आयोजन। लंबे समय बाद हुई जिला कष्ट निवारण समिति की मीटिंग

0
210
District Committee

श्रम मंत्री अनुप धानक ने सुने 20 परिवाद, आठ निपटाएं

  • पटवारी को किया निलंबित
  • मंत्रीमंडल विस्तार मुख्यमंत्री व उपमुख्यमंत्री का अधिकार क्षेत्र

भिवानी (सच कहूँ न्यूज)। श्रम एवं रोजगार मंत्री अनुप धानक ने कहा कि हरियाणा में मंत्रीमंडल विस्तार व नए चेयरमैन की नियुक्ति मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर व उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के अधिकार क्षेत्र में हैं। ये बात उन्होंने भिवानी में जिला कष्ट निवारण समिति की त्रिमासिक बैठक में समस्याओं को निपटाने के बाद पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कही। भिवानी जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक में रखे गए 20 परिवादों में से आठ परिवादों को श्रम मंत्री अनुप धानक ने मौके पर ही निपटाया तथा शेष 12 परिवादों को निपटाने को लेकर जिले के अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए।
भिवानी जिला के गांव दरियापुर के पटवारी छबीलदास के खिलाफ ग्रामीणों द्वारा समिति की बैठक में लापरवाही का मामला प्रकाश में लाए जाने के बाद श्रम मंत्री ने अधिकारियों से मीटिंग के बाद मौके पर ही पटवारी को लापरवाही बरतने के आरोप में निलबिंत कर दिया।

पटवारी पर पिछले तीन वर्षों से गांव के गिरदावरी कार्यों में अनियमित्ताओं का आरोप था, जिसे बार-बार शिकायत के बावजूद भी ठीक नहीं किया जा रहा था। इस मौके पर बिजली, पानी, सड़क, अवैध अतिक्रमण सहित विभिन्न मामलों को श्रम मंत्री ने सुना तथा उनका निपटान किया। श्रम एवं रोजगार मंत्री अनुप धानक ने कहा कि विकास कार्यों में अनियमित्ता बरतने वाले अधिकारी व कर्मचारियों के साथ सख्ती से निपटा जाएगा। गौरतलब है कि कोरोना महामारी के कारण कष्ट निवारण समिति की मीटिंग लंबे समय तक नहीं ली गई थी। किसानों के घेराव को देखते हुए जिला प्रशासन ने मीटिंग स्थल भिवानी के पंचायत घर के सभी रास्तों पर बैरिकेट व भारी पुलिस तैनात कर रखा था।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramlink din , YouTube  पर फॉलो करें।