Dog Owners: अगर आप कुत्ता पाल रहे हैं या पालने की सोच रहे हैं तो कोर्ट का ये फैसला जरूर सुन लें…

Dog Owners
Dog Owners: अगर आप कुत्ता पाल रहे हैं या पालने की सोच रहे हैं तो कोर्ट का ये फैसला जरूर सुन लें...

नई दिल्ली। Dog Owners: पालतु जानवर जितने खुबसूरत होते हैं उतने ही खतनाक भी, ऐसे में आज चौकाने वाले खबर उन लोगों के लिए है तो डॉग लवर्स। कुत्तों को पालने वाले या जिन घरों में कुत्ते हैं। उनकी मुसीबत अब बढ़ने वाली है। क्यों कि अब बुलडॉग-पिटबुल जैसी खतरनाक नस्ल के कुत्तों पर जल्द प्रतिबंध लग सकता है। दरअसल, हाई कोर्ट ने को केंद्र सरकार को कुत्तों की खतरनाक नस्लों को रखने के लाइसेंस पर प्रतिबंध लगाने और रद्द करने के लिए एक ज्ञापन पर तीन महीने के भीतर निर्णय लेने का सख्त आदेश जारी कर दिए हैं। हाईकोर्ट के इस फैसले के बाद केंन्द्र सरकार ने कार्रवाई भी शुरू कर दी है। punjab and haryana high court

दरअसल आपको बताते कि हरियाणा, पंजाब, राजस्थान सहित देश के कई राज्यों में बुलडॉग-पिटबुल जैसे खतरनाक कुत्तों के काटने से लगातार मौतों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। जबकि कई लोग बुरी तहर जख्मी भी हो चुके हैं। ऐसे में आए दिन पुलिस थानों में शिकायतें भी बढ़ती जा रही है। आमजन की सुरक्षा को लेकर ही हाई कोर्ट ने ये फैसला लिया है।
कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश मनमोहन व मिनी पुष्करणा की पीठ ने याचिकाकर्ता से कहा कि अधिकारियों को इस मुद्दे पर निर्णय लेने दें, क्योंकि वे ही संबंधित कानूनों और विनियमों का मसौदा तैयार करते हैं। सुनवाई के दौरान अदालत ने कुत्तों की स्थानीय नस्लों को बढ़ावा देने की आवश्यकता पर भी जोर देते हुए कहा कि भारतीय नस्लों का ध्यान रखने की जरूरत है। वे कहीं अधिक मजबूत हैं। Dog Owners

जब खतरनाक नस्लों के कुत्ते समाज के लोगों के लिए जानलेवा है। बता दें कि इससे पहले अपनी याचिका में कानूनी वकील और बैरिस्टर लॉ फर्म ने आरोप लगाया था कि बुलडॉग, रॉटवीलर, पिटबुल, टेरियर्स, नीपोलिटन मास्टिफ जैसी नस्ल के कुत्ते खतरनाक कुत्ते हैं और भारत सहित 12 से अधिक देशों में प्रतिबंधित हैं, लेकिन दिल्ली नगर निगम अभी भी इन्हें पंजीकरण कर रहा है। हाल ही में ऐसी खतरनाक नस्ल के कुत्तों द्वारा अपने मालिकों सहित लोगों पर हमला करने की कई घटनाएं हुई हैं। इन पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए। जिसके बाद कोर्ट ने केन्द्र सरकार को तीन माह का समय देते हुए इस और कड़े कदम उठाने के आदेश दिये हैं।

SSY Scheme: गजब की योजना, सुकन्या समृद्धि योजना! 21 की उम्र में मिलेंगे 64 लाख रुपये!