पहली से तीसरी कक्षाओं में आज से लौटेगी रौनक

0
237
Schools will not close, will open from Monday

स्कूल में आने से पहले अभिभावकों से बच्चों को लाना होगा अनुमति-पत्र

सरसा (सच कहूँ न्यूज)। राजकीय व निजी प्राथमिक स्कूलों में सोमवार से रौनक लौट आएगी। स्कूलों में सुबह 9 बजे से 12 बजे तक पढ़ाई करवाई जाएगी। स्कूल में छोटे बच्चों के आने पर कोविड 19 को लेकर विशेष सावधानी रखनी होगी। क्योंकि कोविड 19 से छोटे बच्चे अनजान है। स्कूलों में छोटे बच्चों के आने पर विशेष सावधानी रखनी होगी। स्कूल गेट पर थर्मल स्क्रींनिंग से जांच होगी। अगर बच्चा बीमार है तो उसको इंट्री नहीं होने दी जाएगी बल्कि उसे घर भेजना होगा। वहीं हर बच्चे के मास्क लगाना जरूरी है।

बच्चों को स्कूल में आने के लिए किसी प्रकार से बाध्य नहीं किया जाएगा। अगर कोई बच्चा स्कूल नहीं आता है तो उस पर कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी। स्कूल में आने से पहले अभिभावकों से बच्चों को अनुमति पत्र साथ लेकर आना होगा। अगर किसी बच्चे के पास अनुमति पत्र नहीं है तो उसे स्कूल में प्रवेश नहीं करने दिए जाएगा।

आॅनलाइन प्रक्रिया जारी रहेगी

शिक्षा विभाग ने आदेश देकर आनलाइन प्रक्रिया पहले की तरह जारी रखने के लिए कहा गया है। संक्रमण से बचाव के लिए स्कूल में पहुंचने के बाद बच्चों को सुरक्षा घेरे में रहना होगा। स्कूल में विद्यार्थियों के आने से पहले सैनिटाइजर का छिड़काव करवाना होगा। बच्चों को समय-समय पर कोविड 19 को लेकर जागरूक करना होगा। इसी के साथ स्कूलों में कोरोना से बचाव के लिए स्लोगन भी लगाए जाएंगे।

इन नियमों का पालन जरूरी

  •  स्कूल में प्रवेश करते ही विद्यार्थी की थर्मल स्क्रीनिंग होगी।
  •  स्कूल के गेट पर दो कर्मचारी तैनात रहेंगे।
  •  विद्यार्थियों के हाथों को सैनिटाइजर से साफ करवाने का कार्य होगा।
  •  अगर सैनिटाइजर की व्यवस्था नहीं होने पर साबुन व पानी की व्यवस्था करनी होगी।
  •  मास्क लगा होने पर विद्यार्थियों को प्रवेश करवाना होगा।
  •  स्कूल में आते समय विद्यार्थियों को घर से ही पानी की बोतल लेकर आनी होगी।
  •  विद्यार्थी किसी दूसरे विद्यार्थी के साथ खाना शेयर नहीं करेंगे।‘‘सरकारी व निजी स्कूलों में सोमवार को पहली से तीसरी कक्षा के लिए स्कूल खोले जाएंगे। स्कूल खुलने की सूचना अध्यापकों ने अभिभावकों को दे दी है। स्कूलों में कोविड 19 को लेकर विशेष सावधानी रखी जाएगी।
    -आत्मप्रकाश मेहरा, जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी, सरसा।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।