पंजाब में खींचतान जारी : सिद्धू का ‘पावर शो’, 62 विधायकों संग दरबार साहिब में टेका माथा

0
170

अमृतसर (सच कहूँ न्यूज)। पंजाब कांग्रेस में मचे घमासान के बीच पार्टी के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने बुधवार को 62 विधायकों सहित श्री दरबार साहिब में माथा टेका। इससे पूर्व उन्होंने अपने निवास पर राज्य के कैबिनेट मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा, मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा के अलावा बड़ी संख्या में विधायकों के साथ बैठक कर राज्य की राजनीति पर चर्चा की। दो बसों में आए करीब 62 से अधिक विधायक इस बैठक में शामिल हुए। सुबह सिद्धू की कोठी पर पहुंचे विधायकों में हरमिंदर गिल, सुनील दत्ती, सुरजीत धीमान, राजा बड़िंग, सुखजीत रंधावा, हरजोत कमाल, दविंदर घुबाया, प्रीतम कोटभाई, परमिंदर पिंकी, बरिंदरजीत पहरा, सुखविंदर डैनी, तृप्त राजिंदर बाजवा, अंगद सैनी, शेर सिंह घुबाया, संगत गिलजियां, परगट सिंह आदि शामिल हैं।

बैठक के बाद पंजाब के सहकारिता एवं जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि जो भी नेता, मंत्री और विधायक पार्टी हाईकमान का आदेश नहीं मानता, तो यह सीधे तौर पर अनुशासनहीनता है। उन्होंने कहा कि यदि कैप्टन अमरिन्दर सिंह माफी मंगवाना चाहते थे तो सिद्धू के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बनने से पहले अपनी बात कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी के समक्ष रखते। प्रताप सिंह बाजवा जब प्रदेश पार्टी अध्यक्ष बने थे, तब वह कैप्टन के साथ थे, लेकिन हाईकमान के फैसले के बाद बाजवा के विरोधी होने के बावजूद हमने अपने क्षेत्र में उनकी रैली करवाई थी। हाईकमान का फैसला सर्वमान्य है। इसके बाद सिद्धू हरमंदिर साहिब में माथा टेकने पहुंचे। इस दौरान उनके समर्थन में हजारों लोग जुटे।

अमरिंदर समर्थक नहीं दे रहे हैं भाव: राज्य सरकार के मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा ने नवनियुक्त प्रदेश कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के साथ अपने मुद्दों को हल करने तक सिद्धू के साथ किसी भी तरह की निजी बैठक करने से इनकार किया है। मोहिंद्रा ने एक बयान में कहा कि मैं उनसे (सिद्धू) तब तक नहीं मिलूंगा जब तक कि वह मुख्यमंत्री से मिलकर उनके साथ अपने मुद्दों को सुलझा नहीं लेते।

इससे पहले मंगलवार को सिद्धू ने दिन भर कांग्रेसी मंत्रियों, विधायकों और सीनियर नेताओं के साथ बैठक की थी। इससे पहले पंजाब प्रदेश कांग्रेस प्रमुख बनने के बाद अमृतसर पहुंचने पर सिद्धू का जोरदार स्वागत किया गया था। नवांशहर में विधायक कुलजीत सिंह नागरा, राजकुमार वेरका, अंगद सैनी, सुखपाल भुल्लर, इंद्रबीर सिंह बोलारिया और गुरप्रीत सिंह भी सिद्धू के साथ थे।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।