राहुल-प्रियंका ने वैक्सीन की कमी और परीक्षा पर सरकार को घेरा

0
46
Farmer Voice , Rahul-Priyanka lashed out at the government over inflation and recession

नई दिल्ली (एजेंसी)। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोना टीके की कमी को लेकर सरकार को घेरते हुए कहा है कि देश की जनता को खतरे में डालकर टीके का निर्यात नहीं किया जाना चाहिये। गांधी ने ट्वीट किया कि बढ़ते कोरोना संकट में वैक्सीन की कमी एक अतिगंभीर समस्या है, ‘उत्सव’ नहीं अपने देशवासियों को खतरे में डालकर वैक्सीन एक्सपोर्ट क्या सही है। केन्द्र सरकार सभी राज्यों को बिना पक्षपात के मदद करे। हम सबको मिलकर इस महामारी को हराना होगा। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि सीबीएसई को छात्रों को विपरीत परिस्थितियों में परीक्षा में बैठने के लिए बाध्य नहीं करना चाहिए और ऐसा करना उसका गैर जिम्मेदाराना रवैया है। छात्रों को भीड़ में जाने और प्रेक्षा देने को मजबूर नही करना चाहिये इसलिए बोर्ड परीक्षाएं रद्द की जानी चाहिए या इन परीक्षाओं का कार्यक्रम बदला जाना चाहिए।

गौरतलब है कि दुनिया में कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी से 29 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी तथा 1.33 करोड़ लोग संक्रमित है। अमेरिका की जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के विज्ञान एवं इंजीनियरिंग केंद्र (सीएसएसई) की ओर से जारी ताजा आँकड़ों के अनुसार दुनिया के 192 देशों एवं क्षेत्रों में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 13,37,96,725 तक पहुंच गई है, जबकि अभी तक इस वायरस के सँक्रमण से 29 लाख से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं भारत में 24 घंटों के दौरान कोरोना संक्रमण के 1,31,968 नये मामले सामने आए।

इसके बाद कुल संक्रमितों की संख्या एक करोड़ 30 लाख 60 हजार 542 हो गई है। वहीं उत्तराखंड में आईआईटी रुड़की के 90 छात्र कोरोना संक्रमित पाये गए हैं। जैसे ही छात्रों के संक्रमित होने के पता चला पांच हॉस्टल को सील कर दिया गया है। हॉस्टल के इलाके को कंटनेमेंट जोन बना दिया गया है। छात्रों के कोरोना संक्रमित होने की जानकारी आईआईटी रुड़की की मीडिया सेल प्रभारी सोनिका श्रीवास्तव ने दी। साथ ही यह भी बताया हॉस्टल को कोविड सेंटर में बदल दिया गया है।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।