संगरूर में दर्जन से अधिक बेसहारा पशुओं की मौत

Sangrur News
जहरीला चारा खाने का संदेह, राहत कार्यों में जुटी मेडिकल टीमें

35 पशुओं की हालत गंभीर, 30 की हालत फिलहाल स्थिर | Sangrur News

संगरूर (सच कहूँ/गुरप्रीत सिंह)। बुधवार को संगरूर स्थित सोहियां रोड़ (Sohian Road) बीड़ में अचानक एक के बाद एक पशु जमीन पर गिरते रहे और मौत का शिकार होते रहे। दोपहर तक 15 पशुओं की मौत हो चुकी है और 30 के करीब गंभीर हालत में हैं, जबकि बाकियों को दवाई दी जा रही है। यह संदेह जताया जा रहा है कि इन जानवरों ने जहरीला चारा खा लिया, जिस कारण इनकी हालत खराब हो गई। मामले की गंभीरता को देखते जिला प्रशासन प्रमुख सहित बीड़ में पहुंचे और मेडिकल टीमों को राहत कार्यांे में लगा दिया। Sangrur News

हासिल हुई जानकारी के मुताबक संगरूर स्थित बीड़ में बड़ी संख्या में बेसहारा पशु रखे गए हैं, जहां हर रोज इनको हरे चारे का बाहर से प्रबंध किया जाता है। आज बीड़ के कुछ सीमित क्षेत्र में पशू चारा खाने के बाद जमीन पर गिरने लगे और उनके मुंह में से खून निकलने लगा। यह देख वहां के प्रबंधकों ने जिला प्रशासन को इस संबंधी सूचित किया। जिला प्रशासन ने वैटरनरी डॉक्टरों की टीम बीड़ में भेजी और राहत कार्य शुरु करवाए। तब तक 15 बेसहारा पशुओं की मौत हो चुकी थी। वहीं टीम के मुताबक इनमें 30 पशुओं की हालात गंभीर है, जबकि 30 के करीब पशुओं को ड्रिप वगैरह लगाकर इलाज शुरु कर दिया है। Sangrur News

इस संबंधी बात करते उभ्भावाल स्थित गौधाम के प्रधान नरेश गर्ग ने बताया कि आज उनको इस घटना का सुबह पता चला। उन्होंने बताया कि हरे चारे में कोई जहरीली चीज आने के कारण ही यह घटना घटी है। उन्होंने बताया कि इस बीड़ में बड़ी संख्या में बेसहारा पशुओं के साथ साथ और भी जानवर बड़ी संख्या में रहते हैं। उन्होंने बताया कि मरने वाले पशुओं में गाय, सांड आदि शामिल हैं। उन्होंने कहा कि गौधाम के बड़ी संख्या में कर्मचारी राहत कार्यों में जुटे हुए हैं।

डिप्टी कमिशनर संगरूर जतिन्द्र जोरवाल ने कहा कि आज उनको इस घटना का पता चला है। उन्होंने कहा कि राहत कार्यों में टीमें लगी हुई हैं। इन पशुओं की मौत के कारण को जानने के लिए सैंपल ले लिए गए हैं। इन जानवरों के पोस्टमार्टम उपरांत ही मौत के असली कारणों का पता चल पाएगा।

यह भी पढ़ें:– Accident: पशुओं से टकराए तीन बाईक सवार, गंभीर घायल, राहगीरों ने पहुंचाया अस्पताल