Agriculture: जम्मू-कश्मीर व हिमाचल की बर्फबारी के पंजाब, हरियाणा और राजस्थान पर क्या होगा असर, किसान जरूर जाने मौसम का हाल

Agriculture
Snowfall: जम्मू-कश्मीर व हिमाचल की बर्फबारी के पंजाब, हरियाणा और राजस्थान पर क्या होगा असर, किसान जरूर जाने मौसम का हाल

हिसार (सच कहूँ/संदीप सिंहमार)। Agriculture: तीन पश्चिमी विक्षोभों के एक साथ सक्रिय होने से हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, दिल्ली एनसीआर व उत्तर प्रदेश से लेकर बिहार तक हुई हल्की से मध्यम स्तर की बारिश के बाद जम्मू कश्मीर तथा हिमाचल प्रदेश में भारी बर्फबारी हो रही है। विशेष कर हिमाचल प्रदेश की बर्फबारी का असर आने वाले 5 दिनों तक हरियाणा, पंजाब व राजस्थान राज्यों पर पड़ता दिखाई देगा विशेषकर इस दौरान न्यूनतम तापमान में गिरावट व उत्तर पश्चिमी हवाएं चलने से इन राज्यों में शीत लहर का दौर एक बार फिर से आएगा। किसानों के सामने सबसे बड़ी मुसीबत शीत लहर के दौरान अपनी फसलों को बचाना होगा। Agriculture

1 फरवरी से लेकर अब तक हुई बारिश से किसानों को फायदा हुआ है। लेकिन यदि अब शीत लहर चलती है तो इन दिनों में विशेष कर सरसों की फसल को नुकसान पहुंच सकता है। इसके अलावा आलू सहित सब्जी की सभी फसलों पर भी असर देखने को मिलेगा,क्योंकि सब्जियों को पाले से बचाना बहुत जरूरी होता है। भारत मौसम विभाग भी हिमाचल की बर्फबारी के चलते हरियाणा,पंजाब व साथ लगते राजस्थान के जिलों में शीतलहर चलने की संभावना जताई है। इस दौरान चार से पांच डिग्री तक न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की जा सकती है। कई इलाकों में दिन का तापमान 2-3 डिग्री सेल्सियस तो रात के समय में तो तापमान शून्य डिग्री तक गिर सकता है। जिस कारण एक बार से संभावित शीत लहर आम लोगों के साथ-साथ किसानों की मुसीबत बढ़ा सकती है।

अब बारिश हुई तो बढ़ेगी परेशानी | Agriculture

इसके अलावा इन इलाकों में बारिश की भी संभावना से नकारा नहीं जा सकता।यदि बारिश हुई तो फसलों के सड़ने का भी खतरा बन सकता है। इसके अलावा बारिश के कारण किसानों को फसलों की कटाई में देरी हो सकती है। ठंड के कारण किसानों को कृषि से जुड़े कार्य करने के दौरान भी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। किसानों को भारत मौसम विभाग की एडवाइजरी के अनुसार ही अपने खेती संबंधित कार्य करने चाहिए।

यह भी पढ़ें:– खेल प्रतिभाओं को तराशने के लिए ‘बाउंस ऑफ जॉय’ प्रोग्राम लॉन्च

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here