अग्ग दे कोल सारे आओ, सुंदर मुंदरिए जोर नाल गाओ…

संगरूर (सच कहूँ न्यूज)। शहीद ऊधम सिंह ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशन्स, संगरूर में लोहड़ी का त्यौहार बड़े ही उत्साह से मनाया गया। संस्था की मैनेजमैंट, स्टाफ सदस्यों व विद्यार्थियों के साथ उपले व लकड़ियां जलाकर तिल डालने की रस्म अदा की। दरअसल लोहड़ी का त्योहार दुल्ला भट्टी की लोककथा से जुड़ा हुआ है। कथा के मुताबिक अकबर के शासनकाल में पंजाब का रहने वाला एक राजपूत दुल्ला भट्टी था। दुल्ला भट्टी लुटेरा होने के बावजूद गरीबों की मदद करता था। लोककथा के मुताबिक वह बाजार में बेची जाने वाली लड़कियों को बचाता था और उनकी शादी कराता था। इसी वजह से लोहड़ी का त्योहार मनाया जाता है। कई गीतों में दुल्ला भट्टी के नाम का जिक्र होता है।
                                                                                                                 नरेश कुमार, संगरूर

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here