Earth Centre: जानें धऱती के बीचों बीच कौन सा देश है, नाम जानकर भी आप हो जाएंगे हैरान

Earth Centre
Earth Centre: जानें धऱती के बीचों बीच कौन सा देश है, नाम जानकर भी आप हो जाएंगे हैरान

Earth Centre:  क्या आप जानते है कि दुनिया का कौन सा देश धऱती के बीचों बीच स्थित है? अगर आप नहीं जानते है तो हम आपको बताएंगे उस जगह का नाम जिसे सुनकर आप भी हैरान हो जाएंगे। दरअसल देश के वैज्ञानिकों ने धरती का ओर-छोर ढूंढ निकाला है, जहां 200 से ज्यादा मुल्क है। इनमें 195 देशों को संयुक्त राष्ट्र ने भी मान्यता दी हुई है,बता दें कि ये मुल्क धरती के अलग-अलग हिस्सों में स्थित है। इनमें कुछ बेहद ठंडे हैं तो कुछ बहुत ज्यादा ही गर्म… लेकिन क्या आपको उस देश का नाम पता हैं,जो धरती के बीचों बीच में हैं?

Turmeric For Black Hair: सिर्फ एक चुटकी पीली हल्दी से करें सफेद बालों को काला, जानें इस्तेमाल करने का तरीका

अक्सर धरती पर अलग-अलग दिशाओं में दूरी मापी जाती है, वहीं खगोलविद इसके बारे में दुनिया को बताते भी है, लेकिन अगर बात की जाए धरती के सेंटर की,तो बता दें कि साइंस के हिसाब से पृथ्वी के बीचों बीच कोई देश नहीं है। वैत्रानिकों का भी ये कहना है कि पृथ्वी का केंद्र O0 N0O0E है, और यहां पर कोई देश नहीं है, वैज्ञानिक इस जगह को काल्पनिक जगह बताते है, इसलिए इसके सबसे करीब आने वाले घाना को धरती का सेंटर माना गया हैं।

High Cholesterol Foods: हाई कोलेस्ट्रॉल के मरीज दिन में करें इन 4 चीजों का सेवन, मोम की तरह पिघलने लगेगा धमनियों में जमा बैंड कोलेस्ट्रॉल

लेकिन अब फिर यहीं सवाल उठता है कि अगर पृथ्वी के केंद्र में कोई देश नहीं है तो घाना को पृथ्वी के केंद्र में स्थित देश क्यों कहा जाता है? दरअसल पृथ्वी के केंद्र का सबसे निकटतम देश अफ्रीकी महाद्वीप पर स्थित घाना ही हैं। यह धरती के मध्य से सिर्फ 380 मील की दूरी पर स्थित है, इसीलिए वैज्ञानिक इस जगह को धरती का लैंडमार्क मानते हैं, इसका प्रयोग पृथ्वी के केंद्र से किसी भी वस्तु या स्थान की दूरी मापने के लिए किया जाता है, पृथ्वी के केंद्र से घाना की दूरी लगभग 380 मील है। वहीं इसके अलावा, गैबॉन पृथ्वी के केंद्र से लगभग 670 मील पश्चिम में स्थित है, इसे भी कभी-कभी केंद्र के रूप में मान लिया जाता है,आप यह जानकर हैरान होंगे कि धरती के मध्य में होने की वजह से घाना का पर्यावरण भी बिल्कुल अलग हैं।

घाना में दुनिया के अन्य मुल्कों के मुकाबले सबसे ज्यादा गर्मी पड़ती है. मई और जून में यहां का तापमान इतना ज्यादा होता है कि अगर आप बाहर निकले तो झुलस जाएंगे. कहा तो यहां तक जाता है कि यहां इतना सोना था कि पूरी दुनिया में बांटा जा सके. मगर आज यह काफी गरीब मुल्का की श्रेणी में आता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here