कैथल में हुई धुंध की शुरुआत, पुलिस ने जारी की एडवाइजरी

Kaithal News
कैथल में हुई धुंध की शुरुआत, पुलिस ने जारी की एडवाइजरी

फसलों के लिए होगी फायदेमंद साबित | Kaithal News

कैथल (सच कहूँ/कुलदीप नैन)। मंगलवार की सुबह की शुरुआत धुंध (Fog) से हुई जरूर, लेकिन कोहरा न होने की वजह से ठंड का नाम मात्र ही अहसास हुआ। सुबह के समय धुंध की वजह से वाहनों की रफ्तार जरूर थोड़ी धीमी हुई और उनको हेडलाइट जलाकर निकलना पड़ा। धुंध का असर शहर की बजाए ग्रामीण क्षेत्रों में ज्यादा देखने को मिला। कैथल में मंगलवार को अधिकतम तापमान 23 और न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। Kaithal News

दिसंबर का महीना जरूर शुरू हो गया है लेकिन कोहरा न पड़ने और सुबह से धूप निकलने की वजह से दिसंबर में पड़ने वाली सर्दी का अहसास लोगों को अभी उतना नहीं है जितना होना चाहिए। ऐसी स्थिति में अभी सुबह और रात में ही सर्दी का अहसास हो रहा है।

अभी कोहरा नहीं धुंध है, सर्दी फसलों के लिए फायदेमंद | Kaithal News

मौसम वैज्ञानिको के अनुसार अभी कोहरा नहीं पड़ रहा है। यह धुंध है। कोहरा पड़ने से तापमान में गिरावट आने से सर्दी का अहसास होता है। सर्दी का पड़ना गेहूं, सरसों इत्यादि फसल के लिए काफी फायदेमंद है। हालांकि सर्दी ज्यादा पड़ जाए तो इसका सबसे ज्यादा असर आलू की फसल पर पड़ता है। अभी तक सर्दी और कोहरा न पड़ने से ऐसी स्थिति देखने को नहीं मिली है।

कैथल पुलिस ने जारी की एडवाइजरी

एसपी उपासना ने एडवाइजरी जारी करते हुए बताया कि आने वाले दिनों में कोहरे व धुंध के चलते सडकों पर विजिबिलिटी कम रहेगी। कोहरे के मौसम में वाहन चलाते समय यात्रियों को अधिक सावधान और सतर्क रहने की जरूरत है। उन्होंने धीमी और रक्षात्मक ड्राइविंग पर भी जोर देते हुए कहा कि यातायात नियमों का पालन करते हुए लोग जितना अधिक सुरक्षात्मक रूप से वाहन चलाएंगे, सफर भी उतना ही सुरक्षित होगा। वाहन चालक आगे चलने वाले वाहनों से उचित दुरी बनाए रखें और फॉग लाइट और इंडिकेटरस लगातार ओन रखें।

इसके अतिरिक्त, पुलिस ने चालकों से लो-बीम लाइट के साथ ड्राइव करने का भी अनुरोध किया है क्योंकि हाई-बीम कोहरे विजिबिलिटी को कम करती है। उन्होंने वाहन चालकों से लेन बदलने और ट्रैफिक क्रोस करने से बचने का अनुरोध करते हुए कहा कि वाहन चालक सडक पर पेंट की गई सफेद लाइन के अंदर ड्राइव करें। ड्राइवरों को मोबाइल फोन और लाउड म्यूजिक सिस्टम के इस्तेमाल से भी बचना चाहिए। घना कोहरा होने पर, एक सुरक्षित स्थान पर रूकते हुए कोहरे के कम होने की प्रतीक्षा करना एक सुरक्षित सफर के लिए महत्वपूर्ण है। Kaithal News

यह भी पढ़ें:– ”सुखदेव गोगामेड़ी ने कई बार सुरक्षा मांगी थी मगर…”