राशन की थैलियोंं पर पीएम, सीएम की फोटो देख किसानों ने काटा बवाल

0
338
Pradhan Mantri Garib Kalyan Anna Yojana

रोष। थैलियों को किया आग के हवाले, कहा: राशन से नहीं फोटो लगे होने से एतराज

सच कहूँ/राजू
ओढां। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत बुधवार को राशन डिपुओं पर उपभोक्ताओं को राशन वितरित किया गया। वितरण कार्य के दौरान किसानों ने गांव चोरमार, थिराज, झीड़ी व रोड़ी में रोष प्रदर्शन करते हुए बवाल काटा। सूचना के बाद पुलिस प्रशासन ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को नियंत्रण में किया। इस दौरान किसानों ने इस योजना को एक राजनीतिक ढकोसला बताते हुए राशन की खाली थैलियों को आग के हवाले कर दिया। उनका कहना था कि सरकार गरीबों को राशन दे इससे उन्हें कोई एतराज नहीं है, लेकिन राशन के थैलियों पर प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री व उप-मुख्यमंत्री की फोटो लगाकर राजनीतिक स्टंट खेलकर पार्टी का प्रचार किया जा रहा है।

सूचना पाकर ओढां थाना प्रभारी काशीराम बैनीवाल ने पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचकर किसानों को समझाया। किसानों ने राशन लेकर जा रहे लोगों से फोटो लगी थैलियां लेकर उन्हें दूसरे थैले दे दिए। भारतीय किसान यूनियन चढूनी के कार्यकारिणी सदस्य गुरमीत सिंह रूहल ने कहा कि सरकार एक तरफ तो उपभोक्ताओं के राशन में कटोती कर रही है और दूसरी तरफ राशन की थैलियों पर फोटो छपवाकर राजनीति चमकाई जा रही है। उन्होंने रोष व्यक्त करते हुुए कहा कि सरकार जितना खर्च अपनी वाहवाही पर कर रही है अगर उतना खर्च किसान-मजदूर के हित में किया जाता तो उसका कुछ लाभ भी होता।

अभी तक नहीं आई कोई लिखित शिकायत: थाना प्रभारी

थाना प्रभारी काशीराम ने बताया कि डिपो संचालक की ओर से अभी तक कोई लिखित शिकायत नहीं आई है। वहीं गांव नुहियांवाली मेंं डिपो पर भाजपा कार्यकर्ताओं में निवर्तमान सरपंच बाबू राम गेदर, लीलाधर जोशी व सुरजभान नेहरा की उपस्थिति में राशन वितरण हुआ। उधर गांव थिराज, झीड़ी व रोड़ी मेंं भी किसानों द्वारा रोष प्रदर्शन कर विरोध जताया गया। थिराज में राशन वितरण के लिए टेंट भी लगाया गया था। इस दौरान कुछ भाजपा-जजपा कार्यकर्ता भी पहुंचे हुए थे। इसकी सूचना किसानों को लगी तो उन्होंने मौके पर पहुुंचकर विरोध जताते हुए नारेबाजी शुरू कर दी। किसानों का गर्म मिजाज देखकर कार्यकर्ताओं ने वहां से खिसकने में ही गनीमत समझी। जिसके बाद किसानों ने फोटो लगी थैलियां ले ली। वहीं रोड़ी में एक डिपो से किसानों ने फोटो लगी थैलियां उठा ली तो वहीं झीड़ी में थैलियों को आग के हवाले किया गया। इस दौरान पुलिस ने तीनों जगहों पर स्थिति संभाली।

‘‘इस विषय में किसी डिपो संचालक की ओर से अभी तक कोई शिकायत नहीं आई है। अगर कोई शिकायत आती है तो कार्रवाई की जाएगी।
-सुधीर कुमार, एसएचओ (रोड़ी)।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।