हुनर के ओलंपिक में चीन जाकर कौशल दिखाएंगे हरियाणवीं छोरे, 2022 में आयोजित होगी प्रतियोगिता

0
280
Olympics-of-skill

गुरुग्राम में 22 आईटीआई के 500 विद्यार्थियों ने दिखाई प्रतिभा

सच कहूँ/संजय मेहरा
गुरुग्राम। चीन के शंघाई शहर में वर्ष 2022 में आयोजित किए जाने वाले हुनर के ओलंपिक यानी विश्व कौशल प्रतियोगिता हरियाणवीं छोरे भी अपना कौशल दिखाएंगे। इसके लिए हुनरमंद युवाओं को राज्य स्तर पर तराशा, तलाशा जा रहा है। इसी कड़ी में वीरवार को आईटीआई गुरुग्राम में राज्य स्तरीय स्किल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इनमें प्रदेश की 22 आईटीआई से करीब 500 विद्यार्थियों ने अपने कौशल का प्रदर्शन किया। हरियाणा कौशल विकास निगम के निदेशक अनंत प्रकाश पांडे मुख्य अतिथि के रूप में यहां पहुंचे।

उन्होंने यहां प्रतियोगिता में प्रश्नपत्रों के सील बंद लिफाफे का रिबन काटकर शुभारंभ किया। अनंत प्रकाश पांडे ने कहा कि हरियाणा की भूमि उम्मीदों व ऊर्जा की भूमि है। प्रदेश के युवा किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं है। हाल ही में संपन्न हुए टोक्यो ओलंपिक इसका ताजा उदाहरण है।

विश्व स्तर पर चयन को अभी इम्तिहान बाकी

राष्ट्रीय कौशल विकास निगम के स्टेट इंगेजमेंट अधिकारी रजत भटनागर ने इस पूरी चयन प्रक्रिया की जानकारी देते हुए बताया कि वीरवार को प्रतियोगिता में 23 विभिन्न स्किल्स के तहत प्रतियोगिता आयोजित की गई है। इन 23 स्किल्स प्रतियोगिता में पहले तीन स्थान पर रहने वाले प्रतिभागियों को क्षेत्रीय स्तर की प्रतियोगिता में भाग लेना होगा। क्षेत्रीय स्तर की प्रतियोगिता के लिए देश में 5 जोन बनाये गए है। इसके तहत क्षेत्रीय प्रतियोगिता का आयोजन कोच्चि, पटना, गांधी नगर, गुवाहाटी व चंडीगढ़ में किया जाएगा। रीजनल स्तर पर 23 विभिन्न स्किल्स प्रतियोगिता में पहले तीन स्थानों पर आने वाले विजेताओं के बीच राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता का आयोजन बैंगलोर में किया जाएगा। राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिता में विजेता बनने वाले प्रतिभागी वर्ष 2022 में चीन में आयोजित होने वाली विश्व कौशल प्रतियोगिता में देश का प्रतिनिधित्व करेंगे।

पहले भी हरियाणवियों का रहा है जलवा

गुरुग्राम आईटीआई के प्राचार्य जयदीप कादयान के मुताबिक विश्व कौशल प्रतियोगिता के तहत हरियाणा के विद्यार्थियों ने वर्ष 2009 से 2019 के बीच विभिन्न स्किल्स प्रतियोगिता के तहत स्वर्ण, रजत व कांस्य पदक के साथ 41 मेडल दिलाकर हरियाणा का गौरव बढ़ाया है। उन्हें पूरी उम्मीद है कि वर्ष 2022 की विश्व कौशल प्रतियोगिता में भी हरियाणा का प्रमुख योगदान रहेगा।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।