स्कूल शिक्षा विभाग का ज्ञान संकल्प पोर्टल बना सेतु

Jaipur News
स्कूल शिक्षा विभाग का ज्ञान संकल्प पोर्टल बना सेतु

सरकारी विद्यालयों के विकास के लिए आगे आए दानदाता

जयपुर (सच कहूं न्यूज)। राजस्थान स्कूल शिक्षा परिषद द्वारा प्रदेश के 133 सरकारी स्कूलों में भामाशाहों के सहयोग से 31 प्रोजेक्ट्स के तहत 28.04 करोड़ रुपये के कार्यों का अनुमोदन किया गया है। पिछले दिनों राज्य परियोजना निदेशक (स्टेट प्रोजेक्ट डायरेक्टर-एसपीडी) अविचल चतुवेर्दी की अध्यक्षता में हुई राज्य स्तरीय संवीक्षा समिति बैठक में लिए गए निर्णय के बाद इस सम्बंध मे आदेश जारी कर दिए गए है। Jaipur News

एसपीडी चतुवेर्दी ने बताया कि स्कूल शिक्षा द्वारा संचालित ज्ञान संकल्प पोर्टल पर भामाशाहों (दानदाताओं) द्वारा विद्यालयों में विकास के लिए प्राप्त प्रस्तावों की संवीक्षा के बाद स्वीकृत 31 प्रोजेक्ट्स के माध्यम से प्रदेश के 14 जिलों में स्थित 133 विद्यालयों में नवीन भवन, टॉयलेट्स और रिनोवेशन जैसे विकास कार्य कराए जाएंगे। उन्होंने बताया कि अलवर जिले में 6, कोटा में 5, जालोर में 4, जयपुर व नागौर में 3-3, पाली में 2 तथा बांसवाडा, बारां, बाड़मेर, बीकानेर, चुरू, हनुमानगढ़, झुंझुनू एवं सिरोही जिले में एक-एक प्रोजेक्ट का अनुमोदन किया गया है।

राज्य परियोजना निदेशक ने किया 31 प्रोजेक्ट्स का अनुमोदन | Jaipur News

उल्लेखनीय है कि राज्य स्तरीय संवीक्षा समिति की बैठक में जिन प्रोजेक्ट्स का अनुमोदन हुआ है, उनमें 5 प्रोजेक्ट्स की लागत 2 करोड़ रुपये से अधिक है। इनमें श्रीमती इन्द्रा देवी जेठमल राठी ट्रस्ट द्वारा नागौर जिले में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, खींवसर में 2.15 करोड़ रुपए, भामाशाह श्री जितेन्द्र केसाजी प्रजापत द्वारा जालौर जिले में राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय, कागमाला (रानीवाडा) में 2.66 करोड़ रुपये, जी.आर. इन्फ्रा सोशल वेलफेयर ट्रस्ट द्वारा चुरू जिले में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, सिद्धमुख में 5 करोड़ रुपये, गढवाल परिवार संस्थान, चंदवा की ओर से राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय, चंदवा (अलसीसर) झुंझुनू में 4.50 करोड़ रुपये एवं श्रीमती तारादेवी लालचंदजी सिंघवी ट्रस्ट चेन्नई द्वारा पाली में राजकीय महात्मा गांधी अंग्रेजी माध्यम विद्यालय, कुशालपुरा (रायपुर) में 2.50 करोड़ रुपये की लागत से नवीन भवन निर्माण कराने के कार्यों का अनुमोदन हुआ है। Jaipur News

”जयपुर-दिल्ली के बीच ट्रेन की तरह चलेंगी इलेक्ट्रिक बसें, जिनमें होंगी फ्लाइट जैसी सुविधा̶…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here