अति ठीक नहीं

0
127
realize-the-mistake

मोनू चलो अब अपनी पढ़ाई कर लो। तुम्हें टीवी देखते हुए बहुत देर हो गई है। मोनू को लगातार टीवी देखते रहने के कारण उसकी मम्मी नीतू बंदरिया ने उसे टोका। मोनू बंदर कक्षा 7 का विधार्थी था। लाकडाउन में उसका स्कूल बंद होने के कारण वह घर में ही रहता था। किंतु वह अपनी पढ़ाई करने के बजाय घंटों टीवी देखता रहता था।

मम्मी-पापा उसको बार-बार समझाते थे कि “बेटा ज्यादा टीवी नही देखना चाहिए। इससे पढ़ाई खराब होगी और तुम्हारी आंखें भी खराब होगीं’। किंतु मोनू मम्मी-पापा की बातों को अनसुना कर देता था। मम्मी-पापा उसे बहुत प्यार करते थे। इसलिए ज्यादा कुछ नही कहते थे। एक दिन मोनू रोज की भांति टीवी देख रहा था कि तभी अचानक उसकी गर्दन और सिर में बहुत तेज दर्द होने लगा। मोनू दर्द से तड़पने लगा और “मम्मी मम्मी’ कहकर पुकारने लगा।

उसकी आवाज सुनकर मम्मी किचन में से दौड़ती हुई आई और बोली, “क्या हुआ मोनू बेटा’? ‘मम्मी मेरी गर्दन और सिर में बहुत जोर का दर्द हो रहा है”। मोनू ने दर्द से बिलखते हुए बताया। ‘मैं अभी बाम लगा देती हूं बेटा’। कहकर मम्मी उसके बाम लगाने लगी। किंतु मोनू का दर्द ठीक नही हुआ।वह दर्द से बिलखता जा रहा था।

यह देखकर मम्मी उसे डंपू हाथी डाक्टर के पास ले गई। डंपू डाक्टर ने मोनू का चेकअप किया और फिर बताया कि ‘मोनू की गर्दन की नसो में तनाव व सूजन हो रही हैं। जिसकी वजह से गर्दन और सिर में दर्द हो रहा है। अक्सर एक ही पोस्चर में घंटों बैठे रहने व लगातार टीवी देखने तथा कंप्यूटर पर गेम आदि खेलते रहने के कारण यह प्रोब्लम हो जाती है।
कहीं मोनू ज्यादा टीवी’…….

‘हां डाक्टर साहब आप ठीक कह रहे हैं। मोनू काफी समय से रोज लगातार घंटों टीवी देखता रहता है। शायद इसी वजह से तो यह परेशानी हुई है’।
मोनू की मम्मी ने शंका जाहिर की।
‘आप सही कह रही हैं। मुझे भी यही लग रहा था कि मोनू को बहुत ज्यादा टीवी देखने की आदत है। फिलहाल मैं इसके लिए दवा लिख देता हूं। लेकिन इसको बिल्कुल ठीक होने के लिए अपनी इस आदत में सुधार करना होगा। घंटों टीवी देखने की आदत को छोड़ना होगा, और एक्सरसाइज भी करना होगा’।

डाक्टर साहब की बात सुनकर मोनू समझ गया था कि उसने इस दौरान टीवी देखने में जो अति की है। यह उसी का परिणाम है।
मोनू जल्दी स्वस्थ होना चाहता था। इसलिए उसने अपनी आदत को शीघ्र सुधारने का फैसला कर लिया।
शाम को जब पापा ने सारी बात सुनी तो उन्होंने कहा कि,”बेटा हम तो तुमसे पहले ही कहते थे कि ज्यादा टीवी मत देखो। टीवी देखने में अति मत करो। अति हर चीज की बुरी होती है। फिर ज्यादा टीवी देखने से पढ़ाई एवं स्वास्थ्य दोनों खराब होते हैं’।

मोनू को अपनी गलती का अहसास हो चुका था। वह मम्मी-पापा से कहने लगा, ‘मैंने अपनी आदत को सुधार लिया है मम्मी-पापा। अब मैं टीवी देखने में अति नही करूंगा।अपनी पढ़ाई और अपने स्वास्थ्य पर पूरा ध्यान दूंगा”। यह सुनते ही मम्मी पापा ने उसे प्यार से गले लगा लिया।

-हरप्रसाद रोशन।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।