डेंगू के बढ़ते मामलों से स्वास्थ्य विभाग सतर्क

0
211
Dengue Fever

नागिरक अस्पतालों के साथ पीएचसी स्तर पर भी डेंगू वार्ड बनाएं

अंबाला। बरसात के बाद अब डेंगू के बढ़ते मामलों ने स्वास्थ्य विभाग की नींद उड़ा दी है। पिछले साल के मुकाबले इस बार डेंगू के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। अब तक 68 मामले सामने आ चुके हैं। पिछले साल के मुकाबले यह संख्या डेढ़ गुणा ज्यादा बताई जा रही है। हालांकि अभी तक डेंगू से किसी भी मरीज को जान गंवानी नहीं पड़ी। एक बच्चे की मौत को लेकर उड़ रही अफवाहों पर भी विभागीय अधिकारियों ने स्पष्ट कर दी है। उधर डेंगू के बढ़ते मामलों को लेकर अब विभाग की ओर से नागिरक अस्पतालों के साथ पीएचसी स्तर पर भी डेंगू वार्ड बनाए गए हैं। सरकारी अस्पतालों में अभी छह मरीज ही दाखिल बताए जा रहे हैं। इन मरीजों की स्थिति खतरे से बाहर है।

जिन रिहायशी इलाकों में डेंगू के ज्यादा मरीज सामने आ रहे हैं, उनमें अब स्वास्थ्य विभाग की ओर से मेडिकेटिड मच्छरदानियां बांटी जा रही हैं। अभी विभाग की ओर से शहरी इलाकों में ऐसी कई कॉलोनियों को चिन्हित किया गया है, जहां डेंगू के मरीज लगातार सामने आ रहे हैं। इन कॉलोनियों में ब्रीडिंग जांच टीमें भी लगातार काम कर रही हैं। कॉलोनी के हर घर में कूलर, गमले, पुराने टायरों समेत उन सभी जगहों को चेक किया जा रहा है, जहां डेंगू मच्छर के पनपने की पूरी संभावना होती है। ऐसी जगह पर विभाग की ओर से एंटी लारवा का भी छिड़काव करवाया जा रहा है।

अब नि:शुल्क हो रहे हैं डेंगू के टेस्ट

पहले नागरिक अस्पतालों में डेंगू के टेस्ट की कोई सुविधा नहीं थी। इसी वजह से मरीजों को प्राइवेट लैब में ही अपनी जेब ढीली करनी पड़ रही थी। इन लैबों में मरीजों से मुंहमांगें दाम वसूले जा रहे थे। लगातार शिकायतों के बाद अब स्वास्थ्य विभाग की ओर से नागरिक अस्पतालों में ऐसी तीन लैब स्थापित की गई हैं। अंबाला शहर व छावनी के नागरिक अस्पतालों में डेंगू जांच के लिए लैब स्थापित की गई है। इसके अलावा शहर के सेक्टर-10 स्थित पॉलीक्लीनिक में भी एक लैब स्थापित की गई है, जहां डेंगू की जांच नि:शुल्क की जा रही है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।