गर्भवती महिलाओं का किया टीकाकरण व बताया मां के दूध का महत्व

Abohar News
गर्भवती महिलाओं का किया टीकाकरण व बताया मां के दूध का महत्व

अबोहर (सच कहूँ न्यूज)। स्वास्थ्य विभाग के निर्देशों पर सिविल अस्पताल (Civil Hospital) के पीपी यूनिट की ओर से हर बुधवार और शुक्रवार को गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों के लिए टीकाकरण अभियान चलाया जाता है, जिसके तहत आज दर्जनों महिलाआें और बच्चों का टीकाकरण किया गया। इस मौके पर मौजूद यूनिट के सुपरवाईजर भारत सेठी ने बताया कि जिला सिविल सर्जन डॉ. कविता के निर्देशों और एसएमओ डॉ. नीरजा गुप्ता के नेतृत्व में पीपी यूनिट अबोहर में नवजात बच्चों को बीसीजी के इंजैक्शन लगाने के साथ ही मां के दूध का महत्व बताया गया। Abohar News

इस मौके पर भारत सेठी व लखविन्द्र कौर ने बताया कि नवजात बच्चे को बीसीजी के टीके लगवाने से बच्चे को टीबी जैसी भयानक बीमारी से बचाव होता है। इस टीके के लगवाने से बच्चे के शरीर में टीबी बीमारी के खिलाफ लड़ने के लिए ऐंटीबाडीज तैयार हो जाते हैं, जिससे बच्चा बीमार नहीं होता। हर बुधवार और शुक्रवार बच्चों को अस्पताल में नि:शुल्क टीके लगाए जाते हैं, वहीं महिलाआें को मां के दूध का महत्व भी बताया गया। उन्होंने उपस्थित महिलाआें को बताया कि मां का दूध बच्चे के लिए सर्वोत्तम खुराक है। आपके बच्चे को रोग प्रतिरोधक क्षमता और शक्ति भी प्रदान करता है। छह माह तक केवल बच्चे को मां का दूध ही पिलाना चाहिए। Abohar News

वास्तव में, स्तनपान कराने का प्रारंभिक चरण मां और बच्चे दोनों के लिए एक सीखने की प्रक्रिया है। यह बच्चे को मां से भावनात्मक रूप से भी जोड़ती है। मां के पहले दूध में वो सब कुछ है जो एक बच्चे को अपनी पहली खुराक में चाहिए होता है। इसलिए अपने छोटे बच्चों को मां का दूध अवश्य पिलाएं। Abohar News

यह भी पढ़ें:– Accident: पशुओं से टकराए तीन बाईक सवार, गंभीर घायल, राहगीरों ने पहुंचाया अस्पताल