Vegetable Prices: लाल हुआ टमाटर, बिक रहा है इतने रुपए प्रति किलो, प्याज ने भी रुलाया, जाने सब्जियों के भाव

Vegetable Prices
Vegetable Prices: लाल हुआ टमाटर, बिक रहा है इतने रुपए प्रति किलो, प्याज ने भी रुलाया, जाने सब्जियों के भाव

बारिश ने बिगाड़ा जायका, थाली से कम हुई तरकारी..

रेवाड़ी (सच कहूँ/महेंद्र भारती)। Vegetable Prices Increased: रेवाड़ी में बारिश के बाद सब्जियों के दाम बढ़ गए हैं। एक सप्ताह पहले तक 20 रुपये किलो बिक रहे टमाटर के दाम अब 80-90 रुपये प्रति किलो हो गए हैं। इतना ही नहीं, प्याज, आलू, भिंडी, गोभी और अन्य सब्जियों के दामों में भी 50 फीसदी तक का इजाफा हुआ है। इसके अलावा फलों के दामों में भी भारी उछाल आया है। अगर बात टमाटर की करें तो टमाटर व प्याज तरकारी के साथ-साथ सलाद से गायब होने लगा है। टमाटर इस समय 70 से 80 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बिक रहा है। Vegetable Prices

वही प्याज की बात करें तो एक सप्ताह पूर्व 20 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बिकने वाली प्याज अब 50 से 60 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बिक रही है। तरकारी में खुशबू के लिए डालने वाला धनिया भी 200 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बिक रहा है। सब्जियों के बढ़ते दाम के कारण थाली से तरकारी की कटोरिया कम होने लगी हैं। रेवाड़ी में प्याज व टमाटर की आवक महाराष्ट्र से होती है, लेकिन बरसात के कारण आवक अब कम हो रही है। हर वर्ष बरसात के मौसम में सब्जियों के दाम बढ़ना अब आम बात हो गई है। Vegetable Prices

मांग व आपूर्ति के बढ़ते अंतर के कारण सब्जियों के दामों में उछाल देखने को मिल रहा है। सब्जियों का राजा आलू भी आंखें तरेर रहा है। एक सप्ताह पूर्व 10 रुपए प्रति किलो के हिसाब से बिकने वाला आलू अब 35 से 40 रुपए के हिसाब से बिक रहा है। इसी तरह गोभी, भिंडी, लौकी, तुरई, मटर, बीन्स जैसी अन्य सब्जियों के दामों में भी काफी इजाफा हुआ है। एक सप्ताह में सब्जियों के दाम 50 फीसदी तक बढ़े हैं।

सब्जी        पहले          अब   | Vegetable Prices

  • टमाटर         30             80-90
  • प्याज          30             60-70
  • आलू           15             30-35
  • तौरी           20             50-55
  • भिंडी          40              70-80
  • टिंडा          40              50-60
  • पेठा( सीताफल )20-         40-50
  • खीरा         20              40-50
  • मिर्च         60              80-100
  • धनिया     120            150-200
  • करेला       30               40-45
  • बैंगन       20-30           40-45
  • शिमला मिर्च 50              60-80

यह भी पढ़ें:– पर्यावरण संरक्षण की दिशा में गुजरात की साध-संगत का कदम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here