पंजाब में लुटेरों से मुठभेड़ में पुलिस कांस्टेबल शहीद

फगवाड़ा (सच कहूँ न्यूज)। पंजाब में फगवाड़ा के कोट गरेवाल गांव के निकट कल देर रात पुलिस और अज्ञात लुटेरों के बीच मुठभेड़ में एक कांस्टेबल गोली लगने से शहीद हो गया। पुलिस ने बताया कि फगवाड़ा शहर थाना प्रभारी अमनदीप नाहर लुटेरों का पीछा कर रहे थे। लुटेरे दोसांज रोड पर अवतार सिंह से क्रेटा कार छीनने के बाद भाग रहे थे। नाहर को अवतार सिंह ने कार छीने जाने की घटना के बारे में सूचित किया और बताया था कि कार का जीपीएस ट्रैैकर सिस्टम एक्टिव था और कार की लोकेशन गांव के निकट बता रहा था।

यह भी पढ़ें:– ट्रेन स्टेशन पर हमले के बाद 31 लोगों को बनाया बंधक

नाहर पुलिस पार्टी के साथ मौके पर पहुंचे और लुटेरों ने पुलिस पर गोली चला दी। पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की लेकिन इस दौरान कांस्टेबल कुलदीप को गोली लगी। उन्हें अस्पताल ले जाया गया लेकिन खून अधिक बह जाने के कारण रास्ते में ही उनकी मौत हो गई।

शहीद कांस्टेबल के परिवार को दो करोड़ रु देने की घोषणा

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान ने मुठभेड़ के दौरान जान गंवाने वाले पुलिस कांस्टेबल कुलदीप सिंह बाजवा के परिवार को दो करोड़ रुपये देने की घोषणा की है। मान ने सोमवार को यहां बताया कि फगवाड़ा में ड्यूटी के दौरान कांस्टेबल कुलदीप बाजवा शहीद हो गये। उन्होंने कहा कि दो करोड़ रुपये में से एक करोड़ रुपये राज्य सरकार द्वारा एक्स ग्रेशिया राशि के रूप में दिए जाएंगे तथा एक करोड़ रुपये एचडीएफसी बैंक द्वारा बीमा के रूप में दिए जाएंगे।

यह राशि प्रदेश में शांति एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए शहीद द्वारा दिए गए बलिदान के सम्मान में दी जाएगी। इस दौरान मुख्यमंत्री ने दोहराया कि मातृभूमि की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले जवानों के परिवारों की मदद करना राज्य सरकार का कर्तव्य है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here