हमसे जुड़े

Follow us

Epaper

31.5 C
Chandigarh
More
    Home विचार सम्पादकीय

    सम्पादकीय

    Find solutions, do not create confusion

    समाधान निकले, भ्रम पैदा न हो

    दिल्ली में केन्द्र व कृष...
    India pioneer in service to humanity

    मानवता की सेवा में भारत अग्रणी

    भारत सरकार ने भूटान, माल...
    Health

    स्वास्थ्य पर केंद्रित बजट

    सरकार ने घाटे में चल रही...
    Farmers

    बातचीत पटरी पर, लेकिन दिल खोलना होगा

    लाल किले की घटना वाले आरोपियों की किसान संगठनों के खिलाफ बयानबाजी भी उनके मुख्य किसान संगठनों से अलग होने की पुष्टि करती है। किसान और सरकार दोनों पक्ष कानून व्यवस्था संबंधी जान चुके हैं।
    Health Budget

    बजट में स्वास्थ्य पर हो ज्यादा सुधार

    सर्वे के अनुसार अर्थव्यवस्था को कोरोना काल से पूर्व की स्थिति में लाने के लिए कम से कम दो साल लगेंगे लेकिन जिस प्रकार के हालात हैं, उनमें अर्थव्यवस्था को सामान्य होने में दो साल से ज्यादा भी लग जाएं तो कोई आश्चर्य की बात नहीं।

    अमन कानून कायम रखना जरूरी

    गणतंत्र दिवस का दिन प्रत्येक देशभक्त भारतीय के जीवन में बहुत गौरवशाली दिन होता है, लेकिन किसानों की ट्रैक्टर परेड़ की आड़ में कुछ उपद्रवियों ने नियम-कायदे-कानूनों को ठेंगा दिखाकर जमकर हुडदंग मचाया, संविधान प्रदत्त अभिव्यक्ति की आजादी का दुरुपयोग करके देश की छवि को विश्व में खराब करने का दुस्साहस किया।
    India-Cautious

    संपादकीय : भारत को सतर्क रहना होगा

    ऐसा लग रहा कि चीन अपनी प...
    Parliamentary Information

    खाने पर सब्सिडी के साथ अन्य खर्चों में भी हो कटौती

    संसद की कंटीन पर संसद सदस्य परोसे जाने वाले खाने से सब्सिडी हटाकर सरकार ने फिजूलखर्ची को रोका है जिसकी कि कई संसद, आम नागरिक काफी समय से मांग कर रहे थे।
    Joe Biden

    अमेरिका को गुलदस्ता बनाए बायडेन प्रशासन

    दुनिया के ताकतवर देश अमेरिका में सत्ता बदलाव हो गया है। बायडेन प्रशासन के उदारवादी होने की संभावनाएं हैं। बायडेन ने अपने प्रशासन में भारतीय मूल के लोगों को उच्च पद देकर अपनी मानववादी और आजाद सोच का सबूत दिया है।
    Security Council

    अंतर्राष्ट्रीय समितियों में अपनी स्थिति का लाभ उठाएं भारत

    तालिबान सेंक्शन कमेटी उन देशों की सूची तैयार करती है, जो तालिबान का आर्थिक रूप से समर्थन करते हैं, या उनके साथ किसी और तरह से सहयोग करते हैं।
    Why misleading propaganda in our country

    हमारे देश में ही भ्रामक प्रचार क्यों?

    ऐसा लगता है हम भारतीय दु...
    Farmers Agitation

    अन्ना अनशन की घोषणा पर किसानों की चुप्पी

    अन्ना का भ्रष्टाचार विरुद्ध आंदोलन एक विफल आंदोलन रहा है चूंकि तब केन्द्र सरकार ने उन मांगों को पूरा नहीं किया जिन्हें लेकर अनशन किया गया था।
    Cleanliness

    स्वच्छता के बिना पूंजीनिर्माण एक अभिशाप

    आमजन पीढ़ी दर पीढ़ी ये संस्कार देते थे कि पेड़-पौधों, जीवों, मिट्टी-हवा, पानी को नुक्सान नहीं पहुंचाया जाए।