Dry Fruit Pinni: शरीर की कमजोरी और सर्वाइकल की समस्या को दूर करेंगी पिन्नी, यहां जाने बनाने की रेसिपी

Dry Fruit Pinni
Dry Fruit Pinni: शरीर की कमजोरी और सर्वाइकल की समस्या को दूर करेंगी पिन्नी, यहां जाने बनाने की रेसिपी

Pinni Recipe: सर्दियां शुरू हो गई है और सर्दियों में हर किसी को कमजोरी और खांसी-जुकाम की दिक्कत रहती है। वही अगर आपके भी घर में किसी को थकान या कमजोरी महसूस होती है या फिर आप पूरे दिन कंप्यूटर के सामने बैठे रहते हैं और इस कारण आपकी आंखों में दर्द और थकान सी होती है, या फिर आपको कोई पुराने से पुराना दर्द जैसे कमर दर्द, घुटनों को दर्द परेशान कर जाता है या फिर सर्वाइकल की प्रोब्लम ज्यादा बढ जाता है, तो इसके लिए लेकर आए है हम पिन्नी के रेसिपी। जिससे आप घर पर बनाकर खा सकते है इससे खाने से अपके शरीर की कमजोरी दूर होगी और सर्वाइकल की दिक्कत भी नहीं रहेगी। Dry Fruit Pinni

Blood Sugar: ब्लड शुगर चेक करना हुआ आसान, सुई से नहीं अब इससे की जाएगी डायबिटीज की जांच, ये ऐप करेंगा मदद

Dry Fruit Pinni
Dry Fruit Pinni: शरीर की कमजोरी और सर्वाइकल की समस्या को दूर करेंगी पिन्नी, यहां जाने बनाने की रेसिपी

पिन्नी बनाने की सामग्री | Pinni Recipe

  • 150 ग्राम देशी घी
  • आधा कप बादाम
  • 50 ग्राम काजू
  • कन्नी यानि गोंद
  • तरबूज के बीज, इच्छानुसार
  • कद्दूकस किया हुआ गोला
  • 30 ग्राम मखाने
  • 150 ग्राम सूजी
  • 150 ग्राम गुड़

बनाने की विधि | Dry Fruit Pinni

पिन्नी बनाने के लिए सबसे पहले आपको 150 ग्राम यानी एक कप घी लेना हैं, इसके बाद काजू, बादम और मखाने को हल्का-हल्का भून लेना है जब तक वे ब्राउन से न हो जाए, फिर गोंद को भून लें। इसके बाद गोला, तरबूज के बीज और किसमिश को हल्का सा भून लेना है ध्यान रहे की इन्हें ज्यादा ना भूने। इसके बाद इन सबको कढ़ाही से अलग निकालकर सूजी को भूनाना है सूजी को इतना ही भूने ताकि वो ब्राउन हो जाए। इसके बाद मखाने, बादाम, गोंद, काजू, सभी ड्राई फ्रूट्स को बारी बारी से मिक्सी में पीस लें। इसके बाद भूनी हुई सूजी में मिक्स किए हुए सभी ड्राई फ्रूट्स को मिला लें, और दूसरी तरफ गैस में कढ़ाही रखकर उसमें 150 ग्राम गुड़ और एक कप पानी डालकर उसे अच्छे से पका ले एक उबाल आने के बाद उसे उतार ने और पिन्नी बनाने के लिए जो ड्राई फ्रूट्स और सूजी की सामग्री तैयार की थी उसमें छान लें और अच्छे से मिक्स करके छोटे-छोटे लड्डू बांध ले और पिन्नी तैयार है।

White Hair Problem Solution: सफेद बालों को जड़ से हमेशा के लिए काला करने का सबसे जबरदस्त नुस्खा?

घीः घी में विटामिन ए, विटामिन डी और विटामिन ई भरपूर मात्रा में पाया जाता है। घी ह्दय को स्वस्थ रखने में काफी फायदा करता है। कैंसर की रोकथाम के लिए भी घी को काफी ज्यादा फायदेमंद माना जाता है। Dry Fruit Pinni

बादामः बादाम में विटामिन ई की मात्रा पाई जाती है, इसे खाने से चेहरे पर झुर्रियां और फाइन लाइन्स की समस्या दूर होती है। बादाम में फास्फोरस होता है जो हड्डियों और दांतों को मजबूत बनाने का काम करता है।

काजूः विटामिन और मिनरल्स का सबसे बेहतरीन सोर्स है काजू, यह कोलेस्ट्रॉल को कम करने में भी काफी फायदेमंद होता है। वहीं अगर हार्ट हेल्थ अगर दिल के लिए हेल्दी फूड आइटम्स की बात आती है तो नट्स में काजू पहले नंबर पर ही आता है।

गोंदः प्रोटीन, फाइबर, विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर गोंद का सेबन हार्ट से लेकर कैंसर जैसी वीमारियों की संभावनाओं को कम करता है। सर्दियों में इसे खाने से पुरानी खांसी, जुकाम, फ्लू और इंफेक्शन जैसी समस्याएं पास भी नहीं फटकती। इसके अलावा इसे खाने से इम्यूनिटी भी मजबूत होती है।

Diabetes Control Tips: सर्दियों में डायबिटीज के मरीज करें इन 11 चीजों का सेवन, सेहत को मिलेगा गजब का फायदा और शुगर लेवल भी होगा कम

तरबूज के बीजः तरबूज के बीज में मोनोअनसैचुरेटेड और पॉलीअनसेचुरेटेड फैटी एसिड पाए जाते हैं, जो हार्ट अटैक और हार्ट स्ट्रोक की संभावना को कम करता हैं। इनमें मौजूद मैन्नीशियम ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में मददगार होते ह । तरबूज के बीज की एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटी ऑक्सीडेंट प्रॉपर्टीज आपकी हार्ट को हेलदी रखने में मदद करती है।

गोलाः गोला खाने से शरीर को कई तरह के लाभ मिलते हैं, जैसे.. बालों में नैचुरल मॉइश्चर बना रहता है औऱ बाल शाइनी बनते है। कमजोर नेल्स की समस्या दूर होती है क्योंकि गोला नाखूनों मजबूती और चमक को बढ़ाता है।

मखानेः मखाने में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो सूजन और ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करने में मदद कपके हैं, मखाने में फाइबर की मात्रा अधिक होती है, जिस कारण याह पाचन के लिए अच्छा माना ही जाता हैं साथ ही कब्ज की समस्या को भी दूर करने में मखाने को फायदेमंद माना जाता है।

अस्वीकरण: लेख में दी गई जानकारी आपकी सामान्य जानकारी के लिए प्रदान की गई हैं, यह किसी इलाज का विकल्प नहीं हो सकती। ज्यादा जानकारी के लिए आप अपने डाक्टर से संपर्क कर सकते हैं या किसी एक्सपर्ट की सलाह ले सकते हैं।