।
20. देव चरित्र:- मांसाहार त्यागने व शाकाहार अपनाने की प्रेरणा देना।
21. सभ्य इन्सां:- आदिवासियों को सभ्य रहन-सहन, शिक्षा व रोजगार देकर समाज की मुख्यधारा में लाना।
22. हैल्दी लाइफ:- बिना दवाई के नशों से छुटकारा दिलवाना।
23. जीव सुरक्षा:- जीव हत्या पर रोक लगाना।
24. रूहानी चरित्र:- रूहानी सत्संग द्वारा लोगों का चरित्र निर्माण करना।
25. आशीवार्द:- गरीब की शादी में आर्थिक मदद करना।
26. सच्ची शिक्षा:- आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थियों की सहायता करना।
27. आशियाना:- लाचार, बेसहारा लोगों व गरीब विधवाओं को मकान बनाकर देना।
28. फूड बैंक:- फूड बैंक द्वारा दीन दुखियों को मुुफ्त राशन प्रदान करना।
29. स्वच्छता अभियान:- सफाई अभियानों द्वारा लोगों को प्रदूषण व बीमारियों से बचाना।
30. नेचर कैम्पेन :-पर्यावरण संरक्षण हेतु पौधे लगाना।
31. रक्षा:- किसानों को पराली जलाने की बजाय गौशालाओं में चारे हेतु भेजने की प्रेरणा देना।
32. जलजाँ:- जल संरक्षण के लिए प्रेरित करना।
33. जीव सुरक्षा:- आवारा व बीमार पशु पक्षियों का इलाज करना।
34. क्लॉथ बैंक:- दीन दुखियों व लाचारों को मुफ्त कपडेÞ प्रदान करना।
35. आत्म निर्भरता:- बेरोजगारों को रोजगार के साधन उपलब्ध करवाना।
36. तकनीकी खेती:- (टैक्निकल फार्मिंग) बंजर भूमि को उपजाऊ बनाने व कम पानी से अधिक पैदावार के लिए किसानों को नई-नई तकनीक सिखाना।
37. पक्षियोंद्धार:- पक्षियों के लिए घरों की छत पर दाना (चोगा) व पानी की व्यवस्था करना।
38. सहमति:- पारिवारिक विवादों का आपसी सहमति से निपटारा करवाना।
39. आत्म सम्मान:- महिलाओं के लिए सिलाई, कढ़ाई व अन्य व्यवसायिक प्रशिक्षण केंद्र खोलना।
40. सर्वधर्म संगम:- धर्म, जाति आदि सभी भेदभाव मिटाकर भाईचारा कायम करना।
41. आपदा प्रबंधन:- आपदा प्रबंधन प्रशिक्षण देना।
42. अभिशाप मुक्ति:- दहेज प्रथा रोकना।
43. सुरीति:-लोगों को पाखंड, अंधविश्वास से दूर करना।
44. गर्भ पवित्र:-गर्भवती महिलाओं को सत्संग सुनने, भजन सुमिरन करने, योद्धा शूरवीरों की कहानियां पढ़ने व सुनने के लिए प्रेरित करना।
45. स्वस्थ-मस्त:-खेलों द्वारा युवाओं को बुराइयों से दूर करना।
46. ज्ञान कली :-लड़कियों की शिक्षा के प्रति लोगों को जागरूक करना।
47. आपदा मुक्ति:-बाढ़, भूकंप, बर्फवारी, सूखा इत्यादि प्राकृतिक आपदाओं के समय राहत पहुंचाना और पुर्नवास करवाना।
48. रू-ब-रू:-विवाह योग्य सत्संगी लड़के लड़कियों की शादी करवाना।
49. मदद:-चौबीस घंटे एंबुलैंस की सुविधा।
50. अग्नि रक्षक:-फायर बिग्रेड सेवा उपलब्ध करवाना।
51. अनोखी पहल:-जन्म, मृत्यु, विवाह आदि अवसरों पर फिजूल खर्च को रोककर मानवता भलाई में पैसा खर्च करने के लिए प्रेरित करना।
52. मोक्ष शांति:-लोगों को गुरूमंत्र (ईश्वर भक्ति का तरीका) द्वारा तनाव मुक्त जीवन जीने का रास्ता दिखाना और जन्म मरण से मुक्ति दिलाना।
53. आत्मरक्षा:-आत्म हत्या महापाप है। राम नाम द्वारा आत्मबल बढ़ाकर इसे रोकने की प्रेरणा देना।
54. सच्ची राह :-भ्रष्टाचार, लूटपाट आदि बुराइयों को समाप्त कर ईमानदारी जैसे सद्गुणों को पुनर्जीवित करना।
55. सही दिशा:-बाल विवाह रोकना।
56. बाल रक्षक:-बाल मजदूरी रोकना।
57. मुफ्त हक:-मुफ्त कानूनी सलाह उपलब्ध करवाना।
58. इंसानी चरित्र:-अश्लीलता रोकने और सत्संग, आध्यात्मिक साहित्य व संगीत पढ़ने, सुनने की प्रेरणा देना।
59. कायाकल्प:-बच्चों को पोलियो की बूंदें पिलवाना व पोलियो कैंप द्वारा मरीजों के मुफ्त आप्रेशन करवाना।
60. प्याऊ: सार्वजनिक स्थानों पर पीने के पानी की व्यवस्था करना।
61. जीवन आशा:-कम उम्र की विधवाओं की शादी करवाना।
62. एकम सुखम:-जनसंख्या नियंत्रण हेतु एक ही बच्चे के लिए प्रेरित करना।
63. नई सुबह:-तलाकशुदा युवतियों की शादी करवाना।
64. विरासत संभाल:- देश सेवा के दौरान अपंग हुए सैनिक या शहीद सैनिकों के परिवारजनों की यथा संभव सहायता करना।
65. राष्ट्र का श्रृंगार :- स्वतंत्रता सैनानियों की सहायता करना।
66. सच्ची प्रेरणा:-कभी भी रिश्वत न लेने व न देने के लिए लिखित में प्रण करवाना।
67. महादान दिल:-मरणोंपरांत दिल दान के लिए लिखित में प्रण करवाना।
68. महादान गुर्दा:-कानून के मुताबिक जीते जी व मरणोंपरांत गुदार्दान के लिए पे्ररित करना।
69. आदिवासी विवाह:-आदिवासियों को रूढ़ीवादी परम्पराओं से हटाकर सभ्य तरीके से विवाह करवाना व उन्हें जरूरत का सामान देना।
70. एड्स जागरूकता:- एड्स से रोकथाम व बचाव हेतु जागरूक करना।
71. अनाथ वृद्ध आश्रम का निर्माण।
72. देश व देश के बाहर जमा काला धन, दीन दुखियों की मदद में लगाने हेतु जागरूकता संदेश।
नोट:- साध संगत राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री महोदय से अनुरोध करती है कि कोई ऐसा फंड बनाएं जिसमें काला धन जमा करवाया जाए और दीन दुखियों की मदद में लगाया जाए।
73. कुल का क्राउन :- लड़के से ही वंश चलता है, इस भ्रम को दूर करके लड़की शादी करके दुल्हा घर लाएगी व लड़की से वंश चलेगा।
74. लज्जा रक्षा:- बेसहारा औरतों को सहारा देना।
75. कदम से कदम :- गुणवान विकलांगों की शादी करवाना और उनको रोजगार दिलवाना।
76. अपनों का सहारा:- झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले लोगों का जीवन स्तर सुधारना।
77. एक प्रयास:-स्कूल, कॉलेजों में चरित्र निर्माण हेतु नैतिक शिक्षा को बढ़ावा देना।
78. सहारा ए जीवन:-निशक्त लोगों तक सरकार द्वारा उपलब्ध सुविधाएं पहुंचाना।
79. सशक्त नारी:-लड़कियों को आत्मरक्षा हेतु प्रशिक्षण देना।
80. स्माइल आॅन इनोसेंट फेस:- गरीब बच्चों के लिए मुफ्त बुक बैंक व ट्वॉय बैंक खोलना।
81. ऊर्जा संरक्षण:-बिजली बचत के लिए प्रेरित करना।
82. बाय-बाय इथिन:- पॉलीथिन का प्रयोग बंद कर कपडे व कागज के थैलों को बढ़ावा देना।
83. सेव द टिनी हार्डशिप:- बाल श्रम (चाईल्ड लेबर) छुड़वाकर, शिक्षा द्वारा आत्म निर्भर बनाना।
84. गेट लाइट इन डार्क :- जेलों में कैदियों की जिंदगी सुधारना व अल्लाह, राम से जोड़ना।
85. परिश्रम से खाओ:- जुआ व सट्टे को खत्म करने के लिए मुहिम चलाना।
86. मदद-ए-इन्सानियत:- आतंकवाद पीड़ित परिवारों की मदद करना।
87. मेहनत नियामत:- भिखारियों को मेहनत करना सिखाकर उन्हें आत्म निर्भर बनाना।
88. रोशनी की राह:- अंधे व गूंगे बच्चों की शिक्षा का प्रबंध करवाना।
89. इंसानियत:-सार्वजनिक स्थानों पर घूमते पागल/मंदबुद्धि लोगों का इलाज करवाना व पता करके उनके घर पहुंचाना।
90. बंद कत्लेआम:- कानूनी कार्यवाही से बुचड़खाने बंद करवाना।
91. प्रदूषण मुक्त:-फसलों के अवशेषों को जलाने की बजाय खाद व तूड़ी बनाकर प्रदूषण रोकने की मुहिम।
92. जननी सत्कार:-गरीब गर्भवती महिलाओं को पौष्टिक आहार देना व इलाज करवाना।
93. नई जीवनधारा :- लोगों को चिंतामुक्त करने के लिए उन्हें राम नाम से जोड़कर उनकी पॉजीटिव सोच बनाना।
94. जननी-शिशु सुरक्षा:- गरीब जच्चा-बच्चा का भरण-पोषण करना।
95. शैतानियत बंद:- बच्चों के बेचने के व्यापार को रोकना।
96. बचाओ संस्कृति:- वेश्यावृत्ति के कोठों को कानूनी तौर पर बंद करवाना।
97. नई किरण:-विधवा बहु को बेटी बनाकर शादी करवाना।
98. गैरत-ए-इंसानियत:-लड़के लड़कियों को आपस में छेड़खानी व झूठे इल्जाम न लगाने के लिए लिखित में प्रण करवाना।
99. सर्वश्रेष्ठ कर्तव्य:- मां बाप का सम्मान करना और बुढ़ापे में उनका सहारा बनना।
100. मदार्नी भक्त वीरांगना:- शादी के लायक विकलांग लड़कों के साथ आत्मनिर्भर लड़कियों को शादी करने के लिए प्रेरित करना।
101. माँ-बेटा सम्भाल:- नि:शुल्क कैंप लगाकर गर्भवती महिला व उसके होने वाले बच्चे के लिए स्वस्थ संभाल व विकास के लिए जानकारी व दवाइयां प्रदान करना।
102. अस्थियों से परोपकार:- मानव अस्थियों से पेड़ लगाकर समाज को प्रदूषण मुक्त बनाना।
103. सेफ रोडस, सेफ लाइफ:- सड़क पर गिरे हुए पेड़ों और मरे हुए जानवरों को हटाना ताकि कोई दुर्घटना या हादसा न हो।
104. भक्त वीरांगना-ए-गाजी:- जो लड़कियां विधुर लड़कों से शादी करवाएंगी।
105. उड़ान आत्मबल की:- रंजिशवश जिन लड़कियों पर तेजाब डाला जाता है उनका ईलाज करवाना व उनकी शादियां करवाना।
106. उम्मीद से भी आगे :- जिन औरतों के साथ सामूहिक बलात्कार होता है उनका ईलाज करवाना और उनकी शादियां भक्तयोद्धा से करवाना।
107. बेगम सफर :- शारीकि रूप से अपंग, फुलवैरी, हकलाने जैसी समस्याओं से ग्रस्त लड़कियों की शादी भक्त योद्धाओं से करवाना।
108. अन्नदाता बचाओ मुहिम:- खेतीबाड़ी के जानकार समझदार सार्इंटिस्ट किसानों का ग्रुप जो किसानों के हित में खेतीबाड़ी की पूरी जानकारी देंगे, उनकी समस्याओं का हल समझाएंगे ताकि वे आत्महत्या की बात ना ही सोचें।
109. तनाव-मुक्ति मुहिम :- मानसिक तनाव से ग्रस्त लोगों के लिए हर महीनें अलग से कैम्प लगाना। माहिर डॉक्टरों द्वारा उनके तनाव को दूर करने की कोशिश करना ताकि वे मानसिक तनाव के कारण आत्महत्या जैसा अपराध ना कर बैठें।
110. स्वास्थ्य जागरूकता अभियान :- नॉन स्टिकी व ऐल्युमिनियम के बर्तनों का प्रयोग न करना और इसके बारे में लोगों को शिक्षा देना व जागरूक करना, ताकि इससे होने वाली बीमारियों से बचा जा सके।
111. स्किन बैंक :- स्किन बैंक खोलना जिसमें डैड बॉडी की स्किन को सेफ रख कर उससे ऐसिड पीड़ित या आग से हुई दुर्घटना के पीड़ितों का ईलाज करवाया जा सके।
112. स्वस्थ वंश परम्परा :- शादी तय करने से पहले लड़का व लड़की का ब्लड ग्रुप डाक्टरी सलाह के अनुसार चैक करवाना ताकि होने वाली संतान स्वस्थ पैदा हो।
113. देश भक्ति :- सरकार से परमिशन लेकर तथा सरकार व प्रशासन के साथ मिलकर सरकारी ईमारतों, दीवारों का रंग रोगन, साफ-सफाई व संभाल की जाएगी ।
114. स्वच्छ समाज:- गरीबी रेखा से नीचे परिवार जो अपने घर में शौचालय नहीं बना सकते, साध संगत उनके घरों में शौचालय बनाकर देगी ताकि खुले में शौच जाना बंद हो तथा बैक्टीरिया वायरस ना फैलें।
115. राहत-ए-इन्सानियत:- जिन बुजुर्गों के बच्चे किसी एक्सीडेंट में मारे जाते है या सेना या पुलिस सेवा के दौरान शहीद हो जाते है और इसी तरह जिन बच्चों का भी कोई सहारा नही रहता, साध संगत द्वारा उन्हें गोद लेकर उनकी हर तरह की सेवा व संभाल की जाएगी।
116. बेसहारों का रैन-बसेरा:- अपंग, अंगहीन जो बेसहारा लोग सर्दी में ठिठुर रहे हैं, उन्हें रैन-बसेरा (शहरों, नगरों, महानगरों में सरकारी रैन-बसेरा खुले हुए हैं, पर बहुतों को पता भी नहीं होता) में पहुंचाना और जहां कोई रैन-बसेरा नहीं है, उनके लिए हर तरह से इंतजामात करना, उन्हें ऐसे सर्दी के मौसम में ठंड से बचाना।
117. करियर गाईड:- पढ़ रहे बच्चे (विद्यार्थी) आमतौर पर अपने करियर का सही चुनाव नहीं कर पाते। ऐसे बच्चों को करियर काउंसलिंग के माध्यम से गाईड किया जाएगा, ताकि वे अच्छे करियर में अपने भविष्य को उज्ज्वल बना सकें।
118. विद्या दान:- आर्थिक तौर पर कमजोर, गरीब बच्चों को उनकी सहमति से एग्जाम के दिनों में पढ़े-लिखे सेवादारों द्वारा फ्री कोचिंग दी जाएगी (मुफ्त पढ़ाया जाएगा), ताकि उनका भी रिजल्ट अच्छा आए, वो कामयाबी हासिल कर सकें।
119. भाईचारे की भावना:- सम्पन्न (अमीर) लोग, परिवार सरकार द्वारा विभिन्न चीजों पर मिलने वाली सब्सिडी नहीं लेंगे, ताकि देश आर्थिक तौर पर और मजबूत हो व गरीब लोग इसका फायदा उठा सकें।
120. जज्बा-ए-भक्त:- भक्त योद्धाओं की विकलांग लड़कियों के साथ शादी करना।
121. सेवार्थ में बढ़ते कदम:- सारे समाज, पूरी दुनिया की भलाई की कामना करते हुए प्रार्थना करना कि हे मालिक, सबका भला कर। 10-15 मिनट सुमिरन करना और मानवता भलाई के लिए रोजाना कम से कम एक रूपया निकालना, ताकि पूरे समाज, दुनिया व मानवता का भला हो।
122. रूहानी कॉपल:- छोटे बच्चों में सुमिरन की आदत डालना कि हां बेटा, तू दस मिनट सुमिरन करेगा, तो तुझे दस, बीस, पचास या सौ रुपए या जो भी दे सकते हैं, माता-पिता उन्हें जेब खर्च के लिए दें। इस प्रकार घर में सुमिरन होगा, उनके अंदर अच्छे विचार पैदा होंगे, उनकी शरारतें व गलत आदतें खत्म होंगी उनका आत्मबल बढ़ेगा और घर में सुख-शांति, प्रेम व बरकतें आएंगी।
123. नशा मुक्त समाज:- सब ब्लॉकों के जिम्मेवार व साध-संगत अपने-अपने ब्लॉकों के सभी गांवों को नशा व बुराइयों से मुक्त करेंगे। जैसे पहले एक गांव को नशा मुक्त कर दिया फिर दूसरा, फिर तीसरा और इस तरह एक-एक करके अपने सारे के सारे ब्लॉक को नशा व बुराइयों से मुक्त बनाना है और इस तरह एक दिन पूरा समाज नशा आदि बुराइयों से मुक्त हो सकता है।
124. भरोसे का सहारा:- जो नौजवान लड़के-लड़कियां घर से भाग जाते हैं, उन्हें व उनके परिवार को समझाकर विवाह बंधन के द्वारा समाज में पुर्नस्थापित करने का प्रयास करना, ताकि वे और संबंधित परिवार बर्बादी और समाज की नफरत से बच जाएं।
125. आवारा पशुओं के सींगों पर रिफ्लैक्टर लगाना:- माहिर पशुओं के जानकार सेवादारों द्वारा आवारा पशुओं के सींगों पर कैमिकल लैस या रिफ्लेक्टर लगाए जाएंगे, ताकि पशु रात को अंधेरे में जब घूमते हैं, तो लोग एक्सीडेंट से बच जाएं।
126. सट्टा घर पट्टा:- सट्टेबाजी से दूर रहना व दूसरों को इससे दूर रहने के लिए प्रेरित करना।
127. चाईनिज उत्पादों का बहिष्कार:- चाईनिज उत्पादों का इस्तेमाल नहीं करना।
128. शेर-ए-हिन्द को सैल्यूट:- देश के रक्षक, सरहद पर तैनात आर्मी सैनिकों की यथा-संभव मदद करना।
129. आत्मरक्षा प्रशिक्षण:- वुमैन क्राईम के खिलाफ असामाजिक तत्वों से निपटने व आत्मरक्षा सिखाने हेतू प्रशिक्षित लड़कियों द्वारा गांव-गांव जाकर जूडो, ताईक्वांडो व मार्शल आर्ट का प्रशिक्षण देना।
130. मोबाईल वैल्फेयर वर्क : गरीब बच्चों को मुफ्त किताबें व खिलौने बांटना व फ्री शिक्षा का प्रबंध करनवाना। गरीबों की फ्री चिकित्सीय जांच, विशेषज्ञों से राय व जरूरत पड़ने पर ईलाज करवाना व राशन देना। आई. टी. विशेषज्ञों द्वारा नैट बैकिंग सिखाना। कुकिंग एक्सपर्ट्स द्वारा कुकिंग सिखाना।
131. काऊ मिल्क पार्टी:- पार्टियों में शराब व कबाब की बजाय गाय के दूध व उससे बने उत्पादों का इस्तेमाल करके गऊ माता के सम्मान को बढ़ाना।
132. शुभकामना:- बीमार का हाल-चाल पूछने जाते समय फलों के साथ-साथ शगुन की तरह उनकी आर्थिक मदद के लिए पैसा भी लेकर जाना।
133. ए ब्लेसिंग फॉर लाइफ:- हम अपने बच्चे का जन्मदिन जैसे पार्टी आदि देकर मनाते हैं, वैसे ही गरीब पढ़ने में असमर्थ बच्चों को स्कूल में दाखिला करवाकर जन्मदिन मनाना।
134. प्रदूषण नहीं फैलाना:- वातावरण में फैल रहे प्रदूषण को खत्म करने के उद्देश्य से साध-संगत प्रदूषण नहीं फैलाएंगे व प्रदूषण रोकने का हर संभव प्रयास करेंगे।
135. हम दो, हमारे दो; या हम दोनों एक, हमारा एक बच्चा होगा।
136. टीका लगवाएं – टीका लगवाने का संकल्प लें और दूसरों को कोविड-19 टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करें और उन्हें भी टीका लगवाएं।
137. वायरस से सुरक्षा-मास्क पहनें, दूसरों को भी इसके लिए प्रोत्साहित करें और जरूरतमंदों को मुफ्त मास्क प्रदान करें। सात फीट की दूरी बनाकर रखें।
138. गरीब व अनाथ छोटे बच्चे, जो बीमार हों उनका ईलाज करवाएंगे व खाने का सामान देंगे।
139. अनाथ मातृ-पितृ सेवा मुहिम
140. खाना खाने से पहले एक रोटी किसी जीव-जन्तु के लिए जरूर निकालेंगे।
141. हर घर मे तिरंगा, देश की आन, बान और शान को ऊँचा रखने का संकल्प।
142. बड़े रास्तों व शहरों में लगाएंगे मोबाइल टॉयलेट।
143.  पूरे देश को नशा मुक्त बनाने के लिए मुहिम ( (
DEPTH)
144. साध संगत प्रदूषण रहित गाड़ियां चलाने का लिया संकल्प।
145. घी या तेल के दीये जलाए, जो आपको ठीक लगे, सुबह और शाम, जलाओ। Flame Campaign

146. प्रति दिन दो घंटे 7 से 9 बजे तक मोबाइल से दूर रहेंगे। (SEED CAMPAIGN) Digital Fasting
147: नेत्रहीनों की परीक्षाओं के पेपर लिखकर मदद करेंगे डेरा सच्चा सौदा के पढ़े-लिखे सेवादार। इसके लिए सेवादार नेत्रहीनों के स्कूल, कॉलेज युनिवर्सिटी में अपने नाम दर्ज करवाएंगे ताकि परीक्षाओं के वक्त उनकी मदद ली जा सके।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here