खुद सीएम भगवंत मान ने छुड़ाई 300 करोड़ की 2828 एकड़ जमीन, जानें क्या है मामला

Bhagwant Mann sachkahoon
  • सिमरनजीत मान का पुत्र सहित बेटी-दामाद ने किया हुआ करोड़ों रुपए की जमीन पर कब्जा, खुद भगवंत मान ने छुड़वाई जमीन
  • पूर्व केबिनेट मंत्री गुरप्रीत कांगड़ के पुत्र हरमनदीप ने भी किया था कब्जा
  • अब तक 9053 एकड़ जमीन से खाली करवाया जा चुका है कब्जा

सच कहूँ/अश्वनी चावला
चंडीगढ़। संगरुर से लोकसभा सदस्य सिमरनजीत सिंह मान के पुत्र ईमान सिंह मान द्वारा चंडीगढ़ के समीप शिवालिक की पहाड़ियों में 125 एकड़ पंचायती जमीन पर ही कब्जा किया हुआ था। सिर्फ सिमरनजीत सिंह मान के पुत्र ही नहीं बल्कि उनकी पुत्री और दामाद द्वारा भी 28 एकड़ के करीब जमीन पर कब्जा किया हुआ था। इन अवैध कब्जेधारकों में पिछली सरकार में केबिनेट मंत्री रहे गुरप्रीत सिंह कांगड़ के पुत्र हरमनदीप सिंह भी शामिल हैं। इन सभी द्वारा चंडीगढ़ के निकट लगते मोहाली के इलाके गांव छोटी वड्डी नगर, गरीबदास मुलापुर में यह कब्जा किया हुआ था। आज इन सभी ने वड्डी पहुंच करने वाले लोगों से पंजाब सरकार द्वारा 2828 एकड़ जमीन पर कब्जा खाली करवा लिया है। सरकारी जमीन पर कब्जा लेने कोई और नहीं बल्कि खुद मुख्यमंत्री भगवंत मान और पंचायत मंत्री कुलदीप सिंह धालीवाल पहुंचे हुए थे। भगवंत मान द्वारा न सिर्फ सरकारी जमीन पर कब्जा लिया गया, बल्कि मोहाली में सैकड़ों एकड़ जमीन पर कब्जा करी बैठे बाकी रसूख वालों को चेतावनी दे दी है कि अब अगला नंबर उनका लगने वाला है। इसलिए खुद ही सरकार की जमीन को खाली करते हुए वह छोड़कर चले जाए, नहीं तो सरकार द्वारा खुद कब्जा लिया जाएगा।

भगवंत मान बोले, कार्रवाई के लिए तैयार रहें बाकी, नहीं बख्शा जाएगा किसी को

भगवंत मान ने कब्जे वाली जगह पर प्रेस कान्फ्रेंस करते हुए कहा जो जमीन आज खाली करवाई गई है, जिस पर 15 रसूख धारा ने कब्जा किया हुआ था और इस में राजनेताओं से लेकर पत्रकार तक भी शामिल हैं। भगवंत मान ने कहा कि चुनावों के समय हमने कहा था कि शिवालिक की पहाड़ियों में करोड़ों अरबों रुपए पड़े हैं तो आज से शिवालिक पहाड़ियों के पास आने का काम शुरु हो गया है। इस सरकारी जमीन का कोई भी मूल्य नहीं है परंतु फिर भी कम से कम लगाए तो 300करोड़ रुपये की जमीन ही बन रही है, इसमें लगे हुए खैर के वृक्ष ही 50 करोड़ रुपए के हैं। उन्होंने कहा कि 250 एकड़ मैदानी इलाका है और बाकी इलाका सरा ही पहाड़ी है परंतु इन राजनीतिक लोगों ने पहाड़ियों को ही नहीं बख्शा और पहाड़ों को उजाड़कर अपने फार्म हाऊस बनाने की कोशिश की है। भगवंत मान ने आगे कहा कि आने वाले दिनों में ऐसी मुहिम जारी रहेगी और किसी को भी बख्शने के मूड में सरकार नजर नहीं आ रही है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here