IND vs AUS: रोहित शर्मा वर्ल्ड कप फाइनल में आउट नहीं थे? ट्रेविस हेड से छूट गया था कैच? जानें क्या है सच्चाई

IND vs AUS
IND vs AUS: रोहित शर्मा वर्ल्ड कप फाइनल में आउट नहीं थे? ट्रेविस हेड से छूट गया था कैच? जानें क्या है सच्चाई

IND vs AUS: भारत वर्ल्ड कप में हार गया है। लेकिन अभी भी सोशल मीडिया पर मैच को लेकर हर दिन कोई ना कोई खबरें आती रहती है। ऐसा ही एक खबर वायरल हो रही है कि वर्ल्ड कप में रोहित शर्मा आऊट नहीं थे। ट्रेविस हेड ने उनका कैच छोड़ दिया था, लेकिन अंपायर ने ध्यान नहीं दिया। आइये इस वायरल दावे की सच्चाई हम आपको बताते हैं। भारत और आॅस्टेलिया फाइनल मैच में भारत हार गया था और जब से ही सोशल मीडिया पर ये दावे किये जा रहे हैं कि ट्रेविस हेड ने रोहित का कैच पूरा नहीं किया था व फील्ड अंपायरसे लेकर थर्ड अंपायर तक इस बात पर किसी ने भी गौर नहीं किया था। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस मैच में टीम इंडिया ने दूसरा विकेट 10वें ओवर में रोहित शर्मा के रूप में गंवाया था, जिनका ग्लेन मैक्सवेल की गेंद पर ट्रेविड हेड ने कैच लपका था इसके बाद भारतीय टीम की रन गति बिल्कुल धीमें हो गई थी। IND vs AUS

Bank Holidays: अब हफ्ते में इतने दिन बंद रहेंगे बैंक? सरकार ने संसद में दी जानकारी!

IND vs AUS
IND vs AUS: रोहित शर्मा वर्ल्ड कप फाइनल में आउट नहीं थे? ट्रेविस हेड से छूट गया था कैच? जानें क्या है सच्चाई

सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही ये वीडियो | IND vs AUS

आपको बता दें कि फाइनल मैच में रोहित शर्मा के कैच वाली तस्वीरें जमकर वायरल हो रही है जिसमें साफ तौर पर दिख रहा हे कि गेंद ट्रेविस हेड से छूट गई या फिर उन्होंने कैच को पूरा नहीं किया व गेंद जमीन पर लग गई लेकिन क्या ऐसा हो सकता है?

सच्चाई क्या है

 

View this post on Instagram

 

A post shared by ICC (@icc)

जानकारी के अनुसार फाइनल मैच में रोहित शर्मा के कैच की वडियो आईसीसी की ओर से शेयर की गई है जिसमें साफ नजर आ रहा है कि ट्रेविड हेड ने बिल्कुल क्लियर कैच पकड़ा है। वीडियो में कैच को स्लोमोशन में भी दिखाया है जिसमें आप बड़े आराम से देख सकते६ ैं कि हेड के कैच लेने में कोई गड़बड़ नहीं हुई थी। रोहित शर्मा आऊट थे।

टी-20 विश्वकप के मद्देनजर अधिक से अधिक आॅस्ट्रेलियाई खिलाड़ी आईपीएल में भाग ले:मैक्सवेल

आॅस्ट्रेलिया के आॅलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल ने कहा है कि अगले साल होने वाली इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अधिक से अधिक आॅस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों को भाग लेना चाहिए ताकि वे टी-20 विश्वकप की तैयारी कर सकें। मैक्सवेल ने कहा कि एकदिवसीय विश्वकप जीतने के बाद आॅस्ट्रेलिया की नजर अब अगले साल जून में वेस्टइंडीज और अमेरिका में होने वाले टी-20 विश्वकप पर है। उन्होंने कहा कि जब तक उनके पैर चलेंगे वह आईपीएल खेलते रहेंगे। भारत से लौटकर एक सप्ताह आराम करने के बाद मैक्सवेल अब बिग बैश लीग (बीबीएल) में मेलबर्न स्टार्स के कप्तान के रूप में खेलेंगे। वह आईपीएल में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु टीम का हिस्सा हैं।

उन्होंने कहा, ‘आईपीएल में मैं अपने करियर के आखिर तक खेलता रहूंगा। संभवत: यह मेरे करियर का आखिरी टूनार्मेंट होगा। जब तक मैं चल-फिर सकता हूं, तब तक मैं आईपीएल खेलता रहूंगा। आईपीएल का मेरे करियर में बहुत अहम योगदान रहा है। इस टूनार्मेंट में स्तरीय खिलाड़ी और कोच हिस्सा लेते हैं, जिनसे आपको बहुत कुछ सीखने को मिलता है। आप इस टूनार्मेंट में दो महीने तक एबी डीविलियर्स और विराट कोहली जैसे खिलाड़ियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खेलते हैं, जो किसी के जीवन का भी सबसे बड़ा अनुभव होगा। मुझे उम्मीद है कि इस बार के आईपीएल में अधिक से अधिक आॅस्ट्रेलियाई खिलाड़ी भाग लें ताकि उन्हें टी-20 विश्व कप की तैयारियों में मदद मिले। अब वेस्टइंडीज में भी लगभग वही परिस्थितियां होती हैं, जैसा कि भारत में है- सूखी, धीमी पिच और स्पिनरों को अधिक मदद।

उन्होंने कहा कि एकदिवसीय विश्वकप जीतने के बाद आॅस्ट्रेलियाई सीमित ओवर टीम अब टी-20 विश्वकप जीतकर ‘डबल’ बनाने की कोशिश करेगी। मैक्सवेल ने बताया कि पूरी टीम की नजरे अब टी-20 विश्वकप पर है। उन्होंने कहा, ‘विश्वकप जीतने के बाद हमने आपस में बातचीत की और कहा कि हमारा अगला लक्ष्य टी-20 विश्वकप होना चाहिए। उससे पहले मैं बीबीएल के एक और सत्र के लिए उत्साहित हूं।