कुश्ती : बजरंग, दीपक, साक्षी के स्वर्ण सहित भारत ने जीते छह पदक

Commonwealth Games

बर्मिंघम (एजेंसी)। भारत की स्वर्ण पदक की सबसे बड़ी उम्मीद पहलवान बजरंग पूनिया ( 65 किग्रा) ने राष्ट्रमंडल खेल 2022 में शुक्रवार को शानदार प्रदर्शन के साथ कनाडा के लेकलन मेकनील को मात देकर सोना जीत लिया। दीपक पुनिया (86) और महिला पहलवान साक्षी मलिक (62) ने भी स्वर्ण जीता जबकि अंशु मलिक (57) को रजत से संतोष करना पड़ा। दिव्या काकरान (महिला 68) और मोहित ग्रेवाल (पुरुष 125) को कांस्य पदक प्राप्त हुआ। गोल्डकोस्ट 2018 खेलों के स्वर्ण पदक और टोक्यो ओलम्पिक के कांस्य विजेता विजेता बजरंग ने पुरुष 65 किग्रा भार वर्ग के एकतरफा फाइनल मुकाबले में कनाडा के लेकलन मेकनील को 9-2 से मात दी। टोक्यो ओलंपिक 2020 के कांस्य पदक विजेता बजरंग ने मैच की शुरूआत से ही मेकनील पर दबाव बनाना शुरू कर दिया, जबकि मेकनील उनके सामने बेअसर नजर आये।

साक्षी मलिक ने 62 किग्रा में स्वर्ण पदक जीता

2016 रियो ओलम्पिक की कांस्य पदक विजेता साक्षी मलिक ने 62 किग्रा में स्वर्ण पदक हासिल किया। साक्षी मलिक ने राष्ट्रमंडल खेल 2022 में कनाडा की एना गोंजालेज के खिलाफ फाइनल में शानदार वापसी करते हुए स्वर्ण पदक हासिल किया। साक्षी ने गोंजालेज को चित्त (विन बाई फॉल) करके स्वर्ण पदक जीता। साक्षी पहले हाफ के अंत तक मैच में 4-0 से पीछे चल रही थीं, लेकिन दूसरे हाफ में उन्होंने शानदार वापसी की। साक्षी ने पहले गोंजालेज को दो बार टेकडाउन करके मैच को 4-4 की बराबरी पर पहुंचाया, और फिर अपनी प्रतिद्वंदी को चित्त करते हुए उन्होंने राष्ट्रमंडल खेलों में अपना पहला स्वर्ण प्राप्त किया।

नायब सूबेदार दीपक पुनिया ने पुरुष 86 किग्रा फाइनल में पाकिस्तान के मोहम्मद इनाम को हराकर स्वर्ण पदक हासिल किया। विश्व कुश्ती चैंपियनशिप 2019 के सिल्वर मेडलिस्ट दीपक ने इनाम को 3-0 से मात दी। दीपक मैच के शुरूआती पलों में ही दिल्ली 2010 खेलों के स्वर्ण पदक विजेता इनाम पर दबाव बनाने में कामयाब रहे। दूसरी ओर, दीपक से 10 साल बड़े इनाम भारतीय पहलवान की फुर्ती की बराबरी नहीं कर पाये और एक भी पॉइंट हासिल करने में असफल रहे।

दिल्ली स्टेट चैंपियनशिप में 60 पदक जीत चुकी है दिव्या

इस जीत के साथ भारत ने कुश्ती में चार और बर्मिंघम 2022 में 24 पदक जीत लिये हैं। इससे पहले, साक्षी मालिक (महिला 62 किग्रा ) और बजरंग पुनिया (पुरुष 65 किग्रा) ने स्वर्ण जीते जबकि अंशु (महिला 57 किग्रा) के खाते में रजत गया। युवा पहलवान अंशु मलिक को महिला 57 किग्रा फाइनल में नाइजीरिया की ओडुनायो अडेकुरोये के हाथों हारकर रजत पदक से संतोष करना पड़ा। राष्ट्रमंडल खेलों में दो बार की स्वर्ण पदक विजेता ओडुनायो ने अंशु को 6-4 से मात दी। अपनी इस हार के बाद अंशु रो पड़ीं। दिव्या काकरान ने राष्ट्रमंडल खेल 2022 में शुक्रवार को टोंगा की टाइगर लिली लेमाली को मात देकर कांस्य पदक जीता।

दिव्या ने कांस्य पदक मैच में टाइगर लिली को हराने के लिये सिर्फ 26 सेकंड का समय लिया। दिल्ली स्टेट चैंपियनशिप में 60 पदक जीत चुकी दिव्या ने मैच शुरू होते ही टाइगर लिली को अपनी गिरफ्त में कस लिया और उन्हें चित्त (विन बाई फॉल) करके मुकाबला जीता। मोहित ग्रेवाल ने 125 किग्रा के कांस्य पदक मैच में जमैका के आरोन जॉनसन को चित्त करके कांस्य पदक प्राप्त किया।भारत बर्मिंघम 2022 में अब तक 25 पदक जीत चुका है, जिसमें से छह पदक कुश्ती से आये हैं। साथ ही भारत नौ स्वर्ण पदकों के साथ पदक तालिका ों पांचवें स्थान पर आ गया है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here