सैनिक की पत्नी ने बिस्तर में लगाई आग, बाल-बाल बचा

Crime

सैनिक की शिकायत पर पुलिस ने महिला के खिलाफ हत्या प्रयास का किया मुकदमा दर्ज

भूना (सच कहूँ न्यूज)। गांव चौबारा निवासी एक आर्मी जवान ने अपनी ही पत्नी के खिलाफ पुलिस थाना में शिकायत देकर उसे जिंदा जलाकर मारने का आरोप लगाया है। सैनिक ने बताया कि इस दौरान वह झुलस भी गया। पुलिस ने आर्मी जवान की शिकायत पर आरोपी पत्नी के खिलाफ हत्या प्रयास व नुकसान पहुंचाने तथा जान से मारने की धमकी देने की आईपीसी की धारा के तहत मुकदमा दर्ज करके पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें:– संदीप को तुरंत प्रभाव से बर्खास्त करे सरकार : माजरा खाप

जबकि 3 जनवरी को सैनिक के ही 7 वर्षीय मासूम बेटे की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत को लेकर भी उन्होंने अब मासूम की हत्या का आरोप लगाया है। हालांकि पुलिस ने बच्चे का अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में पोस्टमार्टम करवाकर विसरा रिपोर्ट हिसार भेजी हुई है। परंतु पुलिस के पास अभी पोस्टमार्टम व विसरा रिपोर्ट नहीं आई है। पुलिस ने मृतक बच्चे की मौत को लेकर सैनिक के छोटे भाई के बयान पर 174 की कार्रवाई हुई थी।

हंसता खेलता मासूम बच्चा कैसे मर गया जांच का विषय

गांव चौबारा निवासी सैनिक कृष्ण ने बताया कि उसका 7 वर्षीय मासूम बेटा गोरखपुर में एक प्राइवेट स्कूल में दूसरी कक्षा का विद्यार्थी था। लेकिन घटना से कुछ देर पहले वह हंसता खेलता हुआ आंगन में मस्ती कर रहा था। परंतु अचानक उसकी तबीयत खराब हो गई है पूरा शरीर नीला पड़ गया। मगर इलाज के दौरान संदिग्ध परिस्थितियों में उसकी मौत हो गई। सैनिक ने बताया कि उन्होंने भाई को बच्चे का पोस्टमार्टम करवाने के लिए कह दिया था। इसलिए अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में पोस्टमार्टम कार्रवाई हुई थी। हालांकि अभी तक पोस्टमार्टम एवं विसरा रिपोर्ट पुलिस के पास नहीं पहुंची है। क्योंकि रिपोर्ट आने के बाद ही मासूम बच्चे की मौत का राज खुल पाएगा।

सैनिक ने पत्नी पर लगाए आरोप

गांव चौबारा निवासी आर्मी में सैनिक कृष्ण कुमार ने पुलिस शिकायत में बताया कि उसकी पोस्टिंग नासिक में है और 3 जनवरी को उसके 7 वर्षीय बेटे की मौत की सूचना मिलने के बाद वह अपने घर आया है। क्योंकि उन्हें 3 जनवरी को उसके भाई संदीप ने फोन पर सूचना दी थी कि आपके बेटे हार्दिक की हालत खराब हो गई है और थोड़ी देर बाद में सूचना मिली कि उसकी मौत हो गई। जिसको लेकर वह तुरंत छुट्टी लेकर घर पहुंचा। क्योंकि उसके मासूम बेटे की सामान्य मौत नहीं हुई।

उन्होंने बताया कि 13 जनवरी को उसकी पत्नी ने खाने में पता नहीं क्या खिला दिया, जिससे उसे गहरी नींद आ गई थी। लेकिन जब सुबह करीब 5 बजे उसकी आंखें खुली तो बिस्तर में आग लगी हुई थी और वह बचाव के लिए शोर मचाने लगा। मगर इसी दौरान परिजनों ने मौके पर पहुंचकर उसे बाहर निकाला और बिस्तर पर लगी हुई आग को काबू किया। आगजनी की घटना में उसका दाहिना पैर जल गया। उन्होंने पुलिस शिकायत में अपनी ही पत्नी पर बिस्तर में तेल डालकर आग लगाकर उसे मारने का प्रयास था। पुलिस ने सैनिक की शिकायत पर आरोपी महिला के खिलाफ धारा 436, 307, 506 आईपीसी के तहत अभियोग अंकित किया है।

क्या कहते हैं थानाध्यक्ष

इस संबंध में थानाध्यक्ष अनूप सिंह ने बताया कि चौबारा निवासी कृष्ण की शिकायत पर तुरंत संज्ञान लिया गया है और आरोपी महिला के खिलाफ धारा 436, 307, 506 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here