शिमला में सीजन का पहला हिमपात, 200 सड़कें अवरुद्ध

heavy snowfall in Himachal sachkahoon

शिमला (सच कहूँ न्यूज)। हिमाचल प्रदेश के ऊँचे इलाकों में आज हिल्स क्वीन शिमला (Snowfall) में सीजन का पहला हिमपात हुआ । करीब ढाई महीने बाद खुश्क मौसम से बागवानों तथा किसानों को राहत मिली। कल रात से ही काले बादल छाये रहने से समां बंध गया था लेकिन सुबह होते-होते बर्फ के फाहे गिरने लगे। शिमला के माल रोड, यूएस क्लब, जाखू में बर्फ की हल्की सफेद चादर बिछ गई है। दूसरी जगहों पर बारिश की हल्की बौछारें गिर रही हैं। बर्फबारी शुरू होने से शिमला में ठंड भी काफी बढ़ गई है। ऊपरी शिमला कुफरी, नारकंडा, खड़ा पत्थर, चौपाल, रोहडू, चांशल, नारकंडा सहित तमाम ऊंचाई वाले क्षेत्रों में रुक-रुक कर बर्फबारी हो रही है।

आवाजाही बर्फबारी से फिसलन बढ़ने से प्रभावित | Snowfall

इसके अलावा चंबा, कुल्लू, लाहौल-स्पीति, मंडी और किन्नौर में बर्फबारी से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। ताजा बर्फबारी से प्रदेश में तीन नेशनल हाईवे समेत 200 सड़कें अवरुद्ध हो गई हैं। 487 बिजली ट्रांसफार्मर ठप हैं। कई क्षेत्रों में ब्लैकआउट छा गया है। राजधानी शिमला की सबसे ऊंची चोटी जाखू में शुक्रवार तड़के सीजन की पहली बर्फबारी हुई है। छोटे वाहनों की आवाजाही बर्फबारी से फिसलन बढ़ने से प्रभावित हुई है। राजधानी शिमला में सीजन की पहली बर्फबारी को देखने के लिए सैलानियों का सैलाब उमड़ आया है।

हिमपात का अलर्ट | Snowfall

शहर के होटलों में बुकिंग बढ़ गई है। कारोबार में भी इजाफा हुआ है। राजधानी शिमला के ऊपरी इलाकों में बर्फबारी को लेकर पुलिस प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है। पुलिस ने वाहन चालकों को हिदायत दी है कि बर्फबारी के बाद नारकंडा-बाघी-खदराला सड़क की स्थिति फिसलन भरी है। वेस्टर्न डिस्टरबेंस एक्टिव होने के बाद अगले 5 दिन मौसम खराब रहेगा। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक सुरेंद्र पाल ने बताया कि किन्नौर, लाहौल स्पीति और कुल्लू जिले में अधिक ऊंचाई वाले कुछेक क्षेत्रों में भारी हिमपात का अलर्ट जारी किया गया है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here