कैथल में आखिर क्यों लगाई गई धारा 144 , जानिए वजह!

Kaithal News
कैथल में आखिर क्यों लगाई गई धारा 144 , जानिए वजह!

कैथल (सच कहूं/कुलदीप नैन)। जिलाधीश प्रशांत पंवार ने बताया कि विभिन्न किसान संगठनों (संयुक्त किसान मोर्चा एवं गैर राजनैतिक संगठन) द्वारा अपनी विभिन्न मांगों के संबंध में 13 फरवरी 2024 को दिल्ली कूच का कार्यक्रम प्रस्तावित है। सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए हरियाणा सरकार और गृह विभाग द्वारा धारा 144 के आदेश पारित किए गए हैं। दिल्ली कूच के प्रस्तावित कार्यक्रम के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए विभिन्न नाकों पर प्रशासनिक अधिकारियों व डयूटी मैजिस्ट्रेटों की डयूटी लगाई गई है। अतिरिक्त उपायुक्त को ओवर ऑल इंचार्ज बनाया गया है। Kaithal News

किसान संगठनों द्वारा दिल्ली कूच कार्यक्रम को लेकर कैथल जिले में धारा 144 लागू

कानून व्यवस्था के संबंध में पुलिस लाइन में एसपी उपासना की अध्यक्षता में एक मीटिंग का आयोजन किया गया। मीटिंग में डीसीपी गोहाना रविंद्र तोमर, सभी डीएसपी, बाहर से आई कंपनियों के इंचार्ज, सभी एसएचओ व चौकी प्रभारियों द्वारा हिस्सा लिया गया। इस दौरान एसपी उपासना द्वारा कानून-व्यवस्था कायम रखने के लिए अत्यधिक सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए। एसपी ने पुलिस अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे निष्ठा पूर्वक कर्तव्यापालना करते हुए सुदृढ कानून-व्यवस्था कायम रखें।

पुलिस का प्रयास रहेगा कि जिला में किसी भी रूप से कानून व्यवस्था प्रभावित न हो इसके लिए समुचित प्रबंध सुनिश्चित किया गया हैं। विभिन्न स्थानों पर पर्याप्त पुलिस बल सहित प्रशासन की ओर से ड्यूटी मजिस्ट्रेट भी नियुक्त किए हैं जो कि शांति व कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए स्थिति पर समुचित नजर रखेंगे। आंदोलन की आड़ में उपद्रव करने वाले संदिग्ध वाहनों तथा असामाजिक तत्वों पर पुलिस द्वारा निरंतर पैनी नजर रखी जाएगी।

डयूटी के दौरान पुलिस कर्मचारियों व अधिकारियों को हेलमेट, बॉडी प्रोटेक्टर, कैन-शिल्ड सहित अन्य एंटी राइट इक्विपमेंट से लैस रहने के निर्देश दिए गये है। एसपी ने कहा कि कैथल पुलिस द्वारा व्यापक प्रबंधन किए गए है, जिला कैथल में 10 पुलिस कंपनियां तैनात की गई है जिनमें से 5 पुलिस कंपनी बाहर से बुलाई गई है। किसी भी सूरत में किसी को कानून व्यवस्था हाथ में नहीं लेने दी जाएगी। कानून व्यवस्था खराब करने वालों के नियमानुसार कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। Kaithal News

सोशल मीडिया पर भी पैनी नजर

एसपी उपासना ने कहा कि आंदोलन की आड़ में कुछ असमाजिक तत्व अपना स्वार्थ साधने के लिए अफवाहों के माध्यम शांति भंग करने का भी प्रयास कर सकते हैं। पुलिस की सोशल मीडिया पर भी पैनी नजर है। किसी भी प्रकार की अफवाह तथा भ्रांति फैलाने वाली, भडक़ाउ, उकसाने वाली व अराजकता फैलाने वाली पोस्ट शेयर या फोरवर्ड की जाती है तो कानून अनुसार कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। एसपी ने कहा कि आमजन अफवाहों पर ध्यान न दें।

विभिन्न नाकों पर प्रशासनिक अधिकारियों व डयूटी मैजिस्ट्रेटों की लगाई गई डयूटी

जिलाधीश प्रशांत पंवार ने बताया कि नाका धनौरी, बरटा, संगतपुरा में प्रशासनिक अधिकारी एसडीएम कैथल,डयूटी इंचार्ज डीएसपी उमेद सिंह, डयूटी मैजिस्ट्रेट डीडीपीओ कंवर दमन, नायब तहसीलदार गौरव शर्मा, कार्यकारी अभियंता प्रशांत कुमार की डयूटी लगाई गई है। नाका दाबन खेड़ी, कसौर, खरकां, उरलाना, रत्ताखेड़ा, सरोला, माजरी, भाटिया में प्रशासनिक अधिकारी एसडीएम गुहला व शुगर मिल एमडी, डयूटी इंचार्ज डीएसपी ललित कुमार, डयूटी मैजिस्ट्रेट तहसीलदार गुहला अनिल बिढ़ान, नायब तहसीलदार आशीष, तहसीलदार कलायत दिनेश कुमार, कार्यकारी अभियंता अरविंद रोहिला की डयूटी रहेगी। नाका टटियाणा, सुगलपुर मैंगना रोड, बदसूई, सिहाली / पपराला में प्रशासनिक अधिकारी डीआरओ रणविजय सुल्तानिया, डयूटी इंचार्ज डीएसपी कुलदीप सिंह, डयूटी मैजिस्ट्रेट नायब तहसीलदार सुनील कुमार, बीडीपीओ गुहला राजवीर सिंह, कार्यकारी अभियंता वरूण कंसल की डयूटी रहेगी। Kaithal News

अच्छे राजनेता के साथ-साथ अच्छे खिलाड़ी भी हैं सुखबीर सिंह मलिक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here