दिव्यांग जनों को ‘सिरतार’ में मिलेगी नि:शुल्क शिक्षा

0
335
Divyang people sachkahoon

गवर्निंग बॉडी की 5वीं बैठक में लिया फैसला

चंड़ीगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री ओमप्रकाश यादव ने कहा कि प्रदेश के दिव्यांगजन अब राज्य पुर्नवास, प्रशिक्षण एवं शोध संस्थान (सिरतार) रोहतक में नि:शुल्क शिक्षा ग्रहण कर सकेंगे। इस संस्थान में लम्बे समय से विद्यार्थियों से वसूल किए जा रहे पंजीकरण शुल्क, मासिक शुल्क तथा होस्टल फीस पूरी तरह से माफ कर दी है। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री की अध्यक्षता में यहां हुई ‘सिरतार’ गवर्निंग बॉडी की 5वीं बैठक में यह निर्णय लिया गया।

उन्होंने बताया कि इससे पहले संस्थान में पढ़ रहे दिव्यांगजनों से उक्त शुल्क लिए जाते थे, जिसके कारण उन्हें दिक्कत महसूस होती थी। इस संस्थान में जेबीटी, बीएड, पीजीडीआरपी सहित अन्य पाठ्यक्रमों की विशेष शिक्षा दी जाती है। इसमें करीब 150 दिव्यांग विद्यार्थियों के शिक्षा ग्रहण करने की व्यवस्था हैं। इसके साथ ही सिरतार के निदेशक तथा प्राचार्य को आकस्मिक खर्च की सीमा को बढ़ाया गया है। इसके तहत अब निदेशक 40 हजार तथा प्राचार्य 10 हजार रुपए तक मासिक खर्च कर सकेंगे।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramlink din , YouTube  पर फॉलो करें।