सरकार बेखबर, यहां गंदे पानी से प्यास बुझा रहे लोग

0
200
Dirty Water

वार्ड नंबर 2 में दर्जनों लोग उल्टी-दस्त व बुखार से पीड़ित (Dirty Water)

सच कहूँ/विनोद शर्मा फतेहाबाद। नगर पालिका भूना के पास करोड़ों रुपये खजाने में रखे हुए हैं, परंतु उसके बावजूद वार्ड नंबर 2 के लोग मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं। एक करोड़ से भी अधिक लागत से तीन साल पहले दर्जनो गलियां इंटरलॉकिंग पक्की बनाई गई थी। जो सीवरेज पाइप लाइन दबाने के दौरान अव्यवस्थाओं की भेंट चढ़ गई। वार्ड की बंसल कॉलोनी में सीवरेज पाइप लाइन में अभी कोई कनेक्शन नहीं हुआ है। परंतु इसके बावजूद पीने का पानी गंदगी एवं बदबू युक्त आ रहा है। गरीब लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना का कोई लाभ नहीं मिला।

योजना को लेकर आवेदन जमा करवाए व जमीन के नक्शे बनवाकर आर्थिक रूप से नुकसान जरूर कर दिया गया। लेकिन पिछले कई वर्षों से नगर पालिका कार्यालय के धक्के खा रहे हैं, परंतु एक रुपये का अनुदान नहीं मिला। बता दें कि इस वार्ड में 1276 मतदाता व 3700 के करीब आबादी है। इसमें 700 के करीब मतदाता शहर से बाहर ढाणियों में रहते हैं।

समस्याओं को लेकर वार्डवासियों की जुबानी

‘‘सीवरेज व पीने के पानी की लाइन का कनेक्शन कहीं एक साथ गलत जुड़ गया है। इसलिए वार्ड में पीने का गंदा पानी सप्लाई हो रहा है। समस्या समाधान के लिए दर्जनों बार जनप्रतिनिधि एवं नगर पालिका अधिकारियों को अवगत करवाया। परंतु समस्या वही ढाक के तीन पात कहावत जैसी बन कर रह गई है।
-सुनीता कड़वासरा वार्डवासी

‘‘वार्ड नंबर-2 की बंसल कालोनी में जनस्वास्थ्य विभाग की ओर से सीवर लाइन बिछाई जा चुकी है, मगर पीने के पानी की लाइन के साथ कहीं अटैच होने से दूषित पानी की सप्लाई हो रही है। जन स्वास्थ्य विभाग व नगरपालिका अधिकारियों का आपस में तालमेल नहीं है, जिसकी वजह से वार्ड वासी परेशान है।
-ओमपति देवी, वार्ड वासी।

‘‘थोड़ी सी बारिश होते ही गलियां दलदल का रूप ले लेती हैं। लोग अपने घरों के भीतर कैद हो कर रह जाते हैं। बारिश तब तक लोगों के लिए मुसीबत बनी रहती है जब तक कीचड़ खत्म नहीं हो जाता। सीवर की लाइन डालने के बाद कई जगह से जमीन नीचे धंस चुकी है, जिसमें कई बार वाहन धंस जाते हैं।
-संतरो देवी, वार्ड वासी

‘‘वार्ड नंबर 2 में करोड़ों रुपए की लागत से कच्ची गलियों को पक्का किया गया था। परंतु निकासी व्यवस्था न होने के कारण गलियों की हालत खस्ता हो गई। वही सीवरेज पाइप लाइन दबाने के दौरान सड़क के टूट गई हैं। जिनके निर्माण को लेकर कई बार अधिकारियों को अवगत कराया। मगर कोई भी सुनाई नहीं हुई।
भूपेंद्र कौर, निवर्तमान पार्षद वार्ड-2।

‘‘वार्ड नंबर 2 में बंसल कॉलोनी की जमीन का लेवल काफी नीचा है। इसलिए टक्की मोहल्ले व आसपास एरिया का पानी कॉलोनी में एकत्रित हो जाता है। इसलिए समस्या समाधान के लिए मास्टर प्लान तैयार किया जा रहा है। दूषित पीने के पानी की समस्या का समाधान भी जन स्वास्थ्य विभाग की टीम पिछले कई दिनों से करने में लगी हुई है। लेकिन सीवर पाइप लीकेज का अभी पता नहीं लग पाया है।
-सुरेंद्र कुमार, जेई नगर पालिका

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।