स्कूल स्टाफ ने डेरा श्रद्धालुओं को सम्मान चिन्ह देकर किया सम्मानित

0
221
Welfare-Work

डेरा श्रद्धालुओं ने सरकारी स्कूल के आंगन में डाली भरत

  • बारिश के दिनों में स्कूल में भर जाता था पानी, अब नहीं रही स्कूल के डूबने की चिंता

  • डेरा श्रद्धालुओं ने एक ही दिन में अनेकों ट्रैक्टर-ट्राले और अपनी तरफ से डीजल डालकर डाली मिट्टी की भरत

दोदा(सच कहूँ/रविपाल)। सरकारी प्राथमिक स्कूल मैन दोदा में डेरा श्रद्धालुओं की ओर से स्कूल में बारिश के दिनों में पानी भरने से डूबने वाले आंगन में मिट्टी की भरत डाल कर स्कूल की नुहार बदली गई है। मैडम संतोष कुमारी सैंटर हैड टीचर ने बताया कि स्कूल के आंगन में बारिश के दिनों पानी भर जाता था और बच्चों को डेरा बाबा ध्यान दास में कक्षाएं लगानी पड़ती थीं। उन्होंने बताया कि कि नगर के बहुत से गणमान्यजनों को भरत पहनने की अपील की, परन्तु किसी ने कोई सुनवाई नहीं की।

उन्होंने बताया कि हमें पता चला कि डेरा सच्चा सौदा के श्रद्धालु मानवता भलाई के 135 कार्य कर रहे हैं, हमारे समूह स्टाफ ने लिखित में अपील की तो सेवादारों ने एक दिन में अनेकों ट्रैक्टर-ट्राले और अपना ही डीजल डालकर मिट्टी की भरत डाल दी। इस मौके समूह स्टाफ की ओर से डेरा श्रद्धालु 15 मैंबर गुरचरन सिंह, सिमरनजीत दोदा, परमजीत सिंह, जगसीर सिंह, जसविन्दर सिंह, बलवंत सिंह, कृपाल सिंह सचदेवा, अजमेर सिंह रोमाना, प्रीतम सिंह रोमाना, फतेह सिंह, सुखमन्दर सिंह रोमाना, बेअंत सिंह, गुरदीप सिंह बराड़, सुखवंत सिंह, गुरदेव सिंह, पप्पू राम, गुरप्रीत सिंह, गुरमीत सिंह, सरबन सिंह, संत सिंह, मक्खण सिंह, हैरी, सोनी इन्सां, मनप्रीत आदि को सम्मान चिह्न देकर सम्मान किया।

काबिले तारीफ डेरा श्रद्धालु सेवादार : स्कूल स्टाफ

सरकारी प्राथमिक स्कूल दोदा के अध्यापक गुरसेवक सिंह, हरपिन्दर सिंह, गुलदीप कौर, जसबीर कौर आदि ने कहा कि आज डेरा श्रद्धालुओं ने जो स्कूल की सेवा की है वह बहुत ही काबिले तारीफ है। उन्होंने कहा कि इस तरह की लगन और मेहनत से तो कोई अपने घर में भी काम नहीं करता, जिस तरह सेवादारों ने स्कूल में सेवा निभाई है।

सेवादारों के जबे का सैंटर हैड टीचर ने किया धन्यवाद

सैंटर हैड टीचर संतोष कुमारी ने सेवा से भाविक होते कहा कि हमने बहुत लोगों से अपील की कि यह कार्य सिरे नहीं चढ़ रहा मदद करो, परन्तु कोई सुनवाई नहीं हुई, परन्तु डेरा श्रद्धालुओं ने एक ही अपील पर इस कार्य को अपने डीजल और ट्रैक्टरों के साथ पूरा कर दिखाया। जिनका जितना धन्यवाद किया जाए कम है।

पूज्य गुरू जी से मिली मानवता की सेवा करने की प्रेरणा : गुरचरन सिंह

डेरा श्रद्धालु गुरचरन सिंह ने समूह स्टाफ के साथ बात करते बताया कि हम यह सब कुछ वोट या वाह-वाह, मान बढ़ाई करवाने के लिए नहीं करते, बल्कि हमें हमारे पूज्य गुरू संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां ने मानवता भलाई के कार्य करने के लिए प्रेरित किया है। स्कू ल स्टाफ ने सेवादारों का तहदिल से धन्यवाद किया।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।