जंडवाला सिखान हत्याकांड में तीसरा आरोपी धरा

Sri Ganganagar News

गांव जंडवाला सिखान में पीट-पीटकर युवक की हत्या करने का मामला

संगरिया (सच कहूँ न्यूज)। गांव जंडवाला सिखान में पीट-पीटकर युवक की हत्या करने के मामले में संगरिया थाना पुलिस ने शुक्रवार रात्रि को तीसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया। इससे पहले पुलिस ने शुक्रवार की दोपहर को इस मामले में दो मुख्य आरोपियों को गिरफ्तार किया था। Sangaria News

संगरिया पुलिस थाना प्रभारी रामचन्द्र कस्वां ने बताया कि हत्या प्रकरण में तीसरे आरोपी जितेन्द्रसिंह उर्फ काकासिंह (41) पुत्र शिवराज सिंह जटसिख निवासी वार्ड 8, जंडवाला सिखान को गिरफ्तार किया गया है। इससे पूर्व इस मामले में जसकरण सिंह (55) पुत्र शीतल सिंह जटसिख निवासी वार्ड 3, जंडवाला सिखान व हिम्मत सिंह (35) पुत्र छिन्दासिंह जटसिख निवासी वार्ड 8, तीन एएमपी की ढाणी संतपुरा को गिरफ्तार किया गया था। तीनों आरोपियों से पूछताछ कर वारदात में इस्तेमाल लोहे की रॉड, पाइप आदि की बरामदगी के प्रयास किए जा रहे हैं। नामजद व अन्य आरोपियों की संलिप्तता का पता लगाकर उनकी गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। Sangaria News

डीएसपी सरवन कुमार ने बताया कि आवश्यक जानकारी लेकर प्राप्त दिशा-निर्देश से पुलिस टीम बाकी अपराधियों की टोह लेने में जुटी हुई है। जल्द ही दो अन्य आरोपियों को पुलिस अपनी गिरफ्त में ले लेगी। गौरतलब है कि शुक्रवार को कुलदीप सिंह पुत्र सुखदेव सिंह जटसिख निवासी जंडवाला सिखान ने लिखित रिपोर्ट पेश कर बताया कि उसका भाई संदीप सिंह दत्तक पुत्र मलकीत सिंह जटसिख निवासी वार्ड 3, जंडवाला सिखान सुबह करीब 11 बजे गांव के ही सोमासिंह पुत्र नत्थासिंह जटसिख के साथ बाइक पर बैठकर घर से जोहड़ के पास गया था।

इतने में जसकरण सिंह, बलकरण सिंह पुत्र शीतल सिंह व रमनदीप सिंह पुत्र जसकरण सिंह जटसिख निवासी जंडवाला सिखान, हिम्मता सिंह पुत्र छिन्दा सिंह जटसिख निवासी रोही सन्तपुरा व जितेन्द्र सिंह उर्फ काका सिंह पुत्र शिवराज सिंह जटसिख निवासी ढाणी चक 12 एएमपी जंडवाला सिखान ने उसके भाई सन्दीप सिंह व सोमासिंह को बाइक पर जाते हुए अपनी कार से टक्कर मारकर गिरा दिया। इसके बाद कार से उतरकर लोहे की रॉड व लोहे की पाइपों से बुरी तरह से वार किए। आसपास के लोगों के आने पर यह सभी अपनी कार में सवार होकर भाग गए। उसके भाई को कार के जरिए संगरिया अस्पताल लेकर गए। Sangaria News

उसके भाई सन्दीप को डॉक्टरों ने गम्भीर चोटों के कारण हनुमानगढ़ रेफर कर दिया। वह सन्दीप को हनुमानगढ़ टाउन के राजकीय जिला चिकित्सालय लेकर गया। वहां पर स्थिति गम्भीर होने के कारण सन्दीप को बीकानेर रेफर कर दिया। श्रीगंगानगर ले जाते समय रास्ते में ही सन्दीप ने गम्भीर चोटों के कारण दम तोड़ दिया। सोमासिंह का हनुमानगढ़ के राजकीय जिला चिकित्सालय में इलाज चल रहा है। पुलिस ने हत्या के आरोप में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की।

Uttarakhand: उत्तराखंड में अवैध मदरसा तोड़फोड़ को लेकर व्यापक हिंसा, 5 मरे, 5,000 के खिलाफ मामला दर्ज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here