Longest Solar Eclipse: कैसा होगा 2024 का पहला सूर्य ग्रहण? देश में होगा दिन में अंधेरा, जानिए और क्या होगा इसका असर?

Longest Solar Eclipse
Longest Solar Eclipse: कैसा होगा 2024 का पहला सूर्य ग्रहण? देश में होगा दिन में अंधेरा, जानिए और क्या होगा इसका असर?

Surya Grahan 2024: डॉ. संदीप सिंहमार। वरिष्ठ लेखक एवं स्वतंत्र टिप्पणीकार। साल 2024 का पहला सूर्य ग्रहण इस बार खास होने वाला है। 8 अप्रैल 2024 को लगने जा रहा है। इस ग्रहण के दौरान सूर्य अपनी कार्य प्रणाली के चरम पर दिखाई देगा। मौसम विभाग खगोल विज्ञानियों ने उम्मीद जताई है कि इस बार सूर्य ग्रहण पहले के सूर्य ग्रहण से काफी अलग होगा। नासा के मुताबिक, सूर्य ग्रहण पूरे उत्तर अमेरिका में नजर आएगा। साल 2017 के बाद यह अमेरिका में पहला पूर्ण सूर्य ग्रहण है। साल 2024 का पहला सूर्य ग्रहण अमेरिका, मेक्सिको और कनाडा के कुछ इलाकों में पूर्ण सूर्य ग्रहण के तौर पर नजर आएगा। अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा के अनुसार सबसे पहले यह सूर्य ग्रहण मेक्सिको के प्रशांत तट पर सुबह 11:07 पर दिखाई देगा। इस दौरान चांद पूरी तरह से सूरज को ढक लेगा।

Kishmish benefits: अगर आप इस तरह किशमिश खाते हैं तो मिलेंगे 6 गजब के फायदे, जानिए यहां…

ऐसा होते ही दिन में रात जैसा अंधेरा नजर आएगा। नासा के अनुसार इस सूर्य ग्रहण का असर अमेरिका के 13 राज्यों में पूर्ण ग्रहण तौर पर रहेगा। इसके अलावा पूरे उत्तरी अमेरिका में आंशिक रूप से सूर्य ग्रहण छाया रहेगा। यहां यह बताना उचित होगा कि सब सूर्य को चंद्रमा पूरी तरह से ढक लेता है तो वह संपूर्ण सूर्य ग्रहण कहलाता है। ऐसा दृश्य सिर्फ 4 मिनट 28 सेकंड तक ही दिखाई देगा। इसके बाद धीरे-धीरे सूर्य का कुछ भाग देखना शुरू हो जाएगा व अंधेरा समाप्त होता चला जाएगा।

Paytm Crisis: RBI के द्वारा पेटीएम पेमेंट्स बैंक पर बैन के कारण आपके पैसों का क्या होगा? यहां जानें सभी सवालों के जबाव

दुनिया भर में कब लगा था सबसे लंबा सूर्य ग्रहण? Longest Solar Eclipse

वर्ष 2024 के पहले सूर्य ग्रहण की समय सीमा को देखकर इसे लंबा ग्रहण कहा जा सकता है। लेकिन यह अब तक का सबसे लंबा सूर्य ग्रहण नहीं हो सकता। इसको लेकर भी वैज्ञानिकों ने खुलासा किया है। खगोल वैज्ञानिकों का कहना है कि यह सूर्य ग्रहण किसी भी रिकॉर्ड के आसपास नहीं होगा। अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा के वैज्ञानिकों के अनुसार अब तक सबसे लंबे सूर्य ग्रहण की अवधि 15 जून 743 ईसा पूर्व रही थी। तब सूर्य ग्रहण 7 मिनट 28 सैकेंड तक रहा था। उस वक्त यह सूर्य ग्रहण अफ्रीका में केन्या और सोमालिया के तट पर हिंद महासागर में रहा था। उसके बाद अब तक हजारों वर्ष बीतने के बावजूद भी इतना लंबा सूर्य ग्रहण लगने का कोई रिकॉर्ड नहीं है। अब से 150 साल बाद सूर्य ग्रहण के पहले के रिकॉर्ड के करीब पहुंच सकते हैं।

Benefits Of Dates And Milk: रात में दूध में भिगों कर रख दें ये एक चीज और सुबह खाली पेट खा ले, झट से दूर होंगी हड्डियों की कमजोरी

डेढ़ शताब्दी के बाद पहुंच सकते है रिकॉर्ड के करीब | Longest Solar Eclipse

अमेरिकी स्पेस एजेंसी नासा का अनुमान है कि भविष्य में 16 जुलाई 2186 में सूर्य ग्रहण फ्रेंच गुयाना के तट से अटलांटिक महासागर को पार कर सकता है। तब कुल 7 मिनट 29 सेकंड तक इसके चलने की संभावना जताई गई है। एक्लिप्स 2024 के ग्रहण विशेषज्ञ डैन मैकग्लॉन ने बताया कि 2186 के ग्रहण के दौरान चंद्रमा की छाया धरती के केंद्र के ऊपर दिखाई देगी। चंद्रमा करीब होने की वजह वास्तव में बड़ा दिखाई देगा। जबकि सूर्य अपेक्षाकृत दूर होने के कारण छोटा होगा। संभावनाओं के बीच 2186 सूर्य ग्रहण अब तक का सबसे बड़ा सूर्य ग्रहण हो सकता है।

ऐसे बनती है सूर्यग्रहण की स्थिति

भूलोल विषय में सूर्य व चंद्र ग्रहण के बारे में अच्छे तरीके से समझाया गया है। जब चांद सूर्य का चक्कर लगा रहा हो, लेकिन इस दौरान वह सूर्य और पृथ्वी के बीच में आ जाए तब सूर्यग्रहण होता है। चांद इस हिसाब से दोनों के बीच में आए, जिससे उसकी परछाई धरती पर पड़ने लगे तो वह सूर्य ग्रहण कहलाएगा। इस दौरान जहां परछाई पड़ रही होगी वहां के लोग आसमान में सूर्य को आधा या पूरा ढका हुआ देखते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here