वजन कम करने से लेकर डायबिटीज तक में कारगर है सूर्य नमस्कार: मंजू धानुका

0
227
Manju Dhanuka sachkahoon

सच कहूँ/सुभाष, ऐलनाबाद। शहर के डीएवी पब्लिक स्कूल में योग शिक्षिका मंजू धानुका द्वारा चलाई जा रही नियमित योग कक्षा में बताया कि सूर्य नमस्कार के अभ्यास के दौरान पेट के अंगों में खिंचाव आता है। जिससे पाचन तंत्र दुरुस्त रहता है। वजन घटाने के साथ-साथ स्वास्थ्य संबंधी कई समस्याओं को दूर करता है। सूर्य नमस्कार आज की तनाव भरी जिंदगी और फिजिकल एक्टिविटी की कमी के कारण शरीर बीमारियों का घर बनता जा रहा है। खराब लाइफस्टाइल की वजह से लोग बढ़ते वजन और डायबिटीज की समस्याओं से जूझ रहे हैं। हालांकि इन सभी बीमारियों का छुटकारा दिलाने में सूर्य नमस्कार बेहद कारगर है।

सूर्य नमस्कार को अपनी दिनचर्या में शामिल कर लिया जाए तो यह जिंदगी में सकारात्मक ऊर्जा का संचार करता है। नियमित तौर पर सूर्य नमस्कार के अभ्यास से व्यक्ति का शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य मजबूत रहता है। पेट की चर्बी भी खत्म होती है। साथ ही पेट की मांसपेशियां भी मजबूत होती है। जिन महिलाओं को अनियमित पीरियड की समस्याओं की प्रॉब्लम है, उन्हें भी नियमित तौर पर सूर्य नमस्कार करना चाहिए। यह समस्या दूर हो सकती है। साथ ही प्रसव के दौरान दर्द कम होता है। सूर्य नमस्कार गर्भवती महिलाओं को तीसरे महीने के बाद नहीं करना चाहिए। जिसे रीड, हर्निया की प्रॉब्लम है, उन्हें योग शिक्षक की मौजूदगी में सूर्य नमस्कार का अभ्यास करना चाहिए।

योग कक्षा में खेल प्रतियोगिताएं भी रखी गई

सभी योग साधकों ने योग प्राणायाम के बाद खेलों का आनंद लिया। योग कक्षा में वेद ज्योति गुप्ता, संजय गर्ग,अजय मेहता, भीम कांसरिया, जगदीश बंसल, संजय धानुका, राजकुमार पारीक, आदित्य, रेखा मित्तल, रूपा बंसल, सुनीता, सरोज सोनी, रेनू वर्मा, रेखा, निशा कांसरिया, सुमन खट्टर, सोनू मित्तल, पूजा सिमरन मक्कड़ ,अंजलि धानुका, शकुंतला टांटिया आदि बहुत से लोगों ने भाग लिया।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramlink din , YouTube  पर फॉलो करें।