हरियाणा : स्कूलों में चार माह से नहीं बंटा मिड-डे मील

0
317
Haryana-Mid-day-meal sachkahoon

जुलाई व अगस्त का राशन बांटने के आदेश जारी, पर राशन नहीं भेजा

  • मई व जून में छुट्टियों के चलते नहीं दिया राशन

सच कहूँ/संजय मेहरा, गुरुग्राम। स्कूल शिक्षा विभाग की विद्यार्थियों को मिड-डे मील के रूप में दिए जाने वाले राशन को लेकर यह बड़ी उदासीनता ही कही जाएगी कि चार महीने (मई, जून, जुलाई, अगस्त) का राशन छात्रों को नहीं बांटा गया है। कहने को तो अब विभाग ने जुलाई व अगस्त का राशन बांटने के आदेश जारी कर दिए हैं, लेकिन राशन स्कूलों में नहीं पहुंचाया है। ऐसे में ये आदेश भी बेमानी ही साबित हो रहे हैं।

कोरोना महामारी के चलते सरकार ने विद्यार्थियों को मिड-डे मील के रूप में राशन बांटने की योजना तैयार की थी। शैक्षणिक सत्र 2021-22 मई 2021 से शुरू हुआ है। सत्र शुरू होने के बाद से अब तक स्कूलों के बच्चों को मिड-डे मील नहीं दिया गया है। मिड-डे मील योजना के तहत पहली से आठवीं कक्षा के छात्रों को सूखा राशन (गेंहू व चावल) वितरित करने के आदेश शिक्षा निदेशालय ने करीब एक माह पूर्व जारी किये थे। जिसमें जुलाई के 25 दिनों व अगस्त माह के 24 दिनों का राशन बच्चों के घरों पर पहुंचाना था। मौलिक शिक्षा हरियाणा के निदेशक ने प्रदेश के सभी जिला मौलिक शिक्षा अधिकारियों को पत्र भेजकर राशन वितरित कराने के निर्देेश दिए थे।

गुरुग्राम में इस्कॉन फूड फाउंडेशन के माध्यम से मिड-डे मील योजना के तहत दोपहर का राशन वितरित करवाया जाता है। फाउंडेशन द्वारा गेहूं व चावल स्कूलों तक पहुंचाने को कहा था। खाना बनाने का खर्चा बच्चों के बैंक खातों में डालने की बात कही थी। इस सारी प्रक्रिया की तैयारी के बाद भी अब तक बच्चों को मिड-डे मील के रूप में राशन का एक दाना भी नहीं मिल पाया है। क्योंकि राशन बांटने के आदेश तो दे दिए गए, लेकिन राशन पहुंचाया ही नहीं दिया। इसमें एक विशेष बात यह भी है कि सत्र शुरू होने के दो महीनों मई व जून-2021 को तो विभाग भूल ही गया। यानि इन दो महीनों का राशन बांटने के कोई आदेश जारी ना करके सिर्फ जुलाई व अगस्त-2021 का राशन बांटने के आदेश दिए गये हैं। कयास लगाये जा रहे हैं कि पहले के दो महीनों का राशन शायद ही बांटा जाए।

ऐसे दिया जाना है राशन

मिड-डे मील के रूप में जुलाई माह में पहली से पांचवीं कक्षा के छात्रों को 100 ग्राम राशन प्रतिदिन के हिसाब से 25 दिन का कुल 2 किलो 500 ग्राम राशन तय किया गया, जिसमें 1 किलो 125 ग्राम गेंहू व 1 किलो 375 ग्राम चावल देने की बात कही गई। छठी से आठवीं कक्षा तक 150 ग्राम राशन प्रतिदिन के हिसाब से 3 किलो 750 ग्राम राशन दिया जाएगा। जिसमें 1 किलो 688 ग्राम गेंहू व 2 किलो 62 ग्राम चावल शामिल रहे। अगस्त माह में पहली से पांचवीं कक्षा के छात्रों को 100 ग्राम राशन प्रतिदिन के हिसाब से कुल 2 किलो 400 ग्राम राशन, जिसमें 1 किलो 80 ग्राम गेंहू व 1 किलो 320 ग्राम चावल देने को कहा गया। छठी से आठवीं कक्षा तक 150 ग्राम राशन प्रतिदिन के हिसाब से 3 किलो 600 ग्राम राशन में 1 किलो 620 ग्राम गेंहू व 1 किलो 980 ग्राम चावल देने तय किए गए।

जल्द ही बांटा जाएगा राशन: प्रबंधक

राशन आवंटन को लेकर इस्कॉन फूड फाउंडेशन के प्रबंधक राहुल श्रीवास्तव का कहना है कि जुलाई और अगस्त का राशन जल्द ही बांटा जाएगा। एफसीआई से उठान होना है। उसके बाद आवंटन होगा। मई व जून के राशन पर उन्होंने कहा कि गर्मियों की छुट्टियों के कारण इन दो महीनों का राशन नहीं दिया जाएगा।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।