ईडी की राहुल गांधी से पूछताछ जारी, कांग्रेस नेताओं को लिया हिरासत में

Rahul Gandhi

नई दिल्ली (सच कहूँ न्यूज)। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष पेशी के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सोमवार को दिल्ली में जबर्दस्त प्रदर्शन किया जिसके कारा पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं और कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया। (Rahul Gandhi) ईडी के समक्ष पेशी के लिए जाने से पहले पार्टी मुख्यालय 24 अकबर रोड़ पहुंचे जहां बड़ी संख्या में मौजूद कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता उनके स्वागत के लिए मौजूद थे इस दौरान उनके साथ पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी भी पार्टी मुख्यालय से गांधी के साथ ईडी कार्यालय के लिए रवाना हुए।

मुख्यालय में पार्टी नेता दिग्विजय सिंह, प्रमोद तिवारी, जयराम रमेश, केसी वेणुगोपाल, हरीश रावत, मुकुल वासनिकस अशोक गहलोत, पीएल पुनिया, गौरव गोगोई पवन खेड़ा संचार विभाग के प्रमुख रणदीप सिंह सुरजेवाला ने बताया कि उन्हें किस तरह से इस विरोध प्रदर्शन में शामिल होना है। गांधी जब ईडी के सामने पेश हुए तो उत्तेजित कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने दिल्ली में जगह-जगह विरोध प्रदर्शन किया।

विरोध प्रदर्शन में शामिल होने के आरोप में तुगलक रोड पुलिस लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, महासचिव केसी वेणुगोपाल, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, पार्टी नेता दीपेंद्र सिंह हुड्डा को तथा मंदिर मार्ग पुलिस ने रजनी पाटिल, अखिलेश प्रताप सिंह, एल हनुमंता सहित कई अन्य नेताओं को हिरासत में लिया गया। पार्टी महासचिव वाड्रा गांधी को ईडी के दफ्तार में छोड़ने के बाद तुगलग रोड़ थाने गई जहां गांधी की पेशी के विरोध में प्रदर्शन कर रहे नेताओं को हिरासत रखा गया है। वहीं ईडी की राहुल गांधी से पूछताछ जारी है।

उप्र कांग्रेस का दावा : अराधना मिश्रा और नसीमुद्दीन को किया घर में नजरबंद

नेशनल हेराल्ड मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के समक्ष कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की सोमवार को पेशी के विरोध में उत्तर प्रदेश कांग्रेस की विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा ‘मोना’ और मीडिया प्रभारी नसीमुद्दीन सिद्दिकी को घर में ही नजरबंद करने का प्रदेश कांग्रेस ने दावा करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) आम जनता की आवाज दबाना चाहती है। प्रदेश कांग्रेस के प्रिंट मीडिया प्रभारी अशोक सिंह ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को नजरबंद किये जाने की जानकारी देते हुए कहा कि कहा लोकतंत्र में दमनकारी नीति अपनाकर भाजपा आम जनता की आवाज दबाना चाहती है।

उन्होंने इस पर आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि भाजपा सरकार विपक्ष को डराने की कोशिश कर रही है। सिंह ने कहा कि राहुल गांधी की ईडी के समक्ष पेशी के बाद भाजपा के खिलाफ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने लखनऊ में ईडी के दफ्तर के सामने प्रर्दशन कर गिरफ्तारी की। हुसैनगंज थाने की पुलिस ने प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पर एक नोटिस चस्पा कर इलाके में दंड विधान की धारा 144 लागू होने के हवाले से किसी भी तरह के धरना प्रदर्शन आदि न करने की ताकीद पहले ही कर दी थी।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here