विदेशी मरीजों से फर्जी पुलिसकर्मियों द्वारा ठगी की घटनाओं पर गुरुग्राम पुलिस अलर्ट

ठग खुद को पुलिसकर्मी बताकर चेकिंग के नाम पर करते हैं ठगी

  • ऐसी घटनाएं रोकने के लिए पुलिस की महत्वपूर्ण बैठक

गुरुग्राम। (सच कहूँ/संजय कुमार मेहरा) गुरुग्राम के अस्पतालों में उपचार के लिए आने वाले मरीजों से ठगी की वारदातों को लेकर गुरुग्राम पुलिस अलर्ट हो गई है। मंगलवार को इस पर बैठक करके पुलिस ने मंथन किया और ऐसी घटनाएं रोकने के लिए पुलिस को ठगों पर नजर रखने के निर्देश दिए गए। गुरुग्राम के अनेक निजी अस्पतालों में इलाज के लिए काफी संख्या में विदेशी नागरिक आते हैं। इन विदेशी नागरिकों के साथ कई बार कुछ ठगों द्वारा अपने आपको पुलिसकर्मी बताकर चेकिंग के नाम पर उनसे ठगी की वारदातें की हैं।

इस प्रकार की घटनाओं की पर अंकुश लगाने के लिए मंगलवार को पुलिस उपायुक्त पूर्व विरेन्द्र विज ने सभी एसीपी, एसएचओ व अस्पताल के सिक्योरिटी मैनेजमेंट के अधिकारियों के साथ बैठक की गई। विरेन्द्र विज ने कहा कि विदेशी नागरिकों को जागरूक करने के लिए पैम्पलेट छपवायें। इन्हें प्रत्येक अस्पताल, गेस्ट हाउस व होटलों आदि के मुख्य द्वार, बाहर व रिसेप्शन पर लगवाएं। सभी अस्पतालों के सिक्योरिटी चीफ, मार्केटिंग टीम को निर्देश दिये गये कि आने-जाने वाले विदेशी मरीजो को सबसे पहले ब्रीफ किया जाये कि रास्ते में पुलिस द्वारा उनका विजा, पासपोर्ट आदि चैक नहीं किया जाता है। उनके पास उपलब्ध नकदी की सुरक्षा के लिए व्यापक इन्तजाम कराया जाये व अस्पतालों में लॉकर की सुविधा उपलब्ध कराई जाये।

विदेशी मरीजों को जब कभी भी वाहन द्वारा अस्पताल से उनके निवास या निवास से अस्पताल लाया जाता है तो उस वाहन की नम्बर प्लेट की फोटो खींचकर एवं चालक के ड्राईविंग लाईसेन्स की कॉपी अपने पास अवश्य रखें। अस्पताल के मुख्य द्वार पर लगे हुये सीसीटीवी कैमरों की दृश्यता दूर तक हो एवं कैमरों की संख्या बढ़ाई जाये। विदेशी नागरिक जब भी इलाज के लिये आता हो या जाता हो, इन्टरप्रेटर उसके साथ अवश्य हो एवं वह सभी दिशा निर्देशों को विदेशी मरीज को उसी की भाषा में समझाने की व्यवस्था करें।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here